Search Icon
Nav Arrow
ICSE And ISC Board Exams

क्या आप भी ICSE/ISC बोर्ड परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं? सीखिए बेहतर तैयारी के 5 टिप्स

ICSE/ISC की बोर्ड परीक्षा की तारीखों की घोषणा हो चुकी है। इनकी तैयारी से जुड़े पांच बेहद जरूरी और आसान तरीके बता रही हैं, दिल्ली-एनसीआर में रहने वाली अंग्रेजी टीचर, गगनप्रीत अहलूवालिया।

Advertisement

इस लेख के प्रायोजक ओसवाल पब्लिशर्स हैं।

‘इंडियन सर्टिफिकेट ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन’ (ICSE) की 10वीं की बोर्ड परीक्षा 4 मई से 7 जून 2021 तक चलेगी। इसके साथ ही, ‘इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट’ (ISC) की 12वीं की परीक्षा की तारीख भी घोषित हो गई हैं। जो 8 अप्रैल से 16 जून 2021 तक होगी। देशभर से लाखों छात्र इन परीक्षाओं (ICSE And ISC Board Exams) में शामिल होंगे। परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए, रीविज़न टिप्स और रणनीतियां, निश्चित तौर पर बहुत लाभदायक होती हैं।

दिल्ली-एनसीआर में रहने वाली 42 वर्षीया गगनप्रीत अहलूवालिया, एक शिक्षिका हैं। उन्होंने परीक्षा की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए, कुछ लाभदायक सुझाव और टिप्स बताए हैं।

पूरा सिलेबस पढ़ें

छात्रों को पूरा सिलेबस पता होना जरूरी है। जिससे छात्रों को प्रत्येक टॉपिक को समझने में मदद मिलेगी तथा वे इसे ध्यान में रखते हुए, अच्छे से तैयारी और रिवीजन कर सकेंगे। जिन टॉपिक को आप अच्छी तरह जानते हैं, उन पर पहले पकड़ बनाएं। फिर उन विषयों पर काम करें, जिन पर आपको ज्यादा समय और ध्यान देने की जरूरत है।

गगनप्रीत कहती हैं, “सिलेबस को पूरी तरह पढ़ने से, आपको प्रश्नपत्र को बेहतर तरीके से हल करने में मदद मिलेगी।” इससे छात्रों को उन टॉपिक को पहचानने में मदद मिलेगी, जिन्हें समझने में उन्हें परेशानी है और वे उन परेशानियों को दूर करने के लिए, किसी की मदद ले सकते हैं।

परिभाषाएँ और फॉर्मूले

छात्रों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वे टेक्स्टबुक में उल्लेख की गई, सभी परिभाषाओं और फॉर्मुलों से अच्छी तरह वाकिफ हों। इसमें से, किसी भी परिभाषा और फॉर्मूले को छोड़ देने या न याद करने की कोई गुंजाइश नहीं है। इन्हें याद रखना बेहद जरूरी है। फीजिक्स और केमिस्ट्री में डैरिवेशंस एक निर्धारित पैटर्न का पालन करते हैं और छात्रों को बस उनका अनुसरण करने की जरूरत है। गगनप्रीत कहती हैं, “इन मूल बातों के अलावा, आप अतिरिक्त कंटेंट को पढ़ने या समझने के चक्कर में, खुद को भ्रम में न डालें। जो आपके शिक्षक आपको सिखाते हैं, उसका पालन करें।”

पिछले वर्षों के प्रश्नपत्रों को हल करें

ICSE And ISC Board Exams

गगनप्रीत छात्रों को कम से कम, पिछले 10 वर्षों के प्रश्नपत्रों को हल करने की सलाह देती हैं। जो न केवल छात्रों की घबराहट को कम करने में मदद करेगा बल्कि उन्हें प्रश्नों के पैटर्न को समझने में भी मदद मिलेगी। वह कहती हैं, “स्कूलों में हम हमेशा कठिन प्रश्नपत्र सेट करते हैं और पिछले वर्षों के प्रश्नपत्रों को हल करने से, छात्रों का आत्मविश्वास ज्यादा बढ़ता है।”

