गुरुवार को वरिष्ठ आईपीएस अफसर आलोक कुमार वर्मा को सेंट्रल बिऊरीयो ऑफ़ इन्वेस्टीगेशंस (सीबीआई) के प्रमुख के तौर पर नियुक्त किया गया। आलोक कुमार देश के 27वें सीबीआइ प्रमुख होंगे।

Alok_Kumar_Verma

Photo source: Wikimedia 

अरुणाचल प्रदेश-गोवा-मिजोरम और केंद्रशासित प्रदेश (एजीएमयूटी) कैडर के 1979 बैच के आईपीएस अधिकारी वर्मा ने फरवरी, 2016 को दिल्ली पुलिस आयुक्त की जिम्मेदारी संभाली थी।

59 वर्षीय वर्मा दिल्ली पुलिस, अंडमान निकोबार, पुडुचेरी, मिजोरम और आईबी में विभिन्न पदों पर सेवाएं दे चुके हैं। दिल्ली पुलिस आयुक्त बनने से पहले वह तिहाड़ जेल के महानिदेशक थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय समिति ने उनके नाम को मंजूरी दी।समिति में भारत के प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति जगदीश सिंह खेहर और लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे भी हैं।

वर्मा के साथ सीबीआई प्रमुख की दौड़ में भारत तिब्बत सीमा पुलिस :आईटीबीपी: के महानिदेशक कृष्ण चौधरी और महाराष्ट्र के पुलिस महानिदेशक एस सी माथुर आदि के नाम भी चल रहे थे।

सीबीआई प्रमुख के रूप में वर्मा का दो साल का निश्चित कार्यकाल होगा। सीबीआई निदेशक के पद से दो दिसंबर को अनिल सिन्हा के सेवानिवृत्त होने के बाद एक महीने से अधिक वक्त से यह पद खाली था।

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ बांटना चाहते हो तो हमें contact@thebetterindia.com पर लिखे, या Facebook और Twitter (@thebetterindia) पर संपर्क करे।

शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published.