Placeholder canvas

इस मॉनसून, बिना ज़हरीले केमिकल के पाएं मक्खियों से छुटकारा

Natural Repellent: This Monsoon, Get Rid Of Flies Without Toxic Chemicals

मानसून में मलेरिया और डेंगू जैसी बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है। अक्सर ये बीमारियां मक्खियों द्वारा फैलती हैं। मक्खियों को दूर करने के लिए आप इन नेचुरल हैक्स को अपना सकते हैं। इससे आपके घर में मक्खियां भी नहीं आएंगी और घर साफ-सुथरा भी रहेगा।

अक्सर मानसून में नमी बढ़ जाती है। नमी के कारण इस मौसम में घर में घूमने वाली मक्खियों के प्रजनन की संभावना भी बढ़ जाती है। खुले खाने पर भिनभिनाती मक्खियां न केवल मन को खराब करती हैं, बल्कि वे टाइफाइड, हैजा, दस्त और गैस्ट्रोएन्टराइटिस जैसे रोग भी घर के भीतर लेकर आती हैं। वे कचरे के ढेर से गंदगी और बैक्टीरिया उठाकर हमारे घरों में भोजन और अन्य सतहों तक लाती हैं। ऐसे में अक्सर इनसे बचने के लिए हम केमिकलयुक्त रेपलेंट का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन आज हमको घर पर ही Natural Repellent बनाने के तरीके बता रहे हैं। 

घरों में घूमने वाली ज्यादातर मक्खियां केवल 15 से 25 दिनों तक जीवित रहती हैं, लेकिन उनका इनक्युबेशन पीरियड काफी तेज़ होता है। इन्हें अंडे सेने में आठ से 20 घंटे लगते हैं और 3 सप्ताह से कम समय में ये परिपक्वता तक पहुंच जाते हैं। बीमारी की संभावना को सीमित करने के लिए जितनी जल्दी हो सके मक्खियों से छुटकारा पाना जरूरी है।

हालांकि, इन्हें दूर करने वाले ज्यादातर कमर्शिअल पेस्ट रेपलेंट स्प्रे में केमिकल और आर्टिफीशियल गंध होती है, जो घर के अंदर की हवा को प्रदूषित करते हैं। जिन लोगों को सांस से जुड़ी कोई समस्या होती है, उन्हें इसकी महक से सिरदर्द, उल्टी और अस्थमा जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

छोटे बच्चों और पालतू जानवरों वाले घरों को भी इन पेस्ट स्प्रे का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए। हालांकि आप इन्हें दूर करने के लिए फ्लाई स्वैटर का इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन हम आपके लिए घर को साफ और मक्खियां मुक्त रखने के लिए कुछ प्राकृतिक और आसान टिप्स लेकर आए हैं। 

1. कूड़ेदानों को ढक कर रखें

घरेलू मक्खियों को एक अच्छा, भरा हुआ कूड़ेदान पसंद होता है। एक खुला कूड़ेदान उनकी पहुंच और प्रजनन, दोनों को आसान बनाता है। मानसून के दौरान सभी कूड़ेदानों को कसकर ढक कर रखें, खासकर गीले कूड़ेदानों को बंद रखना चाहिए। उन क्षेत्रों में कचरे का डिब्बा रखने से बचें, जहां बारिश का पानी आता हो।

गीले कूड़ेदानों को अक्सर खाली करके मक्खियों को भी दूर रखा जा सकता है। इससे नमी, फंगस और कीड़ों को पनपने से रोका जा सकता है। साथ ही इसके आस-पास Natural Repellent का इस्तेमाल करें।

2. कंपोस्ट बिन का रखें ध्यान

गर्मी और नमी के कारण मक्खियां और कीड़े कंपोस्ट बिन की ओर आकर्षित होते हैं। अगर आपके पास, घर में कम्पोस्ट बिन है तो उसे हमेशा ढक कर रखें। अगर आप कंपोस्ट बिन बालकनी में रखते हैं, तो इसे रेनकोट या वॉटरप्रूफ प्लास्टिक शीट से ढक दें।

नियमित रूप से नमी के स्तर को संतुलित करके अपनी खाद को बहुत ज्यादा गीला होने से रोकें। सूखे पत्ते या कटे हुए अखबार के टुकड़ों को मिश्रण में डालकर अतिरिक्त नमी को अवशोषित किया जा सकता है और खाद को सड़ने से बचाया जा सकता है। 

