Search Icon
Nav Arrow
Tailoring and Paper bag making, Zero investment business Ideas

कम निवेश, ज्यादा मुनाफा: घर से शुरू करें ये पांच व्यवसाय

अगर आप अपने घर में ही कुछ चीजों पर काम करें, तो जीरो इंवेस्टमेंट या फिर बहुत ही कम इंवेस्टमेंट में आप अपना बिज़नेस शुरू कर सकते हैं। आज हम आपको ऐसे पांच ‘Zero Investment Business Ideas’ बता रहे हैं!

Advertisement

हमारे देश में बच्चों को इंजीनियर और डॉक्टर बनने के सपने हर दिन दिखाए जाते हैं। बहुत कम लोग उनसे कहते हैं कि बड़े होकर बिज़नेस करना। ऐसा इसलिए नहीं है कि बिज़नेस आइडियाज़ नहीं हैं। इसका कारण है, बिज़नेस शुरू करने में लगने वाली लागत। अक्सर लोग यही सोचते हैं कि बिज़नेस शुरू करने के लिए आपको लाखों रुपए चाहिए। आज हम आपको ऐसे पांच ‘Zero Investment Business Ideas’ बता रहे हैं, जो बच्चों से लेकर बड़ों तक के लिए कारगर साबित हो सकते हैं।

वैसे यह भी सच है कि कुछ काम ऐसे होते हैं, जिसमें लागत कम लगती है। लेकिन अगर आपके पास हुनर है, तो आपको आगे बढ़ने से कोई रोक नहीं सकता।

अगर आप अपने घर में ही कुछ चीजों पर काम करें, तो जीरो इंवेस्टमेंट या फिर बहुत ही कम निवेश में अपना बिज़नेस शुरू कर सकते हैं। ये काम दिखने और सोचने में छोटे हो सकते हैं, लेकिन अगर सही दिशा में मेहनत की जाए तो आप इनसे लाखों का बिज़नेस खड़ा कर सकते हैं। सबसे अच्छी बात है कि जितना कम निवेश, उतना कम रिस्क। 

1. न्यूज़पेपर बैग बिज़नेस

Girls making Newspaper bags
Newspaper Bag making

गांव हो या शहर, घरों में अखबार आना आम बात हो गई है। पढ़ने के अलावा, अखबार का सबसे ज्यादा इस्तेमाल पैकेजिंग के लिए होता है। यह सस्ता, टिकाऊ और पर्यावरण के अनुकूल तरीका है। अख़बारों से तरह-तरह के लिफाफे और बैग बनाकर, बहुत से लोगों की एक स्थायी आमदनी भी हो रही है। कोचीन, केरल की रहने वाली दिव्या बताती हैं कि उन्होंने कुछ महिलाओं के साथ मिलकर, घर से पेपरबैग बनाने का काम शुरू किया था। 

महिलाएं अपने-अपने घरों से उन्हें पेपरबैग बनाकर देती थीं और वह इन बैग्स को स्थानीय दुकानदारों को बेचती थीं। उस समय एक पेपरबैग की कीमत दो रुपए हुआ करती थी। धीरे-धीरे उन्होंने अपना काम बढ़ाया और अलग-अलग ब्रांड्स के लिए भी इको फ्रेंडली बैग्स बनाने लगीं। वह कहती हैं कि कोई भी महिला, युवा इस काम को शुरू कर सकता है। आपको बस सबसे पहले यह देखना है कि आप इन पेपरबैग्स को कहां पर सप्लाई कर सकते हैं। 

वैसे तो अख़बार से बैग बनाना बहुत ही आसान है। फिर भी अगर आपको मार्गदर्शन चाहिए, तो आप यूट्यूब वीडियोज़ से सीख सकते हैं। सबसे पहले आप अपने आस-पास बाजार में दुकानदारों से संपर्क करें कि आप उन्हें अख़बार के लिफाफे या पैकिंग बैग डिलीवर कर सकते हैं। क्योंकि सभी दुकानों पर छोटे-बड़े सामान के लिए अख़बार के लिफाफों की जरूरत होती है। फिर आप अपना काम शुरू कर दें। अपने दैनिक कामों को करते हुए दिन में दो-तीन घंटे अपने इस काम को दें। 

