Placeholder canvas

हल्दी है हेल्दी! सर्दियों में इन पांच तरीकों से करें इस्तेमाल

use of turmeric

हमारे भोजन में स्वाद और रंग लाने के अलावा, हल्दी का उपयोग इसके औषधीय गुणों के लिए भी किया जाता है। इम्युनिटी बढ़ाने से लेकर डैंड्रफ से लड़ने तक, उठा सकते हैं इसके कई सारे फ़ायदे।

भारत के हर आम घर में सब्जी बनाने से लेकर, बच्चों के दूध तक में हल्दी का इस्तेमाल किया जाता है और हो भी क्यों न, हल्दी के फायदे होते ही इतने हैं। आपको याद होगा, बचपन में चोट लग जाने पर माँ हल्दी वाला दूध पीने को देती थी और बुख़ार हो जाए, तो भी। साथ ही इस पीले मसाले की एक चुटकी डाले बिना कोई भी भारतीय करी या व्यंजन अधूरा ही रहता है। 

खाने में स्वाद बढ़ाने और रंग जोड़ने के अलावा, हल्दी और भी कई तरह से फ़ायदेमंद है। इसके औषधीय गुणों के बारे में बात करें तो खांसी, दिल की बीमारी और यहां तक ​​कि कैंसर को दूर रखने के लिए भी यह काफ़ी उपयोगी है। हल्दी में मौजूद प्राइमरी एक्टिव इंग्रीडिएंट है कर्क्यूमिन। यह एक प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट है, जिसमें सूजन-रोधी फ़ायदे होते हैं।

सर्दी के मौसम में हल्दी उगाई भी खूब जाती है और खाई भी जाती है। इस मौसम में कुछ आम तकलीफ़ों को दूर करने में हल्दी का इस्तेमाल लगभग सभी लोग करते हैं। फिर चाहे वह मौसम बदलने की वजह से होने वाली सर्दी और फ्लू हो, या जोड़ों में दर्द की शिकायत।  

ठंड बढ़ने के साथ ही इस मसाले को अपनी दिनचर्या में शामिल करने का समय भी आ गया है। लेकिन अगर आप सोच रहे हैं कि हल्दी को कैसे और किन तरीक़ों से खाया जाए, तो चलिए ये जानते हैं-

1. दूध के साथ हल्दी के फायदे

सर्दियों में पिया जाने वाला सबसे अच्छा ड्रिंक है हल्दी वाला दूध। यह हल्दी का सेवन करने का सबसे अच्छा तरीक़ा भी है। आप गर्म दूध में हल्दी मिलाकर पी सकते हैं, यह आपका बढ़िया आहार बनेगा। इसे आप सुबह नाश्ते में या रात को सोने के पहले पी सकते हैं।

हल्दी के एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल और एंटी-फंगल गुण हमें सर्दी, फ्लू और सांस की बाक़ी बीमारियों सहित कई तरह के संक्रमणों से बचाते हैं। हल्दी दर्द को कम करने में भी मदद करती है। 

2. त्वचा के लिए सबसे अच्छी

Turmeric powder
Turmeric powder

त्वचा के लिए भी हल्दी के फायदे कई सारे हैं। घाव भरने से लेकर मुंहासे कम करने और त्वचा को मुलायम रखने तक, हल्दी के इस्तेमाल से कई फ़ायदे होते हैं। 

सर्दियों में त्वचा में नमी कम होती है, जिससे स्किन रूखी और फटी-फटी लगती है। इसके लिए हल्दी को थोड़े शहद और दूध के साथ मिलाकर त्वचा को एक्सफोलिएट करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। स्किन को हाइड्रेट रखने और ग्लो लाने के लिए हल्दी को फेस पैक की तरह भी लगाया जाता है। मुंहासे वाली त्वचा के लिए, हल्दी को गर्म पानी और शहद के साथ या एलोवेरा जेल के साथ मिलाकर लगाएं।

3. सर्दियों में रूसी के लिए हल्दी का तेल

सर्दियों में बालों के लिए भी हल्दी के फायदे अनेक हैं। इस मौसम में सिर की त्वचा भी रूखी और शुष्क होती है, जिसके कारण खुजली और रूसी हो जाती है। कई स्टडीज़ से पता चलता है कि हल्दी, बालों के लिए टॉनिक के रूप में काम करती है और रूसी को ख़त्म करने में मदद करती है। इसके साथ ही यह बालों के बढ़ने में भी उपयोगी है। इसलिए हल्दी को अपने हेयर केयर में शामिल किया जा सकता है।

