Search Icon
Nav Arrow
Post Covid Care

COVID-19 से Recovery के बाद कैसा हो Diet Plan, डॉक्टर की राय

डॉक्टर से जानिए कि COVID-19 से recovery के बाद, कैसा diet plan आपके पोषण और इम्यूनिटी के लिए जरूरी है।

Advertisement

यह लेख, द बेटर इंडिया द्वारा ‘COVID-19 केयर’ के बारे में वेरिफाईड जानकारियां साझा करने की एक श्रृंखला का हिस्सा है। वैसे तो सोशल मीडिया और व्हाट्सऐप पर, COVID-19 से जुड़ी कई तरह की जानकारियां साझा की जा रही हैं। लेकिन, आपसे अनुरोध है कि जानकारी को वेरीफाई जरूर कर लें। सही तथ्यों को आप तक पहुंचाने के लिए, हम कुछ डॉक्टर और विशेषज्ञों के वीडियो और उनके माध्यम से वैज्ञानिक शोध पर आधारित जानकारियां आपसे साझा कर रहे हैं। अगर आप या आपके कोई रिश्तेदार या जान-पहचान वाले हाल ही में COVID-19 से ठीक हुए हैं, तो आप अपने और उनके सही डाइट प्लान के बारे में जरूर सोच रहे (Post Covid Care) होंगे। इस दौरान, सही डाइट-रूटीन फॉलो करना आपके पोषण और इम्यूनिटी के लिए क्यों जरूरी है? इस बारे में ज्यादा सटीक जानकारी के लिए, हमने गुरुग्राम की सर्टिफाइड डायबिटीज ऐजुकेटर और डायटिशन, डॉ. अर्चना बत्रा और ‘फोर्टिस मेमोरियल रिसर्च इंस्टिट्यूट’ में इंटरनल मेडिसिन विभाग की एडिशनल डायरेक्टर, डॉ. बेला शर्मा से बात की।

1. COVID-19 से ठीक हो चुके मरीजों को किस तरह के पोषण की जरूरत होती है?

डॉ. बत्रा: कोरोना से ठीक होने के बाद, आपको मुख्य रूप से प्रोटीन, कैल्शियम से भरपूर खाना और ताज़ी फल-सब्जियां अपने डाइट में शामिल करनी चाहिये। यह वजन कम करने पर ध्यान देने का समय नहीं है। इस दौरान, खुद को स्वस्थ बनाने और स्टैमिना को फिर से बढ़ाने के लिए, आपको सही मात्रा में कैलरी लेना बहुत जरूरी है।

कोशिश करें कि आप एक बार में ज्यादा खाने की जगह, थोड़े-थोड़े समय पर हल्का खाना खाएं। दिनभर में तीन बार खाना और दो-तीन बार नाश्ता करना, आपके लिए काफी मददगार हो सकता है। अपने खाने में प्रोटीन को जरूर शामिल करें, क्योंकि प्रोटीन से आपको तेजी से स्वस्थ होने में मदद मिलती है।

अगर आप आइसोलेशन के दौरान ज्यादातर बेडरेस्ट पर रहे हैं, तो ऐसा हो सकता है कि आपकी मांसपेशियां कमजोर हो जाएं। ऐसा होने से, आपकी इम्यूनिटी और मजबूती पर तो असर पड़ता ही है और स्वस्थ होने में भी ज्यादा समय लगता है। इसलिए, आपको अपनी डाइट में प्रोटीन से भरपूर चीजें जरूर शामिल करनी चाहिये।

Post Covid Care
Dr. Archana Batra

2. ऐसा कोई फ़ूड ग्रुप, जिसे ठीक हो चुके मरीजों को अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिये?

डॉ. बत्रा: जी हाँ! जैसा कि मैंने पहले बताया, आपको प्रोटीन को अपना सबसे अच्छा दोस्त बना लेना चाहिये। आपकी उम्र, शारीरिक गतिविधि, लंबाई और वजन पर निर्भर करता है कि आपको कितनी मात्रा में प्रोटीन की जरूरत है। रोजाना सिर्फ एक बार प्रोटीन से भरपूर खाना खाने की बजाय, दिनभर थोड़ी-थोड़ी मात्रा में प्रोटीन लेना ज्यादा फायदेमंद होता है। अगर आपके खाने से आपको जरूरी प्रोटीन नहीं मिल रहा है, तो आप प्रोटीन सप्लीमेंट्स भी ले सकते हैं।

गाइडलाइन के मुताबिक, आप अपने तीनों समय की डाइट में, हर बार 25-35 ग्राम और दो-तीन बार नाश्ता करते वक्त, हर बार 10-20 ग्राम प्रोटीन से भरपूर चीजें खा सकते हैं। या फिर, आप किसी दूसरे डाइट से भी अपने वजन के हरेक किलो के लिए, एक से डेढ़ ग्राम प्रोटीन ले सकते हैं।

3. क्या कोई COVID-19 से एक से ज्यादा बार संक्रमित हो सकता है?

डॉ. शर्मा: हाँ! दोबारा संक्रमण की संभावना ज्यादा रहती है। COVID-19 से बचाव के लिए, सभी को इससे जुड़ी सावधानियां बरतनी चाहिये। जैसे- मास्क लगाना, उचित दूरी बनाये रखना, हाथ धोते रहना, जरूरत न होने पर घर से बाहर नहीं निकलना आदि। हालांकि, ठीक होने के तुरंत बाद ही वापस से संक्रमण का खतरा नहीं होता है। लेकिन, तीन से छह महीने बाद दोबारा संक्रमण हो सकता है।

4. ठीक होने के बाद कब हल्का व्यायाम शुरू कर सकते हैं?

