Search Icon
Nav Arrow
winter flowers

Winter Flowers: सर्द मौसम में रंग-बिरंगे फूलों से सजाएं अपना बगीचा, लगाएं ये पौधे

पढ़िए Winter Flowers के बारे में और जानिए सर्दियों के मौसम में किन-किन फूलों के पौधों को आसानी से घर पर उगाया जा सकता है।

Advertisement

यदि आप गार्डनिंग के शौकिन हैं, तो आपको पता ही होगा कि फूल-पौधों की खूबसूरती हर मौसम में अलग-अलग होती है। कुछ पौधे गर्मी में ठीक तरीके से बढ़ते हैं तो कुछ ठंड के मौसम में (Winter flowers)। सर्दी के मौसम में तो फूल के पौधों की खूबसूरती देखने वाली होती है। इसलिए गार्डनिंग करने वाले लोग ठंड बढ़ने से पहले ही कुछ पौधों को लगा लेते हैं।

आज हम आपको कुछ ऐसे ही रंग-बिरंगे फूल के पौधों के बारे में बताएंगे, जिन्हें आप अपने गार्डन में आसानी से लगा सकते हैं। 

पटना में टेरेस गार्डनिंग करने वाले अनिल पॉल आज हमें सर्द मौसम में बागवानी की खूबसूरती बढ़ाने वाले कुछ पौधों के बारे में बता रहे हैं। 

पेटूनिया

गार्डन की खूबसूरती बढ़ाने के लिए पेटूनिया एकदम सही फूल है। पेटूनिया के पौधे सर्दियों के मौसम (winter flowers) में ही लगाए जाते हैं। इसमें बड़े फूल होते हैं और कई रंगों में आते हैं, जिसमें सफेद, पीला, गुलाबी, और डार्क बैंगनी आदि रंग शामिल हैं।  

अनिल बताते हैं, “इसे लगाने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप अपने शहर के किसी अच्छी नर्सरी से इसके छोटे-छोटे पौधे खरीद लें। अगर आप नवंबर में पौधे लेंगे तो यह पौधा आपको फूल के साथ मिल सकता है, जिससे आपको रंग जानने में दिक्कत नही आएगी और आप अपने पसंद के अनुसार पौधे ले सकते हैं।”

उन्होंने बताया कि इसे ज्यादा देखभाल की  जरूरत नहीं होती। इसके लिए आपको 50 प्रतिशत सामान्य मिट्टी, 40 प्रतिशत गोबर की खाद या वर्मीकम्पोस्ट, 10 प्रतिशत रेत के साथ थोड़ी सी नीम या सरसों की खली मिलाकर पॉटिंग मिक्स तैयार करना होगा। तक़रीबन छह इंच के गमले में इस पॉटिंग मिक्स को डालें और फिर नर्सरी से लाए पौधे को लगा दें। 

अनिल का कहना है कि इस पौधे में हफ्ते में तीन दिन पानी देना चाहिए। वहीं गमले को आप ऐसी जगह पर रखें जहां धूप अच्छी तरह से आती हो। नवंबर से लेकर मार्च महीने तक इसमें सुंदर फूल आते हैं।  

Winter flowers Petunia

Petunia

गेंदा 

यह भारत में सर्दी के मौसम में लगाया जाने वाला सर्वाधिक लोकप्रिय पौधा है।  यह बहुत ही खूबसूरत पौधा है जो आमतौर पर सभी घरों में पाया जाता है। सर्दी के मौसम में गेंदे के पौधे की खूबसूरती बढ़ जाती है। इसके फूल (winter flowers) लाल, नारंगी और पीले रंग के होते हैं। देसी गेंदे के फूल छोटे साइज में होते हैं। वहीं यदि आप नर्सरी से हाइब्रिड पौधे लेते हैं तो इसके फूल का साइज बड़ा होता है।

अनिल बताते हैं कि गेंदे के पौधों को लगाने के दो तरीके हैं। आप चाहें तो बीज के जरिए या फिर नर्सरी से पौधा खरीदकर अपने गार्डन में लगा सकते हैं। 

गेंदे के पौधे के लिए पॉटिंग मिक्स

इसके लिए आप 50 प्रतिशत सामान्य मिट्टी, 40 प्रतिशत गोबर की खाद या वर्मीकम्पोस्ट, 10 प्रतिशत रेत के साथ थोड़ी सी नीम या सरसों की खली मिलाकर पॉटिंग मिक्स तैयार करें। 

how to grow merigold in winter
Merigold

यदि आप गेंदा फूल का बीज तैयार करना चाहते हैं तो फूल को सूखाकर रख लें और फिर अगले मौसम में सेमी शेड वाले एरिया में गमले में तैयार पॉटिंग मिक्स में इसे डाल दें। आप देखेंगें कि इससे 8-10 दिनों में छोटा पौधा निकल जाएगा। 

डहेलिया 

डहेलिया एक बेहद सुंदर दिखने वाला फूल है, जिसे उगाना भी बहुत आसान है। आप घर पर इसे तीन तरीके से उगा सकते हैं- 

-बीज

-कटिंग

-ट्यूबर

तीनों ही तरीके आसन हैं और इसमें पॉटिंग मिक्स भी एक जैसी ही इस्तेमाल होती है। सबसे पहले आप अपनी पसंद के गमले का चुनाव कर लें। इसके लिए छह इंच से दस इंच गमला लेना अच्छा होगा। 

