कैसे करें? टेलरिंग बिज़नेस, जानिए Ladyben की फाउंडर बेनोरिटा दाश से

अगर आप सिलाई करने के शौक़ीन हैं और क्रिएटिव भी हैं, तो आप एक टेलरिंग बिज़नेस शुरू कर सकते हैं और इसमें सफल भी हो सकते हैं! कैसे? बता रही हैं भुवनेश्वर में अपना खुद का फैशन ब्रांड, 'Lady Ben' चलाने वाली बेनोरिटा दाश।

भुवनेश्वर में ‘Lady Ben‘ नाम से खुद का फैशन ब्रांड चलानेवाली बेनोरिटा दाश ने साल 2018 में मात्र एक पुरानी मशीन और बिना किसी इन्वेस्टमेंट के ही अपने सिलाई-बुनाई के शौक़ को टेलरिंग बिज़नेस में बदल दिया था। 

वह कहती हैं कि हमारे देश में फ़ूड और फैब्रिक का बिज़नेस हमेशा हिट होता है और अगर आप में हुनर है, तो आप छोटी सी शुरुआत करके भी बड़ा नाम बना सकते हैं। इसके लिए आपको मालूम होना चाहिए कि कैसे और किस तरह से आगे बढ़ना है?

उन्होंने रीसायकल प्रोडक्ट पर फोकस किया और शहरभर के दर्जियों से मिलने वाली कतरन को अपना रॉ मटेरियल बनाया। अकेले काम करने से लेकर आज कई लोगों को रोज़गार देने तक के अपने अनुभव से, आज वह हमें सिलाई बिज़नेस को शुरू करने और आगे बढ़ाने की सारी जानकारी दे रही हैं।  

चलिए जानते हैं,  सिलाई के हुनर को बिज़नेस में बदलने के लिए किन बातों का रखना होता है ध्यान और कैसे बढ़ा सकते हैं बिज़नेस!

tailoring business

1. खुद का टेलरिंग बिज़नेस शुरू करने का ख्याल कैसे और कब आया?

बेनोरिटा- “सिलाई का शौक़ मुझे स्कूल टाइम से ही था और अपना खुद का काम करने का मन तो पढ़ाई के दौरान ही बन गया था। मैंने फैशन डिज़ाइनिंग में ग्रैजुएशन करने के बाद, ‘सस्टेनेबल फैशन’ में मास्टर्स डिग्री की और इसके बाद एक फैशन कॉलेज में बतौर शिक्षिका भी काम किया। कुछ समय तक पढ़ाने के बाद, मुझे लगा कि अगर खुद का काम करना है, तो अनुभव की ज़रूरत पड़ेगी, इसलिए मुझे इंडस्ट्री में काम करना चाहिए।” 

“बाद में मैं एक डिज़ाइनिंग फर्म के साथ जुड़ गई। वहां मैंने देखा कि इस इंडस्ट्री में सबसे अधिक कचरा जमा होता है, जिससे पर्यावरण को नुकसान पहुँचता है। साल 2018 में नौकरी छोड़कर मैं अपने शहर वापस लौट आई। तभी मैंने फैसला किया कि अब मैं अपना ब्रांड शुरू करुँगी, लेकिन यह पूरी तरह से सस्टेनेबल ब्रांड होगा।”

*हुनर के साथ-साथ आपको एक दिशा चाहिए कि आपको काम क्या करना है? सिलाई जानते तो हैं, लेकिन इससे कैसा बिज़नेस करना चाहते हैं? उसके बारे में सोचना सबसे ज़्यादा जरूरी है। आप एक सिलाई सर्विस बेस्ड बिज़नेस भी कर सकते हैं, जहाँ लोग आपको अपने कपड़े सिलने के लिए देंगे। वहीं, आप बेनोरिटा की तरह प्रोडक्ट बेस्ड बिज़नेस भी शुरू कर सकते हैं, जहाँ आप अपने हुनर से चीज़ें बनाकर लोगों के सामने रख सकते हैं। आप चाहें, तो दोनों एक साथ भी कर सकते हैं।  

2. क्या सिलाई से जुड़े बिज़नेस में भी रिसर्च की ज़रूरत होती है?