अखबार से बैग्स के अलावा और भी बहुत कुछ बनाया जा सकता है। हर रोज कुछ नया सीखते हुए अपने बिज़नेस को बढ़ाने की कोशिश करें। 

2. कढ़ाई का बिज़नेस 

Young girl doing hand embroidery
Hand Embroidery (Source)

आजकल हाथ का काम ट्रेंड में है। हाथ की कशीदाकारी से डिज़ाइन किए हुए कपड़े, बैग या ज्वेलरी लोगों को खूब भा रही है। इसलिए अगर आपको कढ़ाई का काम करना आता है, तो आप घर बैठे अपना छोटा-मोटा व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। शुरुआत में अपने पास उपलब्ध साधनों से ही काम करें और जब थोड़ी-बहुत आय होने लगे, तो आप अपने बिज़नेस में इन्वेस्ट करना शुरू करें। पुणे के रहने वाले सौरभ देवढे खूबसूरत कशीदाकारी करके अलग-अलग प्रोडक्ट्स बनाते हैं। 

वह, इन प्रोडक्ट्स की मार्केटिंग सोशल मीडिया के जरिए लोगों के बीच कर रहे हैं। अपने हाथ के हुनर से सौरभ, आज लगभग 30 हजार रुपए तक की कमाई कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि कमाई के हिसाब से उनकी लागत बहुत ही कम रही। धीरे-धीरे उन्होंने अपना काम बढ़ाया और आज उनके बनाए प्रोडक्ट्स हजारों की कीमत पर बिकते हैं। दिलचस्प बात यह है कि कशीदाकारी से आप अनगिनत चीजें बना सकते हैं, जैसे- कपड़े, रुमाल, कुशन कवर, टेबल कवर, दुपट्टे, ज्वेलरी, होम-डेकॉर की चीजें आदि। 

आपको सबसे पहले अपने हुनर को निखारना होगा। फिर सोचिए कि आप ऐसी क्या चीज़ बना सकते हैं, जिसे लोग खरीदना चाहेंगे। अपने प्रोडक्ट्स के कुछ सैंपल तैयार कीजिए। अपने आस-पास के लोगों में और सोशल मीडिया के माध्यम से मार्केटिंग कीजिए। अगर आप सही तरीके से काम करेंगे, तो आपका बिज़नेस हर दिन आगे बढ़ेगा। 

3. कुकिंग क्लास बिज़नेस 

Cooking classes
Cooking Classes (Source)

कुकिंग से जुड़े हुए कई छोटे-बड़े काम आप अपने घर की रसोई से शुरू कर सकते हैं। अगर आपको खाना बनाने का शौक़ है। खासकर ऐसे फ़ूड आइटम जो खास केटेगरी में आते हैं, जैसे कॉन्टिनेंटल फ़ूड, बेकरी प्रोडक्ट्स, चॉकलेट बनाना आदि आप लोगों को सीखा भी सकते हैं। बेंगलुरु में अपने घर से सॉस और जैम का बिज़नेस चला रहीं आरती इच्छुक लोगों को ऑनलाइन क्लासेज़ देती हैं। 

आरती ने बताया कि पहले उन्होंने अपना फ़ूड बिज़नेस शुरू किया था। लेकिन जब लोग उनसे संपर्क करने लगे कि वह कैसे यह सभी चीजें बनाती हैं, तो उन्होंने ऑनलाइन क्लासेज़ भी लेना शुरू कर दिया। हालांकि, अगर आप कोई बिज़नेस नहीं भी कर रहे हैं, तो भी आप अपनी कुकिंग क्लास शुरू कर सकते हैं। आप सबसे पहले अपना विषय तय कर लें कि आप कम समय में प्रभावी ढंग से दूसरों को क्या बनाना सिखा सकते हैं। फिर अपनी क्लास की तैयारी करें और सोशल मीडिया के जरिए लोगों को बताएं कि आप ऐसा कुछ कर रहे हैं, क्या वे सीखना चाहेंगे?

