Search Icon
Nav Arrow
डॉ प्रभुलिंगास्वामी

फ्लाइट के दौरान भारतीय डॉक्टर ने बचाई सहयात्री की जान; एयर फ्रांस ने किया सम्मानित!

र्नाटक के मैसूर निवासी डॉक्टर प्रभुलिंगास्वामी संगनालमाथ कुछ समय पहले पेरिस से बंगलुरु की एयर फ्रांस फ्लाइट में सफ़र कर रहे थे। तभी अचानक फ्लाइट में एक यूरोपियन सहयात्री बेहोश हो गया।

इसे देख तुरंत डॉक्टर ने केबिन क्रू से सम्पर्क किया और मेडिकल सहायता के लिए कहा। लेकिन द हिन्दू की रिपोर्ट के मुताबिक उस फ्लाइट में वे अकेले डॉक्टर थे, जो सफ़र कर रहे थे और क्रू मेंबर्स में एक नर्स थी, जिन्होंने डॉ. प्रभुलिंगास्वामी को उस समय असिस्ट किया।

डॉक्टर प्रभुलिंगास्वामी एक रिटायर्ड फिज़िशियन डॉक्टर हैं और अब कुवेमपुनगर में अपना निजी क्लिनिक चलाते हैं।

Advertisement

डॉ. प्रभुलिंगास्वामी ने बताया कि उस व्यक्ति की न तो धड़कन ही चल रही थी और न ही वह सांस ले पा रहा था। डॉक्टर ने तुरंत उसे कार्डियक मसाज दिया और साथ ही उसकी साँसे वापिस लाने की प्रक्रिया की। एयर होस्टेस ने तुरंत डॉक्टर को मेडिकल किट व ऑक्सीजन मास्क लाकर दिया। कुछ घंटे बाद उस व्यक्ति को होश आ गया और उसने बोलना शुरू किया। बाद में मरीज़ को जूस पिलाया गया।

डॉक्टर ने बताया कि फ्लाइट के बंगलुरु पहुंचने पर उस मरीज़ को तुरंत एयरपोर्ट के क्लिनिक में भर्ती करवाया गया। फ्लाइट के कैप्टेन ने आकर डॉ. प्रभुलिंगास्वामी को मदद के लिए धन्यवाद दिया।

इस घटना के एक-दो दिन बाद डॉ. प्रभुलिंगास्वामी को एयर फ्रांस एयरलाइन से एक मेसेज आया। उन्हें 100 यूरो का एक वाउचर सम्मान स्वरुप दिया गया है। हालांकि, डॉ. प्रभुलिंगास्वामी का मानना है कि उस वक़्त उन्होंने सिर्फ़ अपना कर्तव्य निभाया था।

Advertisement

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ बांटना चाहते हो तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखे, या Facebook और Twitter पर संपर्क करे। आप हमें किसी भी प्रेरणात्मक ख़बर का वीडियो 7337854222 पर भेज सकते हैं।

close-icon
_tbi-social-media__share-icon