Search Icon
Nav Arrow

#DIY: जानिए कैसे 6 तरीकों से बना सकते हैं पेड़-पौधों के लिए पॉटिंग मिक्स

इन आसान 6 #DIY तरीकों से बना सकते हैं अपने घर के टेरेस या किचन गार्डन के लिए पोषण से भरपूर पॉटिंग मिक्स!

Advertisement

अगर आप अपने घर में गार्डन लगा रहे हैं तो, सबसे महत्वपूर्ण है ‘ग्रोइंग मीडियम’ यानी कि, वह चीज़ जिसमें आप पौधे उगाएंगे। जहां ज़्यादातर लोग मिट्टी में ही पौधे उगाते हैं वहीं आजकल, बड़े शहरों में बिना मिट्टी के भी पेड़-पौधे उगाने का प्रचलन जोरों पर है। बहुत से लोगों को यह सुनने में अटपटा भी लगता है कि, कोई बिना मिट्टी  के कैसे पौधे उगा सकता है? हमारे आस-पास बहुत-सी ऐसी चीज़ें हैं, जिनसे हम पौधों के लिए एक अच्छा पॉटिंग मिक्स (Potting Mix) तैयार कर सकते हैं। आप चाहें तो, इनमें मिट्टी का प्रयोग कर सकते हैं। अगर मिट्टी उपलब्ध नहीं है तो भी, आप एक अच्छा ‘पॉटिंग मिक्स’ (Potting Mix) तैयार कर सकते हैं। 

उत्तर-प्रदेश के गोरखपुर में ‘टेरेस गार्डनर’ब्रह्मदेव कुमार, बता रहे हैं कि, कैसे आप घर पर ही पौधों के लिए 6 तरह के पोषक ‘पॉटिंग मिक्स’ तैयार कर सकते हैं। वह पिछले कई सालों से गार्डनिंग कर रहे हैं और इन्हीं विधियों से ‘पॉटिंग मिक्स’ बनाते हैं जो, पेड़-पौधों के लिए तथा जो लोग गमलों या कंटेनर में कम जगह में पेड़-पौधे उगा रहे हैं, बहुत ही लाभदायक हैं। क्योंकि इससे मिट्टी की मात्रा सीमित हो जाती है, और खेतों की तरह इन्हें, अन्य किसी तरह का पोषण नहीं मिलता। इसलिए ज़रूरी है कि, घर पर गार्डनिंग के लिए ‘पॉटिंग मिक्स’ बनाकर ही पेड़-पौधे लगाए जाएँ। 

ब्रह्मदेव, ‘पॉटिंग मिक्स’ तैयार करने के 6 तरीके बताते हैं। जिनमें से 3, बिना मिट्टी के तैयार किए जा सकते हैं। 

इन सभी ‘पॉटिंग मिक्स’ में एक चीज़ कॉमन है, और वह है ‘आर्गेनिक फ़र्टिलाइज़र’, जिसे आपको सबसे पहले बनाकर रख लेना है। 

कैसे बनाएं आर्गेनिक फ़र्टिलाइज़र: 

यह 5 अलग-अलग जैविक चीज़ों का मिश्रण है जो, किसी भी पौधे की उर्वरकता को बढ़ाती हैं। इसे बनाने के लिए आप राख, बॉन मील/रॉक फॉस्फेट/PROM फ़र्टिलाइज़र, सरसों खली/मूंगफली खली, चायपत्ती की खाद/घर पर बनी खाद, और नीम खली ले लें। अब एक चम्मच की मदद से एक कंटेनर में, ये सभी चीज़ें मिलाएं। सबसे पहले एक चम्मच राख डालें, फिर दो चम्मच बॉन मील। अब इसमें 3 चम्मच सरसों खली और 4 चम्मच खाद मिलाएं और फिर इसमें 9 चम्मच नीम खली मिला दें। 

इन सभी चीज़ों को अच्छे से मिला लें। आपका आर्गेनिक फ़र्टिलाइज़र तैयार है। अगर आप छोटे गमले के लिए ‘पॉटिंग मिक्स’ बना रहे हैं तो, अन्य चीज़ों के साथ-साथ उसमें एक चाय के कप के बराबर, यह आर्गेनिक फ़र्टिलाइज़र मिलाएं। मध्यम साइज के गमले के लिए दो, और बड़े गमले के लिए तीन कप के बराबर फ़र्टिलाइज़र मिलाएं। 

