Search Icon
Nav Arrow
Inspirational Movies for Kids

10 फिल्में जो आपके बच्चे को जरूर देखनी चाहिए

इस लेख में पढ़िए बच्चों के लिए 10 प्रेरणादायी फिल्मों के बारे में, जिनसे बड़े भी ले सकते हैं सीख।

Advertisement

आज की भागती-दौड़ती ज़िंदगी में हर माता-पिता अपने बच्चों को सभी सुख-सुविधाएं देना चाहते हैं। साथ ही, उनकी कोशिश रहती है कि वे अपने बच्चों को, उनके सपनों और जिज्ञासाओं को भी समझें और यह तभी संभव है जब आप अपने बच्चों को समय देंगे। लेकिन आज के जमाने में ज्यादातर बच्चे खाली समय में मोबाइल में मशगूल रहते हैं। वहीं दूसरी ओर माता-पिता भी अपनी नौकरी के कारण बच्चों को समय नहीं दे पाते हैं। ऐसे में, उनकी कोशिश रहती है कि वे वीकेंड पर उनके साथ अच्छा समय व्यतीत करें। इसका एक अच्छा तरीका है कि आप हर वीकेंड अपने बच्चों के साथ कोई अच्छी फिल्म देखें। क्योंकि फिल्म ऐसा साधन हैं, जो मनोरंजन के साथ-साथ आपको और बच्चों को बहुत कुछ सीखा भी सकती हैं। 

आज हम आपको बता रहे हैं ऐसी 10 प्रेरणादायक फिल्मों के बारे में जो आप अपने बच्चों के साथ देख सकते हैं!

1. ओवर द मून:

नेटफ्लिक्स पर उपलब्ध यह एक एनिमेटेड फिल्म है, इसलिए बच्चों को इसमें दिलचस्पी आएगी। यह एक लड़की फेफे की कहानी है, जो अपनी माँ से चांद की देवी, छांगा की कहानियां सुनती है और सच्चे प्यार में यकीन करती है। लेकिन माँ के निधन के बाद वह किसी और को अपने जीवन में माँ की जगह नहीं दे पाती है। फिल्म में फेफे की कहानी के जरिए हम सीखते हैं कि किसी के चले जाने से जीवन नहीं रुकता है बल्कि हमें हमेशा प्यार को दूसरा मौका देना चाहिए। फेफे छांगा की कहानी में विश्वास करती है और एक दिन उस तक पहुंच भी जाती है। इसलिए यह कहानी बच्चों को यह भी सिखाती है कि अगर आपके दिल में सच्चा विश्वास हो तो आप अपनी मंजिल तक पहुंच सकते हैं। 

2. कोको: 

डिज्नी+हॉटस्टार पर उपलब्ध यह फिल्म परिवार का महत्व समझाती है। यह एक 12 साल के लड़के की कहानी है जिसे संगीत पसंद है लेकिन उसका परिवार उसके सपनों के खिलाफ है। यह फिल्म बच्चों को प्यार, पैशन के साथ-साथ माफ़ करना भी सिखाती है। यह एक एनिमेटेड फिल्म है तो बच्चे इसे देखते हुए बोर नहीं होंगे। साथ ही, बड़े भी इस फिल्म को एन्जॉय कर सकते हैं। 

3. सोल

डिज्नी+ हॉटस्टार पर उपलब्ध यह एनिमेटेड फिल्म एक जैज़ म्यूजिशियन की कहानी है। जिसका पैशन पियानो है लेकिन वह एक सामान्य नौकरी करता है। जब उसे अपने सपने को पूरा करने का मौका मिलता है तो उससे पहले ही उसका एक एक्सीडेंट हो जाता है और उसकी आत्मा दूसरी दुनिया में पहुंच जाती है। कहानी यहीं से शुरू होती है। वह बार-बार वापस अपनी दुनिया में लौटने की कोशिश करता है ताकि अपने सपने को पूरा कर सके। लेकिन इस यात्रा में उसे अहसास होता है कि ज़िन्दगी में सिर्फ एक सपना या ‘स्पार्क’ ही जरुरी नहीं होता है बल्कि जीवन का हर एक पल हमें पूरे दिल से जीना चाहिए। 