Advertisement

हो सकता है कि शुरुआत में आपको कम लोगों की प्रतिक्रिया मिले। लेकिन अगर आप नियमित रूप से यह काम करते रहेंगे, तो धीरे-धीरे आपका बिज़नेस बढ़ने लगेगा। 

4. टेलरिंग बिज़नेस 

टेलरिंग या कपड़े सिलने के बिज़नेस का मतलब यहां कोई हाई-फाई बुटीक खोलना नहीं है। बल्कि घर से ही बुटीक जैसे डिज़ाइनर कपड़े तैयार करने से है। ज्यादातर घरों में कोई सिलाई करे या न करे, लेकिन सिलाई मशीन अक्सर होती ही है। ताकि अगर कभी कोई कपड़ा थोड़ा-बहुत ठीक करना हो, तो बाहर न भटकना पड़े। गांव और छोटे शहरों में बहुत सी लड़कियों और महिलाओं को सिलाई का काम अच्छे से आता भी है। इस बात का उदाहरण मेरा अपना शहर पलवल है। 

हमारी कॉलोनी में दस में से लगभग आठ घरों में महिलाएं सिलाई का काम जानती हैं। इनमें से कई छोटे स्तर पर अपना व्यवसाय भी कर रही हैं। दिन में अपने घर के काम को खत्म करके, वे सिलाई मशीन लेकर बैठ जाती हैं और लोगों के कपड़े सिलती हैं। अगर दिन में एक सूट भी तैयार किया जाए, तो इसकी डिज़ाइन के आधार पर, आराम से 150 रुपये से लेकर 500-600 रुपये कमाए जा सकते हैं। आजकल बहुत से लोग अपने काम को यूट्यूब और इंस्टाग्राम पर भी पोस्ट कर रहे हैं। 

ओडिशा की रहने वाली बेनोरिटा दाश कहती हैं कि उन्होंने अपनी माँ से सिलाई का काम सीखा था। फिर धीरे-धीरे अपने हुनर को निखारा और आज अपना खुद का फैशन हाउस चला रही हैं। इसलिए अगर आपके पास सिलाई मशीन मौजूद है और आपको सिलाई आती है, तो आज से इस काम में जुट जाएं। 

5. अचार बिज़नेस 

Amla Pickle on Silbatta
Pickle Business (Source)

कितनी ही बार आपके घर का अचार खाकर कोई न कोई रिश्तेदार कह ही देता है कि अगले मौसम में हमारे लिए भी अचार डालना और पैसे ले लेना। बस इसी एक बात से आप अपना अचार का बिज़नेस शुरू कर सकते हैं। खासकर वे लोग जो अपने घरों या खेतों में फल-सब्जियों की बागवानी या खेती करते हैं। आप आम, नींबू, करौंदा जैसे फलों से लेकर मिर्च, गाजर, गोभी, और मूली जैसी सब्जियों का अचार बनाकर अपना बिज़नेस शुरू कर सकते हैं। 

शुरुआत में, आप कम मात्रा में अचार बनाएं और इसे अपने जानने वालों में मार्किट करें। अपने स्थानीय दुकानदारों से भी आप संपर्क कर सकते हैं कि वे अपने यहां आपका अचार रख सकते हैं। सोशल मीडिया, मार्केटिंग का बहुत ही अच्छा माध्यम है। गुरुग्राम की रहने वाली रुचिका कोहली बताती हैं कि उन्होंने शुरुआत में अपनी सोसाइटी में लोगों को अपने अचार के बारे में बताया था। 

जब लोगों ने उनका बनाया अचार खाया, तो उन्हें धीरे-धीरे ऑर्डर मिलने लगे और अब वह हर महीने अच्छी कमाई कर रही हैं। इसी तरह, दिल्ली के एक किसान कुलदीप सिंह कहते हैं कि उन्हें अपनी नींबू की फसल से ज्यादा आमदनी, इसका अचार बनाकर बेचने से हुई है। इसलिए देर किस बात की, आज से ही तैयार करें अपने अचार की रेसिपी और लोगों को खिलाकर बढ़ाएं अपने काम को आगे। 

संपादन- जी एन झा

कवर फोटो

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन में बरसों का बिज़नेस हुआ ठप, पर नहीं मानी हार, अब केक बेचकर कमा रहीं लाखों में

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें।

Advertisement
close-icon
_tbi-social-media__share-icon