DIY Potting Mix
Different Ingredients to make potting mix

अब आपको ‘पॉटिंग मिक्स’बनाने की तैयारी करनी है। 

1. सबसे पहले सामान्य गार्डन की मिट्टी (20%) लें। अब इसमें कोकोपीट (40%), सूखे पत्ते (10%), चावल की भूसी (10%) और 20% वर्मी कम्पोस्ट मिलाएं। इन सबको अच्छे से मिला लें, और फिर इसमें कुल मात्रा का 2% आर्गेनिक फ़र्टिलाइज़र मिलाएं। मिलाते वक़्त ध्यान रखें कि, सामग्री में हल्की नमी हो। अगर यह सभी चीज़ें एकदम सूखी हुई हैं तो, आप ऊपर से पानी स्प्रे कर लें, फिर अच्छी तरह से मिलाएं। यह ‘पॉटिंग मिक्स’ की सबसे हल्की विधि है, जो छोटे पौधों के लिए उपयुक्त है। जिनकी लंबाई 1 फुट या इससे कम होती है। 

2. छोटे पेड़-पौधों के लिए बिना मिट्टी के भी, ‘पॉटिंग मिक्स’ तैयार किया जा सकता है। इसमें 50% कोकोपीट, 20% पर्लाइट, वर्मीक्यूलाइट 10%, वर्मी कम्पोस्ट 20%, इन सबको अच्छे से मिला लें, और फिर इसमें कुल मात्रा का 2% आर्गेनिक फ़र्टिलाइज़र को अच्छी तरह से मिलाएं। अगर आपके पास पर्लाइट नहीं है तो, आप उसकी जगह चावल की भूसी, और वर्मीक्यूलाइट की जगह सूखे पत्ते भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

आगे ‘पॉटिंग मिक्स’ की तीसरी और चौथी विधि, मध्यम लम्बाई के पौधे (एक से ढाई फ़ीट के बीच जिनकी लम्बाई रहती है) के लिए उपयुक्त हैं। 

Advertisement

3. तीसरा तरीका सामान्य बगीचे की मिट्टी के साथ है। इसमें आपको 20% मिट्टी, मोटी रेत 10%, कोकोपीट 40%, वर्मी कॉम्पोस्ट 30% डालें, इन सबको अच्छे से मिला लें, और फिर इसमें कुल मात्रा का 2% आर्गेनिक फ़र्टिलाइज़र को अच्छे से मिलाएं। आपका ‘पॉटिंग मिक्स’ तैयार है, जिसे आप अपने गार्डन में गमलों, और अन्य कंटेनरों में पौधे लगाने के लिए उपयोग कर सकते हैं। 

4. ‘पॉटिंग मिक्स’का चौथा तरीका बिना मिट्टी वाला है। इसमें आपको 40% कोकोपीट, चावल की भूसी या पर्लाइट 10%, सूखे पत्ते या वर्मीक्यूलाइट 10%, मोटी रेत 10%, वर्मीकम्पोस्ट 30% और अब इसमें 2% आर्गेनिक फ़र्टिलाइज़र मिलाएं। सभी सामग्री को अच्छी तरह से मिला लें। आपका ‘सॉइल लेस मीडिया’ तैयार है। 

‘पॉटिंग मिक्स’ की अन्य दो विधियाँ बड़े पौधों के लिए उपयुक्त हैं, जिनकी लम्बाई ढाई फ़ीट से ज़्यादा है। 

5. इसमें 40% सामान्य मिट्टी, 20% मोटी रेत, चावल की भूसी 10%, वर्मी कंपोस्ट 30% और इसमें 2% आर्गेनिक फ़र्टिलाइज़र डालें। सभी सामग्री को अच्छी तरह से मिला लें और फिर गमलों में डालें। इसके बाद आप इनमें कोई भी बड़े पौधे लगा सकते हैं। 

6. यह बिना मिट्टी के ‘पॉटिंग मिक्स’ तैयार करने का तरीका है। इसमें आप 30% कोकोपीट, चावल की भूसी या पर्लाइट 10%, सूखे पत्ते या वर्मीक्यूलाइट 10%, मोटी रेत 20%, वर्मीकम्पोस्ट 30% और 2% आर्गेनिक फ़र्टिलाइज़र मिलाएं। इस मिश्रणको अच्छे मिलाएं।

आपके सभी ‘पॉटिंग मिक्स’ तैयार हैं जिन्हें, आप अपने गार्डन में इस्तेमाल कर सकते हैं। याद रखें कि, जो भी ‘पॉटिंग मिक्स’ आपने मिट्टी से तैयार किए हैं, वह हमेशा वज़नी रहेंगे। इसलिए आप अगर, अपनी छत पर पड़ रहे वज़न को लेकर चिंतित हैं तो, आप बिना मिट्टी वाले ‘पॉटिंग मिक्स’ का इस्तेमाल करें। 

अधिक जानकारी के लिए आप यह वीडियो भी देख सकते हैं:

संपादन – प्रीति महावर

यह भी पढ़ें: आर्किटेक्ट के साथ बनी अर्बन किसान भी, छत पर उगा रहीं हैं किचन के लिए पर्याप्त सब्ज़ियां

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें।

Potting Mix, Potting Mix, Potting Mix

Advertisement
_tbi-social-media__share-icon