3. खाना अंदर स्टोर करें

कहने की ज़रूरत नहीं है, खुला रखा हुआ खाना, खासकर फल, मक्खियों को बहुत पसंद है। इसलिए, कभी भी मांस, पके फल, सब्जी या भोजन को खुला न छोड़ें। फ्रिज में खाना स्टोर करें या अगर बाहर है, तो उसे ढक्कन या कपड़े से ढककर रखें।

4. बगीचे में लगे हर्ब्स करते हैं Natural Repellent का काम

पुदीना, रोजमैरी और बेसिल लीफ सहित कई हर्ब और जड़ी-बूटियां अपने तेज़ सुगंध के कारण रेपलेंट के जैसे काम करती हैं। गेंदे जैसे फूल वाले पौधे भी पेस्ट रेपलेंट की तरह काम करते हैं। सिट्रोनेला, लेमनग्रास की तरह एक झाड़ीदार घास, मक्खियों और मच्छरों को दूर रखने के लिए बहुत अच्छी होती है।

घर पर कैसे बनाएं Natural Repellent:

पानी से भरा प्लास्टिक बैग करेंगा Natural Repellent की तरह काम

भले ही यह सिर्फ पानी से भरा बैग है, लेकिन आपको आश्चर्य होगा कि यह बिना किसी कठोर केमिकल स्प्रे या आर्टिफिशिअल सुगंध के घरेलू मक्खियों को भगाने में काफी कारगर है। एक पारदर्शी प्लास्टिक की थैली को आधे निशान तक पानी से भरें और बैग के मुंह को रबर बैंड से बांध दें।

अब, रबर बैंड के चारों ओर स्ट्रिंग या सुतली का एक टुकड़ा बांधें, जिससे एक लूप बन जाए। लूप वाले सिरे का उपयोग करते हुए, बैग को अपने किचन, बाथरूम, बालकनी या अपने घर के किसी भी ऐसे क्षेत्र में लटका दें, जहां मक्खियों का खतरा हो। पानी से भरा बैग प्रकाश को मोड़ता है, इसके फोर्स और वेलोसिटी को बदल देता है। प्रकाश की किरणें, जो सामान्यत: एक सीधी रेखा में आती हैं, झुक जाती हैं। इस तरह निकट आने वाली मक्खी के जटिल ऑप्टिकल तंत्र को भ्रमित किया जाता है।

विनेगर और डिश सोप से बनाएं Natural Repellent:

डिश सोप और एप्पल साइडर विनेगर का मिश्रण एक Natural Repellent हो सकता है। एक कटोरी या गिलास में डिश वॉश लिक्विड की कुछ बूंदों के साथ लगभग एक चम्मच विनेगर मिलाएं। गिलास के मुंह को रबर बैंड की मदद से प्लास्टिक रैप से ढक दें। प्लास्टिक शीट में कुछ छेद करें। घोल से आकर्षित होने वाली मक्खियाँ छिद्रों में प्रवेश करेंगी, लेकिन डिश सोप उन्हें विनेगर पर बसने से रोकता है और इस तरह वह मिश्रण में डूब जाएंगे।

प्लास्टिक बोतल ट्रैप:

सॉफ्ट ड्रिंक की प्लास्टिक की बोतल को शीर्ष तीसरे भाग को काटें। बोतल के नीचे चीनी का घोल या कोई मीठा लिक्विड डालें। इसके बाद, कोन के आकार का फ़नल बनाते हुए, बोतल के शीर्ष को नीचे के भाग में उल्टा कर दें। मिठास से खींची हुई मक्खियाँ बोतल में घुस जाएँगी लेकिन बाहर निकलने का रास्ता नहीं खोज पाएंगी।

संपादनः अर्चना दुबे

यह भी पढ़ेंः इंजीनियर ने नौकरी छोड़ चुनी खेती, शुरू की जीरो बजट फार्मिंग, गोबर से बनाते हैं कीटनाशक

We at The Better India want to showcase everything that is working in this country. By using the power of constructive journalism, we want to change India – one story at a time. If you read us, like us and want this positive movement to grow, then do consider supporting us via the following buttons:

Let us know how you felt

  • love
  • like
  • inspired
  • support
  • appreciate
X