बेनोरिटा- “जी हाँ, रिसर्च करना और आस-पास के मार्केट को समझना बेहद ज़रूरी है। नौकरी छोड़ने के बाद, मैं एक महीना अपने आस-पास खूब घुमी। यहां लोग क्या कर रहे हैं? सिलाई से जुड़ा कैसा बिज़नेस मेरे लिए काम कर सकता है? मैं किस तरह के बिज़नेस से शुरुआत कर सकती हूँ? यह सब जानने के बाद ही मैंने काम करना शुरू किया।”

“मेरा फोकस तय था, इसलिए मैंने सस्टेनेबल तरीकों के बारे में जानना शुरू किया। फिर मैंने दर्जियों से बात की और उनके बेकार सामान को अपना रॉ मटेरियल बनाया। मेरे हिसाब से आपको काम में मास्टरी हासिल करने के लिए भी काफी रिसर्च करना चाहिए। एक आम कुर्ते को बनाने में आप अपनी क्या क्रिएटिविटी दिखा सकते हैं, जिससे आपकी अलग पहचान बने इस पर रिसर्च करना चाहिए।”  

*आप अगर सिलाई के शौक़ीन हैं, तो अपने दोस्तों और रिश्तदारों से जानने की कोशिश करें कि सिलाई से जुड़ी कौन सी सर्विस उनको चाहिए। अगर आस पास बहुत सारे टेलर्स हैं, तो आप उनसे अलग हटकर क्या कर सकते हैं, उस पर ध्यान दें और छोटी-छोटी चीज़ें बनाना शुरू करें, जैसे- कपड़े का बैग, फोल्डर, वॉल हैंगिंग या फिर हेयर बैंड। 

how to start tailoring business

3. सिलाई बिज़नेस में कितना निवेश करने की ज़रूरत होती है?

बेनोरिटा- “मैं हमेशा यही कहती हूँ कि मेरा टेलरिंग बिज़नेस ज़ीरो इन्वेस्टमेंट से शुरू हुआ था। ऐसा इसलिए क्योंकि मुझे हमेशा से सिलाई का शौक़ था, इसलिए जब मैंने फैशन डिज़ाइनिंग में एडमिशन लिया था, तभी मेरे पापा ने मुझे एक एडवांस सिलाई मशीन खरीदकर दी थी। मैंने उसपर सालों काम किया और आज तक मेरे पास वह मशीन है। वहीं, मेरे प्रोडक्ट्स के लिए कच्चा माल मुझे शहर के टेलर्स से फ्री में मिलता था।”  

“लेकिन अगर आप के पास पहले से सिलाई मशीन नहीं है, तो आप तीन-चार हज़ार की सिलाई मशीन ले सकते हैं। अगर आपकी स्पीड अच्छी है, तो आप उसमें 1500 का एक मोटर लगा सकते हैं और सिर्फ 5000 रुपए में आप काम की शुरुआत कर सकते हैं। शुरुआती प्रोडक्ट बनाने के लिए आप घर पर पड़े कपड़े का इस्तेमाल कर सकते हैं। वहीं, सिलाई सर्विस के लिए तो ग्राहक खुद आपको कपड़े लाकर देंगे।” 

4. मार्केटिंग कैसे करें?

बेनोरिटा- “जब मैंने शुरू किया, तब इंस्टा बिज़नेस इतना आगे नहीं बढ़ा था, लेकिन मुझे पता था कि सोशल मीडिया ही मार्केटिंग का भविष्य है। मैं सरकार के कई प्रोजेक्ट्स से जुड़ गई। ये सारी चीज़ें हममें से ज्यादातर लोगों को पता नहीं होती हैं। लेकिन मैंने लोकल सरकारी ऑफिस में जाकर आर्टिस्ट का कार्ड भी बनवाया था। ऐसा करने से सरकारी प्रदर्शनी में मुझे फ्री में स्टॉल लगाने का मौका मिलता था। इसके अलावा, उस समय मैं जो भी प्रोडक्ट बनाती थी, उसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के ग्रुप में भेजती थी और olx पर भी मैं अपने प्रोडक्ट्स अपलोड करती थी।  इससे मुझे थोड़े-थोड़े ऑर्डर्स मिलने लगे।”  

*आपका काम किस तरह का है, उसके आधार पर मार्केटिंग करें। अगर आप हैंड बैग या हेयर बैंड जैसी चीजें बना रहे हैं, तो सोशल मीडिया पर उसकी फोटो डालें। नए-नए डिज़ाइन पर काम करें और रोज़ दो तीन फोटोज़ सोशल मीडिया पर डालें। लोग पहले भले ऑर्डर नहीं देंगे, लेकिन प्रोडक्ट को देखेंगे तो ज़रूर। वही आगे चलकर आपके ग्राहक बनेंगे। अगर आप सर्विस वाला टेलरिंग बिज़नेस कर रहे हैं, तो कपड़ों की सिलाई और डिज़ाइन ऐसी करें कि ग्राहक संतुष्ट हो जाएं। उन ग्राहकों का फोटो और अपने बनाए कपड़ों को सोशल मीडिया पर प्रोमोट करें। 

5. कैसे बढ़ाएं टेलरिंग बिज़नेस?

