Search Icon
Nav Arrow

5 यूट्यूब चैनल, जहाँ से आप सीख सकते हैं गार्डनिंग

चाहे आप इंडोर प्लांट्स लगाकर अपने घर को सजाना चाहते हों, या खुद सब्ज़ियां उगाकर पौष्टिक खाना चाहते हों, यहाँ दिए 5 यूट्यूब चैनल पर जाकर आप गार्डनिंग से सबंधित हर जानकारी पा सकते हैं।

Advertisement

हम सब जानते हैं कि घरों में पेड़-पौधे लगाने से न सिर्फ हरियाली बढ़ती है, बल्कि एक सकारात्मक ऊर्जा भी आती है। गार्डनिंग, बहुत से लोगों के लिए तनाव दूर करने की एक थेरेपी की तरह है। तो वहीं बहुत से लोग ऐसे भी हैं, जो अपने घर-परिवार को रसायन मुक्त फल-सब्जियां खिलाना चाहते हैं और इसलिए खुद सब्ज़ियां उगाना चाहते हैं। आप गार्डनिंग जिस भी वजह से करना चाहें, लेकिन इससे आपको सिर्फ फायदा ही मिलता है। पिछले कुछ सालों में, गार्डनिंग के प्रति लोगों की जागरूकता बढ़ी है। इसके मुख्य कारण हैं- सोशल मीडिया और यूट्यूब (Youtube Gardening Channels) जैसे प्लेटफार्म, जहाँ पर देशभर के लोग आपस में जुड़ रहे हैं और एक-दूसरे से सीख रहे हैं। अगर आपको पेड़-पौधों के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है, तब भी आप गार्डनिंग कर सकते हैं। क्योंकि गार्डनिंग सीखने के लिए, आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं है। आपको बस यूट्यूब का सही उपयोग करना है। जी हाँ! आज सैकड़ों गार्डनिंग यूट्यूब चैनल हैं, जिन्हें आप फॉलो कर सकते हैं और सब तरह के पेड़-पौधों के बारे में सीख सकते हैं। 

आज द बेटर इंडिया आपको ऐसे ही पाँच यूट्यूब गार्डनिंग चैनल के बारे में बता रहा है, जिनकी मदद से आप गार्डनिंग शुरू कर सकते हैं। इन चैनलों को फॉलो कर आप मिट्टी कैसे तैयार करें, अपने प्लांटर खुद कैसे बनाएं, खाद कैसे बनाएं और किस मौसम में कौन से पौधे लगाएं आदि सीख सकते हैं। इन यूट्यूब चैनलों को चलाने वाले सभी लोग अपने घरों में गार्डनिंग कर रहे हैं। वे अपने अनुभव के आधार पर लोगों के लिए, गार्डनिंग से संबंधित वीडियो (Youtube Gardening Videos) बनाकर साझा करते हैं। इन सभी का उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा लोगों को गार्डनिंग के बारे में जानकारी देकर, उन्हें बागवानी करने के लिए प्रेरित करना है। 

तो चलिए जानते हैं इन पाँच गार्डनिंग यूट्यूब चैनल के बारे में:

1. बैकयार्ड गार्डनिंग हिंदी (Backyard Gardening Hindi):

बेंगलुरु की स्वाति द्विवेदी के लिए गार्डनिंग सिर्फ उनका शौक नहीं है, बल्कि उन्होंने इसे अपना पेशा भी बना लिया है। इसकी झलक उनके Youtube Gardening Channel को देखकर मिलती है। लगभग 12 साल पहले, जब वह बेंगलुरु शिफ्ट हुई, तो उन्होंने अपने घर में उपलब्ध खाली जगह पर गार्डनिंग शुरू की। MBA ग्रैजुएट स्वाति के गार्डन की साग-सब्जियां, जब उनके पड़ोसियों तक पहुँचने लगी, तो बहुत से लोग उनसे आकर गार्डनिंग के टिप्स लेने लगे। 

स्वाति ने लोगों की बढ़ती दिलचस्पी को ध्यान में रखते हुए, अपना चैनल ‘बैकयार्ड गार्डनिंग’ शुरू किया। उनके यूट्यूब पर दो चैनल हैं, एक पर वह अंग्रेजी तथा दूसरे पर हिंदी भाषा में वीडियो पोस्ट करती हैं। उनके अंग्रेजी चैनल पर 1,12,000 और हिंदी चैनल पर 1,48,000 सब्सक्राइबर हैं। अपने चैनल पर वह हर तरह के विषयों पर वीडियो डालती हैं जैसे— सब्ज़ियाँ और फूल उगाने से लेकर, होम डेकॉर, हर्ब्स, गार्डन टिप्स आदि। 

