Search Icon
Nav Arrow

जाट आंदोलन के दंगो के बीच हरयाणा के इस गुरूद्वारे ने पीडितो को दी शरण !

पिछले दिनों जब जट समाज के प्रदर्शन के कारण हरयाणा राज्य की स्थिति तनावपूर्ण हो गयी थी और 4 जिलो में कर्फ्यू लगाना पड़ गया था, तब एक गुरूद्वारा इस कर्फ्यू में फंसे लोगों की मदद करने को आगे आया।

शुक्रवार को शुरू हए इस प्रदर्शन द्वारा जाट समाज पिछड़ी जाति वर्ग में अपना नाम अंकित करने की मांग पर सड़क पर उतर आये। इस प्रदर्शन ने जल्द ही हिंसात्मक रूप ले लिया जिसके कारण करीब 150 लोग घायल हो गए और 12 को अपनी जान गंवानी पड़ी। इसकी वजह से रोहतक, भिवानी, सोनीपत, झज्जर, हिसार सहित अन्य छोटे बड़े शहरों में कर्फ्यू लगाना पड़ा। इससे राज्य को जल संकट की समस्या से जूझना पड़ा और कई लोग अलग अलग जगहों पर फंस गए। हालाँकि प्रदर्शनकारियों ने सरकार के आश्वासन पर अभी के लिए कुछ रास्ते खोल दिए हैं।

इस मुसीबत के समय, गुरूद्वारे से खबर आई कि उन्होंने फंसे हुए लोगों के रहने एवं खाने की व्यवस्था की है और ऐसे हर व्यक्ति के लिए अपने द्वार खोल दिए हैं। बच्चो के लिए दूध, बड़ों के लिए लंगर के साथ कम्बल एवं रजाइयों की भी सुविधाए यहाँ उपलब्ध थी।

Advertisement

इसके अलावा एक फेसबुक पोस्ट द्वारा लोगो से निवेदन किया गया कि मुसीबत में फंसे लोगो को गुरूद्वारे तक पहुँचाने में मदद करें और अधिक से अधिक लोगो को इस व्यवस्था की जानकारी दें।

ऐसी खबर इंसानियत पर हमारा विश्वास दृढ करती हुई दिखी। सिख समाज द्वारा मदद के लिए उठाया गया यह कदम प्रशंसनीय होने के साथ भाईचारे की मिसाल कायम करता है।

आइये पढ़ते हैं इस फेसबुक पोस्ट को :

Advertisement

guru

Picture for representation only. Source: Davinder Singh/Flickr

https://www.facebook.com/itejinder/posts/10208191211196000

https://www.facebook.com/itejinder/posts/10208191211196000

Advertisement

‪#‎JatAgitation

Many Are Stuck in Panipat Due To Road Blockage

If You Find Anyone On Road

Advertisement

Please Inform Them There Is Accommodation at

Gurudwara Pehli Patshahi Ji

G.T. Road

Advertisement

&

Dear Baba Josh Sachiyar

G.T Road

Advertisement

Langar Is Available

For Gurudwara Sahib Helpline

24*7

Call At

09034200045

09812243030

09215222260

08607666665

Please Share

close-icon
_tbi-social-media__share-icon