10 खूबसूरत Hill Stations In India, जो इन गर्मी की छुट्टियों के लिए हैं परफेक्ट!

10 Beautiful Hill Stations In India That Are Perfect For Summer Vacations

कश्मीर से लेकर केरल तक के इन 10 खूबसूरत हिल स्टेशन पर आप छुट्टियों का भरपूर लुत्फ उठा सकते हैं।

थोड़ी शांति, सुंदर नजारे, थोड़ा रोमांच और थोड़ा मनोरंजन, छुट्टियां बिताने के लिए किसी जगह ये सब मिल जाए तो क्या कहने! इन सबके साथ कई और चीज़ों का मजा लिया जा सकता है हिल स्टेशन (Hill Stations In India) पर।

मई से लेकर जून तक पर्यटन का मौसम चरम पर होता है, इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसी जगहों के बारे में बता रहे हैं, जहां आप अप्रैल में जा सकते हैं। अप्रैल का महीना पहाड़ों की यात्रा करने के लिए अच्छा होता है और साथ ही यह अपने व्यस्त जिंदगी में छोटा सा ब्रेक लेने का भी पर्फेक्ट समय है:

1. यरकौड, तमिलनाडु (Hill Stations In India)

Hill Stations In India - Yercaud. tamil Nadu
Yercaud is known for its cool temperatures, which seldom exceed 29 degrees Celsius.

तमिलनाडु में पूर्वी घाट के शेवरॉय पहाड़ियों पर स्थित, यरकौड (Hill Stations In India) को ‘दक्षिण का गहना’ ( jewel of south ) कहा जाता है। यहां के मुख्य आकर्षण में रिजर्व फॉरेस्ट, चट्टानी पहाड़ियाँ और झील शामिल हैं।

यहां की खासियत, यहां का ठंडा तापमान है, जो शायद ही कभी 29 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा होता है। इस हिल स्टेशन में काफी मात्रा में कॉफी, संतरा, काली मिर्च, केला और नाशपाती के बागान हैं।

इन जगहों पर ज़रूर जाएं:

झील, लेज सीट, किलियुर फॉल, पैगोडा पॉइंट, आर्थरस सीट, कावेरी पीक और सर्वरायन मंदिर।

2. पोनमुडी Hill Station, केरल

10 Offbeat Indian Hill Stations In India To Plan Your Vacation This Summer
The place is replete with trekking trails, as well as rare flora and fauna like mountain flowers, wild orchids and exotic butterflies.

तिरुवनंतपुरम के कैपिटल डिस्ट्रिक्ट में स्थित पोनमुडी, केरल का एक लोकप्रिय हिल स्टेशन है। ट्रेकिंग में दिलचस्पी रखने वाले पर्यटकों के लिए यह एक अच्छी जगह है। राज्य के सबसे लंबे और कठिन ट्रेकिंग ट्रेल्स में से एक, वरयादुमोट्टा, इसी हिल स्टेशन में है, जिसके एक तरफ का रास्ता 18 किमी है।

इस जगह से ट्रेक करने के लिए पहले बुकिंग की जरूरत होती है, जो साल में केवल कुछ दिनों के लिए खुला रहता है। साथ ही यह पहाड़ी फूलों, जंगली ऑर्किड और विदेशी तितलियों जैसे दुर्लभ वनस्पतियों और जीवों से भरा हुआ है।

एक Tripadvisor  यूजर लिखते हैं, “ट्रैवलर्स, खासतौर पर जो लोग बाइक की सवारी पसंद करते हैं, निश्चित रूप से पोनमुडी को पसंद करेंगे। सड़कें बहुत संकरी हैं और वहां तक पहुंचने के लिए 22 हेयरपिन कर्व हैं।”

इन जगहों पर ज़रूर जाएं:

कल्लार नदी, मीनमुट्टी वॉटरफॉल, ट्री हाउस व्यू टावर, वरयादुमोट्टा।

3. कोकरनाग, जम्मू और कश्मीर

 Kokernag, Jammu & Kashmir
Delicately maintained flower beds of different varieties, and hues covered and protected with beautifully pruned evergreen shrubs are found here.

