Search Icon
Nav Arrow

एक कदम समानता की ओर! अब केरल में ट्रांसजेंडर्स को भी मिलेगी पेंशन!

Advertisement

केरल की लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट की सरकार ने शुक्रवार को अपने बजट में 60 वर्ष से ज्यादा उम्र के ट्रांसजेंडर्स के लिए पेंशन की घेषणा कर दी।

एक साल पहले ही केरल ने इनके प्रति भेदभाव रोकने के लिए ट्रांसजेंडर पॉलिसी की शुरूआत की थी। ट्रांसजेंडर पॉलिसी बनाने वाला, केरल, भारत का पहला राज्य है। अब पेंशन स्कीम की शुरूआत करके केरल सरकार ने ट्रांसजेंडर्स को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए एक कदम और आगे बढ़ाया है।

transgender
Picture for representation only. Source: Flickr

 

“हर समुदाय के लोगों के अधिकारों की रक्षा करना हमारी प्रतिबद्धता है। हम ट्रांसजेंडर्स समुदाय के लोगों के लिए पेंशन स्कीम की शुरूआत करेंगे“, राज्य के वित्त मंत्री थोमस इसाक ने बजट पेश करते हुए कहा।  पेंशन की राशी के बारे में में अभी कुछ नहीं बताया गया है।

 

Advertisement
ट्रांसजेडर समुदाय हमेशा से ही समाज की उपेक्षा की शिकार रहा है। पढाई, नौकरी, और सरकारी सुविधाओं का लाभ लेने के लिए इन्हें कड़ा संघर्ष करना पड़ता है। पुलिस के अनुसार राज्य में 176 रजिस्टर्ड ड्रांसजेडर्स हैं। पर सामाजिक कार्यकर्ता बताते है कि केरल में करीब 30,000 ट्रांसजेंडर्स रहते है।

 

फिलहाल, केरल में इनके लिए पेंशन स्कीम का लागू होना इनके अधिकारों की रक्षा के लिए एक व्यवहारिक प्रयास है। इससे अन्य राज्यों में भी ट्रांसजेंडर्स को एक उम्मीद दिखाई देगी।

 

यदि आपको ये कहानी पसंद आई हो या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ बांटना चाहते हो तो हमें contact@thebetterindia.com पर लिखे, या Facebook और Twitter (@thebetterindia) पर संपर्क करे।

Advertisement
close-icon
_tbi-social-media__share-icon