Placeholder canvas

कम लागत और ढेरों फायदे, अपनाएं रेन वॉटर हार्वेस्टिंग के ये 7 तरीके

DIY Rain Water Harvesting Techniques

जब तक घर में पानी की कमी नहीं होती, इसका महत्व समझ में नहीं आता। हम सब अपने-अपने स्तर पर पानी की बचत कर सकते हैं। आज हम आपको घर पर ही रेन वॉटर हार्वेस्टिंग के 7 तरीके बता रहे हैं, जिनसे आप पानी की कीमती बूंदों को बचा सकते हैं।

क्या आप जानते हैं कि अगर बैंगलोर शहर, Rain Water Harvesting Techniques के ज़रिए बारिश के पानी का 30% भी स्टोर करे, तो मौजूदा समय में शहर में पानी की आपूर्ति कर रही कावेरी नदी से भी ज्यादा पानी यहां हो सकता है। पानी की कमी के साथ ही, यहां बिजली के बिल में भी भारी कटौती हो सकती है!

पानी… जब तक घर में पानी की कमी नहीं होती, इसका महत्व समझ में नहीं आता। पानी के बिना जीवन की कल्पना करना भी मुश्किल है। हम सब अपने-अपने स्तर पर पानी की बचत कर सकते हैं। आज हम आपको घर पर ही रेन वॉटर हार्वेस्टिंग के 7 तरीके बता रहे हैं, जिनसे आप पानी की कीमती बूंदों को बचा सकते हैं।

1. Rain Water Harvesting Technique: रेन बैरल लगाएं

Rain barrel
Rain barrel

बारिश के पानी को बचाने का सबसे आसान तरीका है, रेन बैरल लगाना। किसी बड़े, पुराने ड्रम या कूड़ेदान का इस्तेमाल करते हुए रेन बैरल बनाया जा सकता है। घर की छत और बरामदे से बारिश के पानी को इकट्ठा करने के लिए पाइप का इस्तेमाल किया जाता है।

बैरल पर मच्छर न पनपें, इसके लिए इसे कसकर बंद किया जाता है। मच्छरों से बचने के लिए स्टोर किए गए बारिश के पानी में एक बड़ा चम्मच वेजिटेबल ऑयल भी मिलाया जा सकता है। यह पानी की सतह पर एक परत बना देता है और लार्वा तक ऑक्सीजन नहीं पहुंचने देता, जिससे वे मर जाते हैं। 

2. रेन गार्डन बनाएं

Rain Water Harvesting Techniques: rain-garden
Rain Garden

रेन गार्डन एक Rain Water Harvesting Technique है, जो ज़मीन के निचले या धंसे हुए हिस्से में बनाया गया एक बगीचा होता है, जिसमें पानी से प्रदूषकों को हटाने के लिए देशी पौधों, स्थानीय मिट्टी और गीली घास का उपयोग किया जाता है।

How Rain Garden Works
How Rain Garden Works

यहां जमा हुआ पानी ज़मीन में रिसता है। इसे बनाना आसान भी है और यह पूरे साल काफी खूबसूरत भी दिखता है।

इसके अलावा, पर्यावरण पर भी इसका सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। यहां देखें कि अपने घर के आंगन में रेन गार्डन कैसे बना सकते हैं।

3. Rain Water Harvesting Technique: अपनी खुद की DIY रेन चेन बनाएं

rain chain
rain chain

रेन चेन न केवल आसानी से बनाए जा सकते हैं, बल्कि दिखने में भी काफी खूबसूरत लगते हैं। इसे रेन वॉटर हार्वेस्टिंग के लिए इस्तेमाल होने वाले पीवीसी (पॉलीविनाइल क्लोराइड) पाइप डाउनस्पॉउट्स की जगह लगाया जा सकता है, जो दिखने में काफी आकर्षक लगते हैं।

ये फ़ैशनेबल और इकोफ्रेंड्ली होते हैं। यहां बारिश का पानी पाइप के ज़रिए कंटेनर में जमा होता है। यहां देखें DIY रेन चेन बनाने के तरीके और तय करें कि आपके घर के लिए कौन सा तरीका अच्छा लगेगा!