कोहरे और सदाबहार देवदार के पेड़ों से ढकी हुई पहाड़ी (Hill Stations In India) एक नजर में ही मन मोह लेती है। इसके अलावा, यहां टेरेस गार्डन और बोटैनिकल गार्डन भी हैं। यहां कई किस्मों के फूलों की क्यारियां और रंग-बिरंगे फूल इस जगह की खूबसूरती कई गुना  बढ़ाते हैं। यह बख्शी गुलाम मोहम्मद के शासन के दौरान विकसित किया गया था।

इन जगहों पर ज़रूर जाएं:

कोकरनाग गार्डन और स्प्रिंग।

4. मेचुका, अरुणाचल प्रदेश

delicately maintained flower beds of different varieties, as well as hues covered and protected with beautifully pruned evergreen shrubs are also found here.
Sunkissed Mechuka.

समुद्र तल से 6,000 फीट की ऊंचाई पर स्थित, मेचुका को अरुणाचल प्रदेश की फॉर्बिड्डन वैली के नाम से भी जाना जाता है, क्योंकि केवल एक दशक पहले ही सड़क मार्ग से यहां पहुंचना संभव हुआ है। यह जगह भारत को चीन से अलग करने वाली रेखा मैकमोहन से 29 किमी दूर है।

राज्य की गालो जनजाति द्वारा मनाया जाने वाला कृषि उत्सव ‘मोपिन’ इस जगह की एक और विशेषता है।

ट्रिपएडवाइजर पर एक यूजर लिखते हैं, “घाटी अद्भुत है। प्रकृति के बीच ट्रेकिंग/वॉकिंग के लिए बहुत सारी जगहें हैं। हम मोपिन फेस्टिवल के दौरान वहां गए थे। उनकी संस्कृति और परंपरा देखने लायक है।”

इन जगहों पर ज़रूर जाएं:

मेचुका एडवेंचर फेस्टिवल, सियांग नदी, बैंबू ब्रिज, ओल्ड वर्ल्ड मोनैस्ट्री।

5. लम्बासिंगी, आंध्र प्रदेश

View this post on Instagram

A post shared by Lambasingi (@lambasingivalley)

लंबासिंगी को आंध्र प्रदेश का कश्मीर भी कहा जाता है। यह दक्षिण भारत की एकमात्र जगह है, जहां सर्दियों के दौरान बर्फबारी होती है। यह सुंदर जगह विशाल पहाड़ियों (Hill Stations In India), ऊंचे हरे पेड़ों और घने जंगलों से समृद्ध है। एडवेंचर पसंद लोगों के लिए यह जन्नत जैसा है, जिसमें ट्रेकिंग, माउंटेन बाइकिंग, हाइकिंग और कैंपिंग सहित कई गतिविधियाँ शामिल हैं।

इन जगहों पर ज़रूर जाएं:

थजंगी रिज़र्वायर, कोथापल्ली वॉटरफॉल, सुसान गार्डन

6. बरोट घाटी, हिमाचल प्रदेश

Barot is ideal for trekking, trout fishing, and nature camping
Barot is ideal for trekking, trout fishing, and nature camping

यह पिकनिक स्पॉट (Hill Station), परिवार या दोस्तों के साथ वीकेंड में घूमने के लिए एक अच्छी जगह है। यहां ट्रेकिंग, ट्राउट फिशिंग और नेचर कैंपिंग का मजा लिया जा सकता है। इस जगह का औसत तापमान 16 डिग्री सेल्सियस के करीब है, जिस कारण पूरे साल यहां का वातावरण आरामदायक रहता है।

हिमाचल में इस छिपे हुए रत्न को शुरू में उहल नदी पर एक हाईडेल प्रोजेक्ट के लिए विकसित किया गया था और बाद में यह एक पर्यटन स्थल बन गया।

इस जगह के बारे में ट्रिपएडवाइजर पर एक यूजर लिखते हैं, “शांतिपूर्ण, बिल्कुल साफ, प्रकृति, उहल नदी के साथ सपने जैसा नजारा।”

इन जगहों पर ज़रूर जाएं:

उहल नदी, नर्गू वाइल्डलाइफ सैंक्चूरी, बरोट मंदिर, चुहार घाटी

7. युकसोम Hill Station, सिक्किम

10 Offbeat Indian Hill Stations To Plan Your Vacation This Summer
Yuksom is the gateway to the Khangchendzonga Biosphere Reserve, the base for some of the most fascinating treks through the high mountain region.