सबसे दिलचस्प बात यह है कि अपने कुछ सब्सक्राइबर को वे निजी स्तर पर जानती हैं और उनके गार्डनिंग सफर का अहम हिस्सा रही हैं। स्वाति अपने हिंदी चैनल पर 100 से ज्यादा वीडियो अपलोड कर चुकी हैं और अंग्रेजी चैनल पर उन्होंने 200 से ज्यादा वीडियो पोस्ट की हैं। 

2. होम गार्डन (Home Garden):

उत्तर-प्रदेश के फिरोजाबाद में रहने वाले रविंद्र प्रताप साल 2016 से अपना Youtube gardening channel – Home Garden चला रहे हैं, जिसके 1.52 मिलियन सब्सक्राइबर हैं। कई सालों से अपने घर में गार्डनिंग कर रहे, प्रताप कहते हैं कि वह ज्यादा से ज्यादा लोगों को गार्डनिंग सिखाना चाहते हैं, ताकि हर कोई अपने घर में उपलब्ध खाली जगह का उपयोग हरियाली के लिए कर सके। 

उनके चैनल पर आपको बीज, कटिंग से पौधे तैयार करने की विधि, जैविक खाद, कीट प्रतिरोधक कैसे बनाएं, पौधों की छंटाई कैसे करें और पौधों की नर्सरी खुद कैसे तैयार करें आदि विषयों पर ढेरों वीडियो मिलेंगे। अगर आपने पहले कभी गार्डनिंग नहीं की है, तो आप उनके चैनल पर पेड़-पौधों के बारे में बहुत कुछ सीख सकते हैं। उन्होंने 400 से ज्यादा वीडियो अब तक यूट्यूब पर साझा किये हैं। अगर आप अपनी छत पर गार्डन सेटअप करना चाहते हैं, तो इससे संबंधित वीडियो भी आप इस चैनल पर देख सकते हैं। 

3. एबीसी ऑफ़ ऑर्गेनिक गार्डनिंग (ABC of Organic Gardening)

मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में रहने वाली 46 वर्षीया ऋतू सोनी, साल 2017 से अपनी छत पर बागवानी कर रही हैं और अपने youtube gardening channel, ‘ABC Of Organic Gardening’ के जरिए, अपने 1.7 लाख से भी ज्यादा सब्सक्राइबर को बागवानी के गुर सिखा रही हैं। ऋतू का कहना है कि जब बागवानी में उन्हें सफलता मिलने लगी और उन्हें अच्छा अनुभव हो गया, तो उनके पति ने उन्हें अपना ज्ञान और जानकारी, दूसरे लोगों से साझा करने की प्रेरणा दी। वह बताती हैं कि उन्होंने काफी समय तक बतौर स्कूल शिक्षिका काम किया है। इसलिए, उनके पति ने कहा कि अगर वह बच्चों को पढ़ा सकती हैं, तो लोगों को गार्डनिंग भी सिखा सकती हैं। 

उनके यूट्यूब चैनल पर आपको हर तरह के पेड़-पौधे लगाने के बारे में जानकारी मिलेगी। यहाँ तक कि उनके चैनल पर आप घर पर ही, कई तरह के पोषक खाद बनाना भी सीख सकते हैं। इसके अलावा, उनके कुछ वीडियो में आपको मौसम के हिसाब से गार्डन की देखभाल करने की जानकारी भी मिलेगी। ऋतू अपने चैनल पर 650 से ज्यादा गार्डनिंग वीडियो अपलोड कर चुकी हैं। उन्हें अपने लगभग सभी वीडियो के लिए, दर्शकों से बहुत अच्छी प्रतिक्रिया मिलती है।   

Advertisement

4. विजयाज़ क्रिएटिव गार्डन (Vijaya’s Creative Garden): 