डैंड्रफ से छुटकारा पाने के लिए जैतून, नारियल या जोजोबा तेल में एक चुटकी हल्दी मिलाकर स्कैल्प पर मसाज करें। इसे 10-15 मिनट के लिए छोड़ दें और शैम्पू से धो लें। दूसरा तरीक़ा यह है कि दो चम्मच हल्दी पाउडर में एक चम्मच शहद और थोड़ा सा दूध मिलाकर एक चिकना पेस्ट बना लें। इसे स्कैल्प पर हल्के हाथों से मसाज करें और 15-20 मिनट के लिए रख दें। फिर इसे धो लें।

4. हल्दी की चाय

turmeric tea
Turmeric tea

सर्दियों में गर्मा-गर्म चाय की चुस्की लेना हर किसी को पसंद होता है। कितना अच्छा होगा अगर इसमें हल्दी डालकर सेहतमंद चाय में बदल दिया जाए। चाय के रूप में हल्दी के फायदे हैं कि यह आपकी इम्युनिटी बढ़ाने में भी मदद करेगा और चेहरे पर चमक भी बढ़ेंगी।

इस चाय को बनाने के लिए उबलते पानी में हल्दी पाउडर या हल्दी के ताजे टुकड़े डालें। इसे थोड़ी देर उबालने के बाद निकाल लें। आप स्वाद बढ़ाने के लिए इसमें एक चम्मच शहद या नींबू भी मिला सकते हैं।

5. हल्दी का अचार

सर्दियों में हल्दी के फायदे थोड़े चटपटे तरीके से भी लिए जा सकते हैं, इसका इस्तेमाल स्वादिष्ट अचार बनाने के लिए कर के। यह आपके हर दिन के खाने में एक नया स्वाद भी भर देता है। ताज़ी हल्दी से आसानी से घर में अचार बनाया जा सकता है। 

कैसे बनाएं हल्दी का अचार-

सामग्री – 

  • 1 कप कच्ची हल्दी (छिली हुई और कटी हुई या कद्दूकस की हुई)
  • 1 छोटा चम्मच नमक
  • आधा छोटा चम्मच लाल मिर्च पाउडर
  • एक छोटा चम्मच अदरक पाउडर
  • आधा छोटा चम्मच हींग
  • दो छोटे चम्मच सरसों का तेल
  • तीन बड़े नींबू का रस।  

विधि-

एक पैन में तेल गर्म करें और उसमें हींग, मिर्च पाउडर, अदरक पाउडर और नमक डालें। इसे कुछ मिनट तक पकाएं और आंच बंद कर दें। फिर ठंडा होने के लिए अलग रख दें। जब यह ठंडा हो जाए, तो हल्दी और नींबू का रस मसाले के मिश्रण में मिला दें।

अचार के मिश्रण को एक एयर-टाइट जार में डालें और छह दिनों के लिए फ्रिज में रख दें। हर दिन में एक बार जार को बाहर निकाल कर हिलाएं। 6 दिन बाद अचार तैयार हो जायेगा। 

तो अब तो जान लिए न हल्दी के फायदे! इस बार सर्दियों में हल्दी को बनाएं अपना सबसे अच्छा दोस्त और बीमारियों से रहें दूर!


संपादन- भावना श्रीवास्तव   

यह भी पढ़ेंः सर्द मौसम में रंग-बिरंगे फूलों से सजाएं अपना गार्डन, लगाएं ये पांच पौधे

Sources:
Winter Munchies: 3 haldi (turmeric) recipes that are as warming as tasty, by Shreya Goswani; published by India Today on 9 December 2016.
10 Proven Health Benefits of Turmeric and Curcumin, by Healthline.
Curcumin: A Review of Its’ Effects on Human Health, by Susan J. Hewlings and Douglas S. Kalman; published by National Centre for Biotechnology Information on 22 October 2017.
Golden Milk: Are There Health Benefits?, by Dan Brennan; published by WebMD on 24 September 2020.
Curcumin and CancerPotential of Curcumin in Skin Disorders, published by National Centre for Biotechnology Information on 10 September 2019.
Effects of Turmeric (Curcuma longa) on Skin Health: A Systematic Review of the Clinical Evidence, published by National Centre for Biotechnology Information on August 2016.
Curcumin and Diabetes: A Systematic Review, published by National Centre for Biotechnology Information on 24 November 2013.
Turmeric tonic as a treatment in scalp psoriasis: A randomized placebo-control clinical trial, published by National Centre for Biotechnology Information on in June 2018.
Curcuma aeruginosa, a novel botanically derived 5α-reductase inhibitor in the treatment of male-pattern baldness: a multicenter, randomized, double-blind, placebo-controlled study, published by National Centre for Biotechnology Information on 14 July 2011.

We at The Better India want to showcase everything that is working in this country. By using the power of constructive journalism, we want to change India – one story at a time. If you read us, like us and want this positive movement to grow, then do consider supporting us via the following buttons:

Let us know how you felt

  • love
  • like
  • inspired
  • support
  • appreciate
X