इस फिल्म से न सिर्फ बच्चे बल्कि बड़े भी बहुत कुछ सीख सकते हैं। यह फिल्म सिखाती है कि कैसे आपको खुद को महत्व देना चाहिए और हमेशा ज़िंदगी की छोटी-छोटी बातों में खुश होना चाहिए। ज़िंदगी का मतलब सिर्फ कोई टैलेंट होने से नहीं है बल्कि ज़िन्दगी का सही मतलब उसे पूरे दिल से जीने में है। 

4. इनसाइड आउट

डिज्नी+हॉटस्टार पर उपलब्ध यह फिल्म 11 साल की रिले की कहानी है। फिल्म में रिले की आंतरिक भावनाओं को पात्रों के रूप में दिखाया गया है- ख़ुशी, दुःख, गुस्सा, डर और घृणा। इन सभी भावनाओं का किरदार का रूप देकर यह बताने की कोशिश की गयी है कि हमारा दिमाग और भावनाएं कैसे काम करती हैं? और इनसे कैसे हमारा व्यवहार निर्धारित होता है। यह फिल्म बच्चों को उनकी भावनाओं को समझने में मदद करेगी और साथ ही, उन्हें सिखाएगी कि कैसे अपने मन की भावनाओं के बारे में वे अपने माता-पिता से बात कर सकते हैं। 

5. इक़बाल

ज़ी5 पर उपलब्ध यह फिल्म गांव में रहने वाले एक मुक-बधिर लड़के की कहानी है जो भारतीय क्रिकेट टीम के लिए क्रिकेट खेलने का सपना देखता है और उसके लिए संघर्ष करता है l उसके पास कोई सुविधा नहीं होती उसके पिता भी उसके क्रिकेट खेलने का बहुत विरोध करते है l लेकिन वह हार नहीं मानता l वह हर तरह की परिस्थितियों का मुकाबला करता है और अंत में अपने सपने को पूरा भी करता है l यह फिल्म हमें सिखाती है कि हालात चाहे जैसे भी हों हिम्मत नहीं हारनी चाहिए कठिन परिश्रम और दृढ़ निश्चय से सफलता ज़रूर मिलती है। 

6. मोआना

डिज्नी+हॉटस्टार पर उपलब्ध यह एनिमेटेड फिल्म एक युवा लड़की की कहानी है। जिसके लिए उसके माता-पिता के अपने सपने हैं। लेकिन इन सबसे परे वह अपने लिए एक अलग सफर चुनती है, जिससे वह अपने समुदाय को, अपने लोगों को बचा सके। मोआना हर लड़की को प्रेरणा देती है कि अपनी मंजिल पाने के लिए उसे किसी हीरो की जरूरत नहीं है बल्कि हर लड़की खुद अपनी कहानी की हीरो बन सकती है। 

7. धनक

Advertisement

नेटफ्लिक्स पर उपलब्ध फिल्म धनक दो भाई-बहन, परी और छोटू की कहानी है। छोटू देख नहीं सकता है और परी उसके नौवें जन्मदिन से पहले उसकी आंखों का ऑपरेशन कराना चाहती है। जिसके लिए वह शाहरूख खान को खत लिखती है कि वह उनकी मदद करे। लेकिन कोई जवाब नहीं आता। इसलिए जब उसे पता चलता है कि शाहरूख खान राजस्थान में ही शूटिंग कर रहा है तो दोनों भाई-बहन पैदल ही निकल पड़ते हैं उससे मिलने। यह कहानी भाई-बहन के बीच के अटूट रिश्ते, प्यार के साथ-साथ दोस्ती को भी दिखाती है। साथ ही, बताती है कि कई बार कैसे हमारे भाई-बहन हमारे मार्गदर्शक बन सकते हैं। 

इस कहानी में बचपन की मासूमियत को दिखाया गया है और साथ ही, बच्चों को सिखाती है कि हमेशा दूसरों की मदद करनी चाहिए। यह फिल्म सिर्फ बच्चों को नहीं बल्कि बड़ों को भी देखनी चाहिए। 