Dahlia flower to grow in winters
Dahlia flower

बीज से इसे लगाने के लिए गमले में पॉटिंग मिक्स डालकर थोड़ी-थोड़ी दूरी पर इसके बीज को फैला दें। फिर ऊपर से एक लेयर कोकोपीट या सामान्य मिट्टी डाल दें। इसपर पानी का छिड़काव करते रहें। तीन से चार दिन में बीज अंकुरित हो जाएंगे। लगभग 10 दिनों में पत्तियां दिखने लगेंगी और महीने भर में इसमें सुंदर फूल भी खिलने लगेंगे। 

अगर आप इसका पौधा कटिंग से लगा रहे हैं तो ध्यान दें कि कटिंग किसी नई डाली से ना ली गई हो।  आप चार से पांच इंच की स्वस्थ कटिंग लेकर इसे लगाएं। पौधे को  सामान्य धूप में रखें और हफ्ते या दस दिनों में इसमें नए पत्ते आने लगेंगे।

ट्यूबर से लगाने के लिए भी यही तरीका अपनाएं। आप इसके बीज और ट्यूबर ऑनलाइन या पास की नर्सरी से खरीद सकते हैं।  

Advertisement

गुलदाउदी 

जाड़े के मौसम मे खिलने वाला यह एक बहुत ही खूबसूरत है। गुलदाउदी (winter flowers) एक ऐसा पौधा है जो अकेले आपके पूरे गार्डन मे चार चांद लगा सकता है। 

आप कलम या कटिंग से इसके पौधे को लगा सकते हैं। कटिंग से इसे लगाने के तकरीबन 20 दिन में इसमें नए पत्ते और महीने बाद फूल आने शुरू हो जाते हैं।  

इसके लिए पॉटिंग मिक्स गेंदे के पौधे वाली ही इस्तेमाल करें। ज्यादा ठंड पड़ने से पहले इसकी कटिंग को लगा दें।

अन्य फूलों की तरह ही इसे भी अच्छी सूरज की रौशनी की जरूरत होती है। 

अनिल का कहना हैं कि यदि आपको गार्डनिंग की अधिक जानकारी नहीं है तो आप नर्सरी से गुलदाउदी छोटा पौधा ले सकते हैं। नर्सरी में यह पौधा 20 से 25 रुपये में आराम से मिल जाता है।

गुलाब 

गुलाब को फूलों (winter flowers) का राजा कहा जाता है। इसके सुंदर रंग हर किसी को आकर्षित करते है। ठंड बढ़ने से पहले अक्टूबर से नवंबर तक इन्हें आसानी से लगाया जा सकता है। 

इसके लिए सबसे पहले आप अपने पसंद के रंग वाले फूल का चुनाव करें और पॉटिंग मिक्स डालकर एक आठ से दस इंच का गमला तैयार करें। 

अनिल कहते हैं कि इसके लिए 40 प्रतिशत सामान्य मिट्टी, 20 प्रतिशत रेत और 30 प्रतिशत गोबर की खाद का इस्तेमाल करें।  गोबर की खाद से गुलाब के पौधे तेजी से बढ़ते हैं।

गुलाब को आप कटिंग के जरिए भी उगा सकते हैं। गुलाब के पौधे को कलम से तैयार करने के लिए दो से तीन साल पुराने गुलाब के पौधे से डाली काटें। जिसकी लंबाई तक़रीबन एक फीट होनी चाहिए।

कलम को लगाने के 20 से 25 दिन के बाद आप देखेंगे कि उसमें पत्तियां आने लगीं है। वहीं नियमित पानी और अच्छी सूरज की रौशनी मिले तो महीने भर में इसमें फूल भी खिलने लगेंगे। 

grow rose in winter
Rose

देखभाल से जुड़ी जरूरी बातें 

अनिल कहते हैं कि सर्दी के मौसम में खिलने वाले फूलों की देखभाल विशेष रुप से की जाती है। इसके लिए सभी पौधों में सरसों की खली देनी चाहिए। सरसों की खली सर्दियों में सबसे अच्छी खाद साबित होती है। इसके अलावा जब ओस ज्यादा गिरने लगे तब पौधों को शेड में रखना चाहिए। वह कहते हैं, “आप हरे कपड़े से शेड बना सकते हैं ताकि पौधों को धूप भी मिले और सुबह के समय ओस से बचाव भी हो सके।”

वहीं अगर आपके घर में पहले से ही इस तरह के पौधे हैं तो अक्टूबर के अंत या नवंबर की शुरुआत में सभी पौधों की छंटाई कर दें। अगर आप बीज से पौधा लगा रहे हैं तो ज्यादा ठंड में इसे न लगाएं। 

फूल वाले सभी पौधों को अच्छी धूप की जरूरत होती है इसलिए अच्छी सूरज की रौशनी और नियमित पानी का ध्यान रखें।

तो देर किस बात की, आप भी इन बेहद आसान टिप्स को फॉलो करते हुए अपने गार्डन को रंग-बिरंगे फूल के पौधों से सजाने की तैयारी शुरू कर दें। 

हैप्पी गार्डनिंग !

संपादन- जी एन झा

यह भी पढ़ें: कोल्ड ड्रिंक या पानी के खाली बोतल को फेंके नहीं, उससे तैयार करे वर्टिकल गार्डन

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें।

Advertisement
close-icon
_tbi-social-media__share-icon