Search Icon
Nav Arrow
Sruthy Sithara first Indian transgender to win Ms Trans Global Universe

गर्व का क्षण! ‘मिस ट्रांस ग्लोबल यूनिवर्स’ जीतने वाली पहली भारतीय ट्रांसजेंडर हैं श्रुति

केरल की रहनेवाली श्रुति सितारा ने मिस ट्रांस ग्लोबल यूनिवर्स का खिताब जीतकर अपना ताज, अपनी स्वर्गवासी मां और अपनी दोस्त अनन्या कुमारी एलेक्स को समर्पित किया।

“ज़िंदगी शुरू तो प्रवीण के रूप में हुई थी, लेकिन मैं इसे जीना श्रुति सितारा (Sruthy Sithara) के रूप में चाहती हूं।” श्रुति ने एक समय पर यह वाक्य कहा था और आज अपनी इसी पहचान, अपने इसी नाम के साथ, ‘मिस ट्रांस ग्लोबल यूनिवर्स’ का खिताब जीतकर वह ऐसा करने वाली पहली भारतीय ट्रांसजेंडर बन गई हैं।

केरल की रहनेवाली श्रुति का जब जन्म हुआ तो, उनका नाम प्रवीण रखा गया था। लेकिन अपने कॉलेज में क्वीर समुदाय (Queer Community) के लोगों से मिलने के बाद उन्हें वह आत्मविश्वास मिला कि वो अपनी पहचान खुलकर सामने ला पाईं और तभी उन्होंने फैसला किया कि वह अब अपना जीवन प्रवीण के रूप में नहीं, बल्कि श्रुति सितारा (Sruthy Sithara) के रूप में जिएंगी।

पिछले छह महीनों से ‘मिस ट्रांस ग्लोबल यूनिवर्स (Miss Trans Global Universe)’ प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए, श्रुति को उम्मीद थी कि वह शीर्ष पांच उम्मीदवारों में होंगी। लेकिन यह कभी नहीं सोचा था कि वह इस खिताब को जीत लेंगी। जब वीजेता के तौर पर उनके नाम की घोषणा की गई, तो थोड़ी देर के लिए उन्हें भरोसा ही नहीं हुआ।

Sruthy Sithara, First Indian Transgender To Win Miss Trans Global Universe
Sruthy Sithara (Credit)

पहली ट्रांस रेडियो जॉकी को समर्पित किया ताज

1 दिसंबर को श्रुति (Sruthy Sithara) ने एक ऑनलाइन कार्यक्रम के माध्यम से अपना पुरस्कार प्राप्त किया। उन्होंने कहा, “मैं बहुत खुश हूं, बहुत उत्साहित हूं। मैंने कभी उम्मीद नहीं की थी कि मैं यह खिताब जीत लूंगी। मैं महीनों से प्रतियोगिता की तैयारी कर रही थी और अब यह सब इतने हाई नोट पर खत्म हुआ है कि मेरे पास शब्द नहीं हैं अपनी खुशी बयां करने के लिए।” उनकी इस सफलता के बाद, दुनियाभर से लोग, खासकर उनके दोस्त और परिवार वाले उन्हें ग्लोबल स्टारडम के लिए बधाई दे रहे हैं।

श्रुति का कहना है कि वह चाहती हैं कि समाज उनको भी बराबरी की नज़र से देखे, वह भी बाकी लोगों की तरह सामान्य हैं, वह किन्नर समुदाय के लिए आगे और काम करना चाहती हैं। उन्होंने अपना ताज, अपनी स्वर्गवासी मां को और अपनी दोस्त अनन्या कुमारी एलेक्स (First Trans RJ) को समर्पित किया। दरअसल, अनन्या ने कुछ महीनों पहले आत्महत्या कर ली थी।

इस उपलब्धि के लिए द बेटर इंडिया की तरफ से आपको बहुत-बहुत शुभकामनाएं श्रुति!

close-icon
_tbi-social-media__share-icon