गगनप्रीत आगे कहती हैं कि जैसे ही टीचर सिलेबस पूरा कर लेते हैं, वैसे ही छात्रों को पिछले साल के ज़्यादा से ज़्यादा प्रश्नपत्र हल करने की कोशिश शुरु कर देनी चाहिए। साथ ही, उन्हें यह भी सुनिश्चित करना चाहिए की वे 3 घंटे के भीतर ही, एक पूरा प्रश्नपत्र हल करें। पिछले वर्षों के प्रश्नपत्रों के लिए, छात्र गुरुकुल के 10 साल के सॉल्वड पेपर्स से भी तैयारी कर सकते हैं। उनके ICSE के 10 साल के सॉल्वड पेपर्स के लिए आप यहां और ISC के लिए यहां देख सकते हैं।

पत्रिकाओं और समाचार पत्र नियमित रूप से पढ़ें

Advertisement

ICSE And ISC Board Exams

अंग्रेजी विषय की शिक्षिका, गगनप्रीत कहती हैं कि पढ़ाई का कोई विकल्प नहीं हो सकता है। वह अपने छात्रों को अच्छी पत्रिकाओं और समाचार पत्रों को पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करती हैं। वह कहती हैं, “इन्हें पढ़ने से, छात्रों को एक मजबूत शब्दावली तैयार करने में तथा सूचनाओं को बेहतर ढंग से समझने और उन्हें याद रखने में भी मदद मिलेगी। छात्रों को इनसे बेहतर वाक्य बनाने और आंकड़ों को समझने में भी काफी मदद मिलेगी।” हो सकता है कि छात्र बड़े उत्तर लिखने के लिए स्वाभाविक रूप से रचनात्मक ना हों, लेकिन पत्रिकाएं तथा समाचार पत्र, उन्हें बेहतर बनाने में मदद करते हैं।

अनुशासन है जरूरी

ICSE And ISC Board Exams

गगनप्रीत कहती हैं, “अनुशासन आपको एक व्यवस्था में बांधता है।” छात्रों के लिए अपनी एक निश्चित दिनचर्या बनाना और अपने अध्ययन के समय को निर्धारित करना बहुत जरूरी है। याद रखें कि आप जितना समय तैयारी में लगाएंगे, उसका सीधा असर परीक्षा में आने वाले आपके अंकों पर पड़ेगा। गगनप्रीत आगे कहती हैं, “यदि आप परीक्षा में 96% लाने का लक्ष्य बना रहे हैं तो आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आप अपने सभी पेपरों में 92% से ऊपर स्कोर करें। इसलिए, ऐसी सही योजनायें बना कर ही अपनी तैयारी करें।”

यदि आप विज्ञान विषय की पढ़ाई के लिए, दो घंटे दे रहे हैं तो समान दो घंटे अंग्रेजी और हिंदी को भी दें। इसी तरह, अन्य विषयों को भी एक जैसा ही समय देना चाहिए। ओसवाल पब्लिशर्स के सैंपल पेपर्स भी, आपकी तैयारी व अभ्यास के लिए एक बेहतरीन स्त्रोत होंगे।

ओसवाल पब्लिशर्स की अधिक सामग्रियां देखने के लिए, आप उनकी वेबसाइट देख सकते हैं।

संपादन – प्रीति महावर

यह भी पढ़ें – कैसे करें CBSE 12वीं बोर्ड परीक्षा 2021 की तैयारी, टॉपर से जानिए कुछ अहम टिप्स

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें।

ICSE And ISC Board Exams ICSE And ISC Board Exams ICSE And ISC Board Exams ICSE And ISC Board Exams ICSE And ISC Board Exams ICSE And ISC Board Exams ICSE And ISC Board Exams ICSE And ISC Board Exams

Advertisement
close-icon
_tbi-social-media__share-icon