in ,

#IamBrandBihar – बिहार और बिहारियों के बारे में हमारी सोच को बदलने की एक मुहिम !

फिल्म “ उड़ता पंजाब” में बिहार की जो छवि दिखाई गयी है, वो छवि पुरे बिहार का प्रतिनिधित्व नहीं कर सकती है। भारत के हर हिस्से में विविधता है और आप किसी एक व्यक्ति को उस हिस्से की छवि नहीं मान सकते। इसी बात को कहने के लिए और बिहार की छवि को एक नयी परिभाषा देने के लिए बंगलुरु के रहने वाले २५ वर्षीय छात्र, बशर हबीबुल्लाह ने एक ऑनलाइन मुहिम छेडी है।

इस मुहिम की शुरुआत २२ तस्वीरों से हुई थी जिनमे अलग अलग पेशे के लोगों ने अपने हाथ में #IamBrandBihar की तख्ती ले रखी थी। धीरे धीरे ये कारवां बड़ा होता गया और अधिक लोग इसमें जुड़ते गये जिसमे ‘सुपर 30’ के संचालक आनंद, कार्टूनिस्ट पवन टून, आई पी एस अफसर विकास वैभव भी शामिल हैं।

bihar

ये मुहिम अपने शुरू होने के १० दिनों के अन्दर ही वायरल हो गयी है। इसे सोशल मीडिया पर दिल खोल के स्वीकारा गया है और हज़ारों शेयर्स और लाखों लाइक्स मिले हैं।

Amulya

इन सब की शुरुआत तब हुई थी जब उड़ता पंजाब का ट्रेलर देखने के बाद एक लेखिका स्वाति कुमारी जो की पटना बीट्स के लिए लिखती हैं ने आलिया भट्ट के नाम खुला ख़त लिखा था। पटना बीट्स एक वेबसाइट है जो बिहार की सही छवि को सामने लाने में प्रयासरत है। इसके बाद उन्होंने अपने मित्र हबीबुल्लाह के साथ मिल कर इस मुहिम को अंजाम दिया।

बिहार के युवा वर्ग का एक बड़ा हिस्सा देश के विभिन्न हिस्सों में बेहतर शिक्षा और नौकरी में अवसरों की तलाश में निकल पड़ता है और अपने जीवन का एक बड़ा हिस्सा दुसरे राज्यों में बिता देता है। दुसरे राज्यों में रहने के दौरान उन्हें बिहार के बारे में जो कुछ सुनने को मिलता है उसके बाद वो अपनी पहचान छुपाने में ही भलाई समझते हैं। वो जहाँ रहते है वहां की वेशभूषा और बोलचाल में ढल जातें है। इसी तरह भोजपुरी को बिहारी भाषा समझा जाता है जबकि बिहार में और भी कई भाषाएँ बोली जाती हैं जैसे मैथिली, अवधी और मगही ।

इस मुहिम की सफलता इस बात को साफ़ जाहिर करती है कि प्रवासी बिहारी अब बिहार की देश भर में व्याप्त छवि को बदल देना चाहते हैं और अब खुल कर सामने आना चाहते हैं। इन तस्वीरों में ये बिहारी ऐसा ही कुछ कह रहे हैं –

Anand

Ishit

 

Meenakshi Jha

Supriya Aiman

Vikas Vaibhav

bihar3

bihar4

bihar5

bihar6

 

 

https://twitter.com/JyotishBHU/status/736553396413423616

हम उम्मीद करते हैं इसके बाद बिहार को लेकर पूरे देश की सोच जरुर बदलेगी।

यदि आपको ये कहानी पसंद आई हो या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ बांटना चाहते हो तो हमें contact@thebetterindia.com पर लिखे, या Facebook और Twitter (@thebetterindia) पर संपर्क करे।

शेयर करे

Written by प्रीति पराशर

प्रीति पेशे से फ़िज़ियोथेरेपिस्ट है और सामाजिक समस्याओं के लिए आवाज उठाने की अपनी मुहिम की शुरुआत लिखने से कर चुकी है| भविष्य में भी वह सामाजिक सरोकारों के लिए कार्य करने की इच्छुक है| प्रीती पराशर को आप ट्विटर पर @Preetiparashar8 पर फॉलो कर सकते है|

One Comment

Leave a Reply
  1. यह अत्यंत आश्चर्यजनक है कि फिल्म अभी रिलीज़ नही हुई और लेखिका को यह पता च गया है कि उड़ता पंजाब में बिहारियों की छवि को लेकर भी कुछ मत व्यक्त किये गए हैं, मूलतः उड़ता पंजाब जैसा सुनने में आ रहा है पंजाब की मौजूदा सामाजिक स्थिति को बयाँ करती है

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

पुरुष छात्र भी अब दर्ज करा सकते हैं अपने पर हुए यौन उत्पीड़न की शिकायत ।

जानिये कैसे आम सेवा केंद्र ग्रामीण क्षेत्रों में ई-गवर्नेंस की क्रांति ला रहे हैं !