Search Icon
Nav Arrow
sana bird feeder

एक नहीं, दो नहीं, रोज़ आते हैं 70-80 पक्षी, जोधपुर की सना के छोटे-से घर में

जोधपुर में रहनेवाली सना फिरदौस का प्रकृति और पक्षी प्रेम देखकर आप भी खुश हो जाएंगे। घर की बेकार चीजों का उपयोग करके, उन्होंने घर पर ही एक बेहद सुंदर पक्षी अभ्यारण्य बनाया है।

जोधपुर में रहनेवाली सना फिरदौस की सुबह, पक्षियों की चहचहाहट से और शाम भी उनके मधुर आवाज से ही होती है। सिर्फ चिड़िया या कबूतर ही नहीं,  कई किस्मों के पक्षियों का इनके घर में रोज का आना-जाना है और ऐसा इसलिए,  क्योंकि सना ने इन पक्षियों के लिए बढ़िया खाना और पीने के लिए साफ पानी का इंतजाम परिवार के सदस्यों जैसे ही करती हैं। 

 तक़रीबन एक साल पहले जब सना ने अपने घर के गार्डन में,  पक्षियों को दाना देने की शुरुआत की थी। तब एक्के-दुक्के पक्षी ही दिखाई देते थे, लेकिन जैसे-जैसे पक्षियों की संख्या बढ़ने लगी। सना के बनाए बर्ड फीडर भी बढ़ने लेगे। आज उनके घर में वेस्ट चीजों से बने छह अलग-अलग तरह के बर्ड फीडर मौजूद हैं, जिसमें हर दिन सुबह-शाम कई पक्षी दाना चुगने आते हैं।  

प्रकृति प्रेमी होने के कारण सना जब भी  न्यूज़ में सुनती थीं कि पक्षियों की संख्या घट रही है,  तब उन्हें बड़ा बुरा लगता था। वह जानती थीं कि ऐसा इसलिए हो रहा है, क्योंकि शहरीकरण की वजह से पक्षियों के रहने के लिए जगह कम हो गई है। वहीं, खेतों में भी कीटनाशक के उपयोग से केचुओं और छोटे कीड़े मर जाते हैं, जो कभी इन पक्षियों का बढिया भोजन हुआ करते थे।  

Advertisement
Sana firdaus a bird lover
सना फिरदौस

पक्षियों के प्रति अपने प्यार और जिम्मेदारी को समझते हुए सना ने खुद के स्तर पर कुछ प्रयास करने का फैसला किया। उनके घर में उनकी सास को पहले से ही गार्डनिंग का शौक था और पक्षियों से लगाव रखने वाली सना भी उनके साथ गार्डनिंग किया करती थीं। 

वह कहती हैं, “हमें बचपन से पक्षियों और पशुओं को खाना और दाना देना सिखाया जाता है।  लेकिन अपने काम की भाग-दौड़ में हम ये सारे काम करना भूल जाते हैं। इसलिए मैंने इसपर ज्यादा ध्यान देने का सोचा और घर में पड़े बेकार प्लास्टिक वेस्ट से अपना पहला बर्ड फीडर बनाया। कुछ दिनों के बाद, चिड़ियों का आना शुरू हुआ। एक साल में चिड़िया का खुद का परिवार भी बढ़ने लगा और उनके कई दोस्त और रिश्तेदार भी हमारे घर आने लगे।”

birds at sana's home

आज उनके घर में 30 से 40 चिड़ियों के साथ पांच बुलबुल, टेलर बर्ड, सनबर्ड, जंगल बैबलर जैसे पक्षी नियमित रूप से आते हैं। सना के साथ उनकी  तीन छोटी बेटियां भी इस काम में उनकी मदद करती हैं। 

Advertisement

सना अपने  यूट्यूब चैनल से लोगों को पक्षियों से प्यार करने का सन्देश देती हैं,  साथ ही वह यह भी सिखाती हैं कि कैसे ज्यादा से ज्यादा पक्षियों को घर पर बुलाया जा सकता है। 

यह भी पढ़ें –चार साल पहले तक एक पौधा भी नहीं आता था उगाना, आज फूलों की चादर से ढका रहता है इनका घर

Advertisement

close-icon
_tbi-social-media__share-icon