Search Icon
Nav Arrow

Grow Pothos: न मिट्टी चाहिए, न धूप, बिना नखरे वाले इन पौधों को उगाना भी है उतना ही आसान

गार्डन छोटा हो या बड़ा Pothos यानी मनी प्लांट का पौधा तो हर घर में लगाया जा ही सकता है। पढ़ें, इसे उगाने और इसकी देखभाल से जुड़ी जरूरी बातें।

कुछ पौधे बड़ी आसानी से इंडोर और आउटडोर दोनों ही जगहों पर उग जाते हैं। ऐसा ही एक पौधा है, Pothos का। जिसे आम भाषा में हम सभी मनी प्लांट के नाम से जानते हैं। इस पौधे को बहुत ही कम धूप और देखभाल की ज़रूरत होती है।   

यही कारण है कि आपका गार्डन छोटा हो या बड़ा और गार्डनिंग का शौक कम हो या ज्यादा, Pothos तक़रीबन हर घर में मिल ही जाता है। 

Pothos की कई किस्मों में Golden Pothos, N Joy Pothos,  Devil’s Ivy, Silver Vine, Devil’s Vine आदि नाम शामिल हैं।  

Advertisement

इसे उगाने के लिए आप छोटे से गमले का उपयोग भी कर सकते हैं। घर की बालकनी की रेलिंग या खिड़की के लिए यह बेहतरीन हैंगिंग प्लांट बन सकता है। 

चूंकि इसकी बेल होती है इसलिए इसे हैंगिंग पॉट में लगाने से इसकी खूबसूरती और बढ़ जाती है। वहीं आप इसे लिविंग रूम की साइड टेबल पर भी रख सकते हैं।

रांची में लंबे समय से गार्डनिंग कर रहीं दीपिका लकड़ा को सजावटी पौधों का बहुत शौक है। आज वह हमें बता रहीं हैं कि Pothos के पौधे को किस तरह प्रोपोगेट किया जाता है और इसकी देखभाल के लिए किन चीजों का ध्यान रखना पड़ता है।  

Advertisement
Dipika home gardener from ranchi
Dipika

दीपिका कहती हैं कि इसकी बेल बहुत जल्दी विकसित होती हैं, इसलिए एक बेल से कटिंग करके आप कई पौधे तैयार कर सकते हैं। उन्होंने बताया, “नर्सरी वालों के पास बड़े ही कम दाम में आप इसकी कटिंग लाकर घर में लगा सकते हैं। अलग-अलग Pothos की किस्मों की पत्तियों का रंग थोड़ा-थोड़ा अलग होता है लेकिन इन सभी को लगाने का तरीका बिल्कुल सामान होता है।” 

इसके पौधे को तेज धूप से बचाकर रखना पड़ता है। वहीं इसे अच्छी रौशनी और हवादार जगह की जरूरत होती है। 

भारत में Golden Pothos सबसे ज्यादा प्रचलित पौधा है। इसकी पत्तियां हरी और पीले रंग की होती हैं।  

यह भी पढ़ें – Stress Reliever Plants: घर में इन 10 पौधों को लगाएं, माहौल रहेगा खुशनुमा

Advertisement

मिट्टी में Pothos लगाने का तरीका 

दीपिका कहती हैं कि सबसे पहले आप 1/4 सामान्य मिट्टी, 1/4 कम्पोस्ट, 1/4 रेत, 1/4 कोकोपिट मिलाकर, एक अच्छा पॉटिंग मिक्स तैयार करें। 

अच्छी ड्रेनेज वाली मिट्टी होनी बहुत जरूरी है। 

Advertisement

आप इसके लिए 6 से 8 इंच का गमला ले सकते हैं। वहीं हैंगिंग में इसे रखने के लिए चार इंच के गमले का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। 

छह महीने में एक बार ही इसमें खाद डालने की जरूरत होगी। Seaweed extracts इसके लिए एक बेहतरीन खाद है। आप हर पांच से छह महीने में इसका छिड़काव कर सकते हैं।  

Pothos या मनी प्लांट के हर पत्ते में एरियल रूट्स होते हैं। जिससे नया पौधा तैयार हो जाएगा। 

Advertisement

अपने पसंद की पौधे की कटिंग लाकर गमले में लगाएं।  

pothos in soil

इसे ज्यादा घना बनाने के लिए एक गमले में तीन चार कटिंग एक साथ लगा सकते हैं। 

तक़रीबन 15 दिनों में इसमें नए पत्ते आने लगेंगे।  

Advertisement

तीन से चार दिन तक इसमें पानी डालते रहें। वहीं गर्मी के दिनों में स्प्रे बोतल से इसमें पानी छिड़काव करते रहें। 

इसमें कीड़े लगने की संभावना नहीं होती लेकिन यदि ऐसा होता है तो आप नीम के तेल का छिड़काव कर सकते हैं। 

यदि आप Pothos को हैंगिंग पॉट में लगा रहे हैं तो इसकी बेल को नीचे की और बढ़ने दें। वहीं गमले में एक लकड़ी या मॉस स्टिक की मदद से आप इसे ऊपर सहारा देकर भी बड़ा कर सकते हैं।  

दीपिका ने कहा कि इसके पौधे में चाय की पत्तियों का पानी छिड़कने से इसके पत्ते काफी हरे-भरे उगते हैं। 

समय-समय पर इसकी कटिंग भी करते रहें। 

पानी में इसे लगाने का तरीका 

pothos in water

घर के अंदर लगाने के लिए इसे पानी में आसानी से विकसित किया जा सकता है। 

इसके लिए आप एक पारदर्शी कांच की बोतल लें।  

पौधे की कटिंग लेते समय आप ध्यान रखें कि इसमें चार-पांच नोड्स लें। कटिंग लगाते समय नीचे की कुछ पत्तियां निकाल दें।

फिर दो से तीन नोड्स को पानी के अंदर रखें। कुछ हफ्तों में जड़ निकलने लगेगी। 

हफ्ते में एक दिन इसका पानी बदलते रहें। 

गर्मियों के दिनों में हफ्ते में दो बार पानी बदलें।  

RO के पानी का इस्तेमाल करने के बजाय सामान्य पानी का इस्तेमाल करें।  

पानी में उगा पौधा अगर मुरझा रहा है तो इसे कुछ दिनों के लिए आउटडोर में रख सकते हैं। इससे इन पौधों में सूरज की रौशनी के साथ एक बार फिर से जान आ जाएगी। 

जैसे ही पौधे की कोई भी पत्ती पीली पड़ने लगें इसे पौधे से काट कर अलग कर लें।  

तो देखा आपने कितना आसान है,  Pothos के पौधों को उगाना। वहीं एक बार इसका पौधा लगने के बाद आप इससे कई पौधे तैयार कर सकते हैं। किसी को तोहफे में देने के लिए भी यह एक अच्छा विकल्प बन सकता है। 

अगर आप पहली बार गार्डनिंग कर रहे हैं तो इस पौधे से आप शुरुआत कर सकते हैं।  

हैप्पी गार्डनिंग! 

संपादन- जी एन झा

यह भी पढ़ें – Dracaena: कम रौशनी और कम देखभाल में भी आसानी से उगा सकते हैं यह खूबसूरत पौधा

यदि आपको The Better India – Hindi की कहानियां पसंद आती हैं या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हैं तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें या FacebookTwitter या Instagram पर संपर्क करें।

close-icon
_tbi-social-media__share-icon