सिक्किम में ऐतिहासिक रूप से महत्वपूर्ण इस स्थान को ‘तीन लामाओं के मिलन स्थल’ के रूप में जाना जाता है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि तिब्बत से तीन भिक्षुओं ने आकर फुंटसोग नामग्याल को सिक्किम के पहले राजा के रूप में चुना और उन्हें चोग्याल की उपाधि दी, जिसका मतलब है ‘धार्मिक राजा’।

यह खंगचेंदज़ोंगा बायोस्फीयर रिजर्व का प्रवेश द्वार भी है। यहां से ऊंचे पर्वतीय क्षेत्र से होकर जाने वाले कुछ सबसे आकर्षक ट्रेकिंग का मजा लिया जा सकता है। राज्य की स्थानीय संस्कृति और परंपराओं को समझने के लिए यह जगह बेस्ट है। यहां कई ट्रेकिंग स्पॉट और एडवेंचर एक्टिविटीज होती हैं।

इन जगहों पर ज़रूर जाएं:

दुबडी मोनेस्ट्री, खांगचेंदज़ोंगा बायोस्फीयर रिजर्व

8. मंगी तुंगी, महाराष्ट्र

It is a twin-pinnacle peak with a plateau in between, and tourists must climb around 4,500 steps to reach the peak.
It is a twin-pinnacle peak with a plateau in between, and tourists must climb around 4,500 steps to reach the peak.

यह तीर्थयात्रा के लिए एक प्रसिद्ध पवित्र स्थान है और अपनी पहाड़ियों (Hill Station In india) के लिए भी जाना जाता है। यह एक जुड़वा शिखर है, जिसके बीच में पठार है। पर्यटकों को चोटी तक पहुंचने के लिए लगभग 4,500 सीढ़ियां चढ़नी पड़ती हैं, जहां कई महत्वपूर्ण ऐतिहासिक और धार्मिक स्मारक हैं।

इन जगहों पर ज़रूर जाएं:

मंगी तुंगी मंदिर, साल्हेर किला, स्टैचू ऑफ अहिंसा

9. पेरुमेडु, केरल

The town derives its name from a Sufi saint named Peer Mohammad, who is said to be linked with the royal family of Travancore.
The town derives its name from a Sufi saint named Peer Mohammad, who is said to be linked with the royal family of Travancore.

खूबसूरत नजारों के लिए जाना जाने वाला पेरुमेडु, केरल के सबसे लोकप्रिय हिल स्टेशनों में से एक है। इस शहर का नाम पीर मोहम्मद नाम के एक सूफी संत के नाम पर पड़ा है। माना जाता है कि वह त्रावणकोर के शाही परिवार से जुड़े हुए थे।

यह शहर कॉफी, चाय, इलायची, रबड़ और नीलगिरी के बागानों के विशाल हिस्सों से भरा हुआ है और यह दुर्लभ वनस्पतियों और जीवों के लिए भी प्रसिद्ध है।

इन जगहों पर ज़रूर जाएं:

ग्रैम्पी, पेरू हिल्स, त्रिसंकू हिल्स, पट्टुमला, परुन्थुम्परा

10. रायथल Hill Stations In India, उत्तराखंड

This quaint village is popular among trekkers, as it is the base camp to Dayara Bugyal, known for high alpine meadows.
This quaint village is popular among trekkers, as it is the base camp to Dayara Bugyal, known for high alpine meadows.

ट्रेकर्स के बीच लोकप्रिय है यह अनोखा गांव, क्योंकि यह दयारा बुग्याल का बेस कैंप है। दयारा बुग्याल, उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले के सबसे ऊंचे पहाड़ और घास के मैदान में ले जाता है। 

पारंपरिक घरों, संस्कृति और हिमालय के सुंदर नजारों  सहित यह ट्रेकिंग और ग्राम पर्यटन का एक बेहतरीन अनुभव प्रदान करता है।

इन जगहों पर ज़रूर जाएं:

पंचपुरा, सोमेश्वर मंदिर, इंकंप्लीट सन टेंपल, गोट विलेज

मूल लेखः अनाघा आर मनोज

संपादनः अर्चना दुबे

यह भी पढ़ेंः मनाली के ये 10 बजट फ्रेंडली हॉस्टल बना देंगे आपकी ट्रिप को किफायती और मनोरंजन से भरपूर

We at The Better India want to showcase everything that is working in this country. By using the power of constructive journalism, we want to change India – one story at a time. If you read us, like us and want this positive movement to grow, then do consider supporting us via the following buttons.

Please read these FAQs before contributing.

Let us know how you felt

  • love
  • like
  • inspired
  • support
  • appreciate
X