बेनोरिटा- “देखिए, आपको प्रॉफिट से ज़्यादा काम पर फोकस करना चाहिए। मैंने कोशिश की कि मेरे प्रोडक्ट्स यूनिक रहें, ताकि लोग लौटकर इसे खरीदें, आस-पास लोगों को बताए। मुझे दो महीने बाद ही एक इंटरनेशनल ट्रेड फेयर में छोटा सा स्टॉल मिला था। जहाँ मैं अपने प्रोडक्ट्स लेकर गई थी। पुरानी डेनिम से बने बैग, रीसायकल कपड़ों से फोल्डर, कवर और छोटी-छोटी चीजें लोग बड़े खुश होकर खरीदते थे। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि मेरे प्रोडक्ट्स थोड़े अलग थे। मैंने उस सात दिन की प्रदर्शनी में हर दिन सात से आठ हज़ार का बिज़नेस किया।”

* एक बार ग्राहक बन जाएं, तो प्रॉफिट बनने लगता है। आप अपने रॉ मटेरियल और मेहनत का पैसा जोड़कर ही अपने प्रोडक्ट और सर्विस का दाम तय करें, इससे आपको नुकसान नहीं होगा।  

how to start a tailoring business from home

6. टेलरिंग बिज़नेस में रजिस्ट्रेशन कितना ज़रूरी होता है?

बेनोरिटा- “शुरुआत आप घर से करें या दुकान लेकर, उसे कहीं न कहीं रजिस्टर ज़रूर करें। मैंने आर्टिस्ट कॉर्ड भी बनवाया था और प्रोपराइटरशिप की तरह अपना बिज़नेस रजिस्टर भी किया था। इससे हम कहीं भी अपने काम और प्रोडक्ट के साथ जा सकते थे। आप अलग-अलग ट्रेड फेयर में भाग ले सकते हैं। 2018 में उस प्रदर्शनी के बाद, साल 2019 में ही मुझे बहुत काम मिलने लगा। 

*अपने बिज़नेस को रजिस्टर करना अपने ब्रांड को एक नाम और पहचान  देने जैसा है। 

7. कितनी हो रही कमाई?

बेनोरिटा- “चूंकि हम हैण्डलूम पर और कॉटन पर काम करते हैं, इसलिए हमें कई बार अपने राज्य को रिप्रज़ेंट करने का मौका भी मिला। बल्क ऑर्डर और सरकारी प्रोजेक्ट के लिए हमें अपनी टीम भी बढ़ानी पड़ी। आज मेरे पास 16 लोग काम करते हैं और समय समय पर हम फ्रीलांसर से भी काम लेते हैं। अलग-अलग शॉपिंग साइट्स से हमें नियमित ऑर्डर्स मिलते ही रहते हैं, जिसके लिए हमें स्टॉक रखना पड़ता है। आज हम एक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी हैं और तक़रीबन ढाई लाख रुपये हम अपने स्टाफ को सैलरी देते हैं। इसके अलावा हमारा टर्नओवर अभी करोड़ तक पंहुचा गया है।”  

तो देखा आपने मात्र 5000 के निवेश के साथ आप अपने सिलाई  बिज़नेस को शुरू कर सकते हैं। लेकिन लगातार कुछ नया सीखते रहना ना भूलें। अपने काम को ज़्यादा से ज़्यादा लोगों तक पहुंचाने के लिए हर तरह की कोशिश करें। 

अब सोच क्या रहे हैं? आज ही अपने हुनर को एक नाम देने के लिए उठाएं पहला कदम। बेनोरिटा से टेलरिंग बिज़नेस से जुड़ीं और जानकारियों के लिए ज़रूर देखें यह वीडियो गाइड-

वीडियो गाइड

यह भी पढ़ें- कैसे करें? ऑनलाइन नमकीन बिज़नेस, सीखें मॉम्सकार्ट के फाउंडर अमन पोरवाल से

We at The Better India want to showcase everything that is working in this country. By using the power of constructive journalism, we want to change India – one story at a time. If you read us, like us and want this positive movement to grow, then do consider supporting us via the following buttons:

Let us know how you felt

  • love
  • like
  • inspired
  • support
  • appreciate

We at The Better India want to showcase everything that is working in this country. By using the power of constructive journalism, we want to change India – one story at a time. If you read us, like us and want this positive movement to grow, then do consider supporting us via the following buttons:

Let us know how you felt

  • love
  • like
  • inspired
  • support
  • appreciate
X