Post Covid Care
Dr. Bela Sharma

डॉ. शर्मा: यह इस बात पर निर्भर करता है कि ठीक होने के बाद, आप कैसा महसूस कर रहे हैं। हमने देखा है कि ठीक होने के लगभग दो से तीन सप्ताह बाद, मरीज अपनी डेली-रूटीन या दिनचर्या में वापस आने लगते हैं। कुछ मरीज तेजी से अपने सामान्य जीवन में वापस आ जाते हैं, जबकि कुछ को चार सप्ताह के बाद भी थकान और शरीर में दर्द महसूस होता है। अपने शरीर के संकेतों को समझें और उसी आधार पर अपनी डेली-रूटीन फॉलो करें।

Advertisement

5. किस तरह के खाने से परहेज करना चाहिये?

डॉ. बत्रा: ऐसी चीजें, जो तली हुई और वसा या चीनी से बनी होती हैं, उन्हें नहीं खाना चाहिये। क्योंकि, ये शरीर को किसी भी तरह के पोषक तत्व नहीं देते हैं। दूसरे शब्दों में कहें तो, आपको सिर्फ बिना कैलरी वाली डाइट ही लेनी चाहिये। साथ ही, ठंडे, खट्टे, प्रोसेस्ड और मसालेदार खाने से भी परहेज करना चाहिये। जब तक आप पूरी तरह से ठीक नहीं हो जाते, तब तक नरम और आसानी से पचने वाली डाइट ही लें।

6. शराब का सेवन कब और कितनी मात्रा में किया जा सकता है?

डॉ. बत्रा: हम सभी जानते हैं कि धूम्रपान फेफड़ों के लिए अच्छा नहीं है, लेकिन कम ही लोग जानते हैं कि शराब पीने से फेफड़ों पर भी प्रभाव पड़ता है। ज्यादा शराब पीने से न सिर्फ COVID-19 के संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है, बल्कि मरीज को पूरी तरह से ठीक होने में भी काफी मुश्किल होती है। इम्यूनिटी और स्टैमिना को फिर से बढ़ाने के लिए, ठीक होने के कम से कम कुछ महीनों बाद भी, शराब या दूसरी नशीली ड्रिंक्स से दूरी बनाये रखना जरूरी है।

नोट: शराब का सेवन स्वास्थय के लिए हानिकारक है। शराब पीकर गाड़ी न चलाएं।

COVID-19 से ठीक हो रहे मरीजों के लिए डॉ. बत्रा का डाइट प्लान:

Post Covid Care
Representational image

  • अपने दिन की शुरुआत कुछ भीगे हुए बादाम और अखरोट के साथ, एक ग्लास बादाम का दूध या डेयरी का दूध पीने से करें।
  • सुनिश्चित करें कि आप पोषण से भरपूर नाश्ता ले रहे हैं। इसमें आप ओटमील पैनकेक, सब्जियों से भरपूर ऑमलेट के साथ मल्टीग्रेन टोस्ट, हरी सब्जियां, उबले हुए अंडे के साथ दलिया, सब्जियों के साथ मूंग दाल या बेसन का चीला, चटनी के साथ मल्टीग्रेन डोसा आदि शामिल कर सकते हैं।
  • सुबह के नाश्ते में फलों के साथ, स्प्राउट्स, फ्रूट चाट, भुने हुए चनों से बना सत्तू ड्रिंक या चना चाट शामिल करना चाहिये।
  • दोपहर के भोजन में सब्जियों के साथ घर पर बने मल्टीग्रेन आटा के फुल्के या रोटियां और प्रोटीन के लिए दाल/ चिकन या मछली को शामिल करना चाहिये। रोटियों को प्रोटीन से भरपूर बनाने के लिए, आप आटे में चना/ सत्तू या सोया का आटा मिला सकते हैं। आप सब्जियों से भरपूर खिचड़ी या दाल-चावल और अपने पसंद की सब्जियां भी खा सकते हैं।
  • दोपहर बाद के नाश्ते में कुछ बादाम या अखरोट और सूखे मेवों के साथ एक चम्मच कद्दू के बीजों को खाना चाहिये। नट्स और सीड्स का ट्रेल मिक्स भी एक अच्छा विकल्प है।
  • शाम के नाश्ते में प्रोटीन से भरपूर चीजें, जैसे- बेसन का चीला/ उबले हुए अंडे/ ऑमलेट/ स्प्राउट्स चाट शामिल करना चाहिये। या फिर आप, कुछ भुने हुए चनों के साथ मखाने भी खा सकते हैं।
  • रात के खाने में सब्जियों के साथ मल्टीग्रेन रोटी और प्रोटीन से भरपूर चीजों को शामिल करके, एक संतुलित डाइट लेनी चाहिये।

महत्वपूर्ण बातें: रात का खाना, सोने से कम से कम दो से तीन घंटे पहले खाना जरूरी है। COVID-19 से ठीक होने के बाद, कुछ मरीजों में गैस्ट्रिक की समस्या होने लगती है, इसलिए आप एक बार में ज्यादा खाने की बजाय, हल्का भोजन करें।

मूल लेख: विद्या राजा

संपादन- जी एन झा

यह भी पढ़ें: पुराने पेट्रोल-स्कूटर के बदले नयी ई-बाइक, ऑनलाइन एक्सचेंज सिर्फ 10 मिनट में

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें।

Post Covid Care Post Covid Care Post Covid Care Post Covid Care Post Covid Care Post Covid Care Post Covid Care

Advertisement
close-icon
_tbi-social-media__share-icon