4. अपने कुओं और बोरवेल को रिचार्ज करें

Rain Water Harvesting Techniques: recharge well
recharging well

इस Rain Water Harvesting Technique के तहत, छत से बारिश का पानी पाइपों के ज़रिए खोदे गए कुएं में जाता है, ताकि भूमिगत एक्वीफर्स को फिर से भरा जा सके। पानी को साफ करने के लिए पाइप में फिल्टर लगाए जाते हैं। इस विचार के आधार पर, त्रिशूर का ‘माजापोलिमा ’(बाउंटी ऑफ रेन) रिचार्ज प्रोजेक्ट शुरु हुआ था।

नतीजतन, आज त्रिशूर में न केवल गर्मियों में अच्छी मात्रा में पानी आराम से मिल जाता है, बल्कि कुंओं में पानी का खारापन और मैलापन भी कम हुआ है, जिसकी वजह से इसका रंग भी हल्का हो गया है।

बोरवेल के लिए एक रिचार्ज पिट भी अच्छा विकल्प है, क्योंकि यह सतही जल को वापस ग्राउंड वॉटर सिस्टम में भेजता है। आमतौर पर, एक रीचार्ज पिट, एक मीटर व्यास और छह मीटर गहरा होता है। इसमें कंक्रीट के छल्ले होते हैं, जिनमें छेद होता है। इस छेद से फ़िल्टर्ड पानी रिसता है और ग्राउंड वॉटर टेबल में बढ़ोतरी होती है।

5. एक स्प्लैश ब्लॉक बनाएं

Rain Water Harvesting Techniques: splash block
splash block

बारिश के बहते हुए पानी को घर की नींव से दूर करने के लिए स्प्लैश ब्लॉक बनाना एक अच्छा विकल्प है। यह मोटे तौर पर रेक्टैंगुलर आकार का कंक्रीट या प्लास्टिक का एक टुकड़ा होता है, जिसे डाउनस्पॉउट के नीचे रखा जाता है।

यह छत से निकलने वाले पानी के फोर्स को कम करता है, जिससे बगीचे में पानी के तेज़ बहाव के कारण बनने वाले गड्ढे नहीं बनते हैं। यहां देखें कि इसे आप खुद कैसे बना सकते हैं। 

6. Rain Water Harvesting Technique: रेन सॉसर बनाएं

rain saucer
rain saucer

अगर आप बिना किसी परेशानी के बारिश के पानी को इकट्ठा करने के लिए एक बढ़िया DIY तरीके की तलाश कर रहे हैं, तो रेन सॉसर एक सही विकल्प है। यह एक उल्टी छतरी की तरह दिखता है। इससे एक फनल लगा होता है, जिसके ज़रिए बारिश का पानी कंटेनरों में गिरता है।

चूंकि इसमें बड़ी आसानी से बारिश का पानी सीधा गिरता है, तो इससे पानी के गंदा होने की संभावना भी कम हो जाती है। यहां देखें कि आप इसे कैसे बना सकते हैं।

7. बारिश के पानी के लिए एक जलाशय

A Reservoir for Rain
A Reservoir for Rain

बारिश का पानी जो छत पर गिरता है, वह एक पाइप के माध्यम से एक बड़े नाद या टैंक में स्टोर किया जाता है। बारिश का पानी टैंकों में जमा होने से पहले फिल्टर के माध्यम से शुद्ध किया जा सकता है। कारों की धुलाई और बगीचों में पौधों को पानी देने के लिए, स्टोर किए गए बारिश के पानी का उपयोग किया जा सकता है। इससे ग्राउंड वॉटर के इस्तेमाल को कम करने में मदद मिलती है।

अर्थव्यवस्था और पर्यावरण के लिए यह एक बेहतर तरीका है। इससे ऊर्जा बचाने में भी मदद मिलती है, साथ ही बिजली के बिल में भी कटौती की जा सकती है। 

रेन वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम के और तरीकों के बारे में जानने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। आप बैंगलोर के जयनगर में सुंदर रेन वॉटर हार्वेस्टिंग थीम पार्क या चेन्नई के रेन सेंटर भी जा सकते हैं, जहां आपको कई मॉडल देखने को मिलते हैं और आप कई तरह के रेन वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम के बारे में जान सकते हैं।

बुनियादी रेन वॉटर हार्वेस्टिंग डिजाइन के लिए यहां क्लिक कर, इंजीनियरों के साथ मुफ्त परामर्श भी ले सकते हैं। तो इस बार, जब बारिश होगी, तो आप बारिश का मजा लेने के साथ, इसकी कीमती बूंदों को अपने तरीके से बचाने के लिए भी पूरी तरह तैयार रहें।

मूल लेखः संचारी पाल

संपादनः अर्चना दुबे

यह भी पढ़ेंः रिटायर्ड प्रोफेसर ने बनाया रेन वॉट हार्वेस्टिंग सिस्टम, 2 सालों में गाँव हुआ सूखा मुक्त

We at The Better India want to showcase everything that is working in this country. By using the power of constructive journalism, we want to change India – one story at a time. If you read us, like us and want this positive movement to grow, then do consider supporting us via the following buttons:

Let us know how you felt

  • love
  • like
  • inspired
  • support
  • appreciate
X