8. अप

अमेज़न प्राइम पर उपलब्ध इस फिल्म को आप अपने बच्चों और पूरे परिवार के साथ देख सकते हैं। यह कहानी सिखाती है कि अगर आप चाहें तो कैसे किसी के जाने के बाद भी उन्हें अपनी यादों में और बातों में जीवित रख सकते हैं। यह एक बुजुर्ग आदमी, कार्ल की कहानी है, जिसकी पत्नी दुनिया से जा चुकी है पर उसके दिल में जिन्दा है। यह फिल्म हमें सिखाती है कि एडवेंचर करने की कोई तय उम्र नहीं होती है। आप जब चाहें अपनी यात्रा पर निकल सकते हैं। कार्ल भी फिल्म में एक लम्बी यात्रा पर जाता है, जो वह अपनी पत्नी के साथ करना चाहता था पर कर नहीं पाया। 

यह फिल्म न सिर्फ बच्चों को बल्कि बड़ों को भी अपने सपनों को पूरा करने की प्रेरणा देती है। 

9. हवा हवाई

डिज्नी+हॉटस्टार पर उपलब्ध यह फिल्म आपके अपने परिवार के साथ देखनी चाहिए। यह कहानी अर्जुन की है, जो बहुत ही गरीब है। इसके बावजूद उसमें अपने सपनों को पूरा करने की लगन है। साथ ही, यह कहानी है, अर्जुन के स्केटिंग कोच अनिकेत की, जो अर्जुन को उसके सपनों की मंजिल तक पहुंचाना चाहता है। यह कहानी आपके बच्चों को सिखाएगी कि इस दुनिया में सबके पास सब कुछ नहीं होता है। इसलिए हमारे पास जो है, उसके लिए हमें हमेशा शुक्रगुजार होना चाहिए। इस फिल्म से सीख मिलती है कि कैसे आपका एक कदम किसी की ज़िन्दगी बदल सकता है। 

जैसे अनिकेत की मदद से अर्जुन और उसके दोस्तों के जीवन में बदलाव आता है।  

10. स्टैनले का डब्बा

डिस्नी+हॉटस्टार पर उपलब्ध यह फिल्म आपको हंसाएगी भी और रुलायेगी भी। लेकिन साथ ही यह सीख भी देगी की कई बार सच्चाई आपकी सोच से परे होती है। यह कहानी एक छात्र स्टैनले की है, जिसे अपने घर से लंच बॉक्स नहीं मिलता है। इसलिए उसके दोस्त उसके साथ अपना लंच बॉक्स शेयर करते हैं पर यह बात उनके एक टीचर को पसंद नहीं है। पूरी कहानी स्टैनले के डिब्बे के चारों तरफ घूमते हुए कई छोटी-बड़ी सीख दे जाती है। यह फिल्म बच्चों को सिखाती है कि उन्हें उस चीज और मौकों की कदर करनी चाहिए जो उनके पास हैं। क्योंकि बहुत से बच्चों को बेसिक चीजों के लिए भी संघर्ष करना पड़ता है। 

साथ ही, फिल्म यह भी सिखाती है कि हमेशा ज़िंदगी के प्रति एक सकारात्मक नजरिया रखना चाहिए। शिक्षकों के लिए भी इस फिल्म में अच्छा संदेश है कि कैसे शिक्षक अपने छात्रों के जीवन में अहम भूमिका निभाते हैं। 

इन फिल्मों के अलावा, आप ‘वी कैन बी हीरोज,’ परस्यूट ऑफ़ हैप्पीनेस,’ ‘वंडर,’ ‘तहान,’ और ‘हामिद’ जैसी फ़िल्में भी अपने बच्चों के साथ देख सकते हैं। 

संपादन- जी एन झा

यह भी पढ़ें: Web Series On OTT: मनोरंजन भी और सीख भी, अपने बच्चों के साथ इस वीकेंड ज़रूर देखें ये शोज़

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें।

Advertisement
close-icon
_tbi-social-media__share-icon