Search Icon
Nav Arrow
Bengaluru Couple

Video: मिलिए बेंगलुरु की एक ऐसी जोड़ी से, जिनके घर में न पंखा है, न बल्ब!

बेंगलुरू के रहने वाले रंजन और रेवा मलिक का घर पूरी तरह से पर्यावरण के अनुकूल है। यही कारण है कि ग्रिड पावर पर उनकी निर्भरता काफी कम हो गई है।

रंजन और रेवा मलिक बेंगलुरु के रहने वाले हैं। उनके पास 770 वर्ग फीट के दायरे में बना अपना घर है। मिट्टी से बना उनका यह घर, पूरी तरह से पर्यावरण के अनुकूल है। 

आपको  यह जानकर ताज्जुब होगा कि इनके घर में आपको न बल्ब मिलेगा और न ही पंखा। यही कारण है कि ग्रिड पावर पर उनकी निर्भरता काफी कम हो गई है। खास बात यह है कि उन्होंने अपनी बिजली की जरूरतों को पूरा करने के लिए अपनी छत पर सोलर पैनल लगा लिया है।

इस घर को डिजाइन कंसल्टेंसी फर्म माहिजा द्वारा बनाया गया है। इस घर को स्थानीय रूप से उपलब्ध संसाधनों और रीसायकल किए गए सामानों से बनाया है। जिससे इसमें पारंपरिक संरचना की तुलना में 15 फीसदी तक कम खर्च आया।

Advertisement

इसे लेकर रेवा कहतीं हैं, “हमने अपना अधिकांश समय शहर में गुजारा। लेकिन, हम प्रकृति के नजदीक रहना चाहते थे। 2018 में, यहाँ भीषण जल संकट की खबरें आ रही थीं। इसने हमें परेशान कर दिया। फिर, इसी साल हमने अपनी जमीन पर एक इको-फ्रेंडली घर बनाने का फैसला किया।”

रेवा कहती हैं, “आज हम कई चिन्ताओं को हल्के में रहे हैं। लेकिन, शुक्र है कि हमारे घर ने सस्टेनेबलिटी के विषय में हमारी आँखें खोल दी। कम-से-कम संसाधनों के साथ जिंदगी जीने का अद्भुत आनंद है।”

देखें वीडियो –

Advertisement

यह भी देखें – Video: विदेशों की नौकरी छोड़, बुंदेलखंड में किसानों को नई राह दिखा रहे यह वैज्ञानिक

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हैं, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें। आप हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो कर सकते हैं।

Bengaluru Couple, Bengaluru Couple, Bengaluru Couple, Bengaluru Couple, Bengaluru Couple

Advertisement

close-icon
_tbi-social-media__share-icon