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में रहने वाली विजया तिवारी, पिछले कई सालों से अपनी छत पर बागवानी कर रही हैं। उनके टेरेस गार्डन की सबसे दिलचस्प बात यह है कि आपको यहाँ ‘बेस्ट आउट ऑफ़ वेस्ट’ के काफी बेहतरीन उदाहरण देखने को मिलेंगे। साथ ही, वह अपने गार्डनिंग यूट्यूब चैनल के माध्यम से बहुत से लोगों को ‘ज़ीरो बजट गार्डनिंग’ (Zero Budget Gardening) या कम से कम लागत में गार्डनिंग के ‘क्रिएटिव’ तरीके सिखा रही हैं। उनके डेढ़ लाख से ज्यादा सब्सक्राइबर हैं। वह बागवानी से संबंधित कई विषयों पर वीडियो बनाती हैं, ताकि पहली बार बागवानी कर रहे लोगों की मदद हो सके। वह कहती हैं कि चैनल के नाम में ‘क्रिएटिव’ शब्द उन्होंने इसलिए लगाया है, क्योंकि वह लोगों को रचनात्मक तरीकों से बागवानी करना सिखाती हैं।

कई तरह के पेड़-पौधे लगाने के तरीके बताने के साथ-साथ, विजया घर में उपलब्ध चीजों से भी गार्डनिंग करना सिखाती हैं। अपने बहुत से वीडियो में, वह बेकार चीजों से गमले बनाना या गार्डन डेकॉर बनाना सिखाती हैं, तो पौधे उगाने के लिए, वह ज्यादातर कटिंग या घर में ही उपलब्ध साग-सब्जियों के बीजों का इस्तेमाल करना बताती हैं। उनका उद्देश्य लोगों के इस भ्रम को दूर करना है कि गार्डनिंग करने के लिए बहुत पैसे खर्च करने पड़ते हैं। 

5. गीक्स ऑफ़ ग्रीन्स (Geeks of Green):

अगर आप किसी मेट्रो शहर के फ्लैट या अपार्टमेंट में रहते हैं, जहाँ ज्यादा धूप नहीं आती, लेकिन गार्डनिंग करने के इच्छुक हैं, तो आपको यह चैनल फॉलो करना चाहिए। महाराष्ट्र में ठाणे की रहने वाली एनेट मैथ्यू, लगभग आठ सालों से अपने घर में बागवानी कर रही हैं और इसके साथ ही, वह ‘Geeks of Green‘ नाम से अपना Youtube gardening channel भी चलाती हैं। 

उनके चैनल पर आपको अपार्टमेंट में किस तरह के पेड़-पौधे लगाने चाहिए, कैसे इनकी देखभाल करनी चाहिए और गार्डनिंग से संबंधित अन्य विषयों पर भी जानकारी मिलेगी। साल 2018 में, उन्होंने अपना गार्डनिंग चैनल शुरू किया था और आज उनके 60 हजार से ज्यादा सब्सक्राइबर हैं। उनका कहना है कि बहुत से लोगों की इच्छा अपने घर में साग-सब्जियां उगाने की होती है, लेकिन सीमित जगह और कम धूप के चलते वे ऐसा नहीं कर पाते हैं। लेकिन, हार मानने की बजाय लोगों को और विकल्प सोचने चाहिए जैसे- उन्हें देखना चाहिए कि अपने घर के हिसाब से वे कौन से पेड़-पौधे लगा सकते हैं। 

अब तक वह अपने चैनल पर 100 से ज्यादा वीडियो साझा कर चुकी हैं और उन्हें लोगों से अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है। 

इन पाँच गार्डनिंग यूट्यूब चैनल के अलावा, और भी बहुत से गार्डनिंग चैनल यूट्यूब पर उपलब्ध हैं और वह भी अलग-अलग भाषाओं में। जैसे- अगर आप तेलुगु भाषी हैं तो आंध्रप्रदेश के विशाखापट्टनम में रहने वाली, माधवी गुत्तिकोंडा का यूट्यूब चैनल ‘मैड गार्डनर’ फॉलो कर सकते हैं और अगर तमिल भाषी हैं तो स्टेफी उलगाम यूट्यूब चैनल फॉलो कर सकते हैं। आज आपको घर में लगाए जाने वाले लगभग सभी तरह के पेड़-पौधों की जानकारी यूट्यूब पर मिल सकती है। जरूरत है, तो बस एक शुरुआत करने की। 

तो देर किस बात की, आज ही देखें गार्डनिंग से संबंधित यूट्यूब वीडियो और शुरू करें अपना गार्डनिंग का सफर। 

हैपी गार्डनिंग!

संपादन- जी एन झा

यह भी पढ़ें: टेरेस गार्डन के साथ ‘कंपोस्टिंग फैक्ट्री’ भी, खुद बनाती हैं लगभग 60 किलो जैविक खाद

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें।

Advertisement
_tbi-social-media__share-icon