in

शहीद मेजर अक्षय की 5 साल की बेटी को ट्विटर पर मिली देश भर से शुभकामनायें!

नैना अक्षय

 हीदों की चिताओं पर जुड़ेंगे हर बरस मेले
वतन पर मरनेवालों का यही बाक़ी निशाँ होगा…..

पर ऐसा भी कहाँ होता है? हमारे देश की सीमाओं की रक्षा करते हुए आये दिन कोई न कोई बहादुर जवान शहीद हो जाता है और हमें कई बार तो इसकी ख़बर तक नहीं होती! इन शहीदों के चले जाने के बाद इनके परिवार का क्या होता है, इसकी भी कोई सुध नहीं लेता!

पर इन शहीदों की तरह ही इनके परिवार वाले भी हौंसले और हिम्मत की मिसाल होते हैं, जो किसी अपने को खोकर भी हर पल उसकी याद में गर्व के साथ मुस्कुरा कर ज़िन्दगी जीते हैं। क्या आपने कभी सोचा है कि और कुछ तो नहीं पर बस इन शहीदों को याद भर करके, और इनके परिवार के सुख दुःख में शामिल होकर, हम इनकी इस मुस्कान को और बढ़ा सकते हैं!

ऐसा ही कुछ कर रहें हैं ‘पोर्ट्रेट्स ऑफ़ पैट्रियोट्स’ के फाउंडर हुतांश वर्मा! हुतांश ने एक पहल की है, जहाँ पर वे उन ‘बहादुर सैनिकों के चित्र बनाते हैं, जिन्होंने देश के लिए खुद को कुर्बान कर दिया।’

इस रविवार को भी उन्होंने ऐसी ही एक दिल छू जाने वाली पोस्ट ट्विटर पर साँझा की।

यह तस्वीर एक 5 साल की बच्ची नैना की है, जिसने एक टी-शर्ट पहनी हुई है और टी-शर्ट पर उसके पापा शहीद मेजर अक्षय गिरीश का चित्र बना है।

हुतांश वर्मा नन्हीं नैना अक्षय के साथ

मेजर अक्षय दो साल पहले जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में देश की रक्षा करते हुए शहीद हो गये थे। मेजर की एकलौती बेटी नैना उस वक़्त सिर्फ 3 साल की थी। उसे तो शायद सेना और शहीद जैसे शब्दों का मतलब भी न पता हो। हुतांश ने तस्वीर पोस्ट करते हुए लिखा कि चलिए एक महान शहीद की बेटी को उसके पांचवे जन्मदिन पर बधाई दें।

इस एक पोस्ट ने लोगों का दिल जीत लिया और फिर बहुत से लोगों ने पोस्ट को फिर से साँझा कर, नैना को बधाई दी है। किसी ने लिखा कि ‘हैप्पी बर्थडे नैना, याद रखना कि तुम्हारे पापा हमेशा तुम्हारे साथ हैं!’


तो किसी ने लिखा है, ‘हम हमारे रोजमर्रा की ज़िन्दगी में हर बात पर शिकायत करते हैं, पर ऐसे उदहारण हमें याद दिलाते हैं कि इन सबसे बढ़कर भी कुछ है….. इन सभी शहीदों को हाथ जोड़कर नमन!

Promotion

ट्विटर पर लोगों ने नैना के बेहतर भविष्य के लिए मदद करने की भी इच्छा जताई है। हालांकि, बाद में हुतांश ने लिखा कि नैना की दादी उसके लिए किसी भी तरह की चैरिटी नहीं चाहती हैं।


पिछले साल मेजर अक्षय की पत्नी संगीता ने भी एक फेसबुक पोस्ट के जरिये बताया था कि अक्षय के जाने के बाद खुद को और अपने परिवार को संभालना आसान नहीं रहा।

अपनी पत्नी और बेटी के साथ अक्षय और अक्षय की यादों के साथ उनके माता-पिता

लोगों की बधाइयों के जवाब में नैना की दादी ने उसके दुसरे जन्मदिन की विडियो साँझा की जिसमें नैना अपने पापा की गोद में बहुत खुश नज़र आ रही है!

उन्होंने लिखा, “उसकी हानि का अंदाजा भी नहीं लगाया जा सकता, फिर भी वह मुस्कुरा रही है। उसके बहादुर पिता, जो कभी एक पल के लिए भी उसका हाथ नहीं छोड़ते थें, उन्हें उसे हमेशा के लिए छोड़ कर जाना पड़ा, ताकि वे उसके जैसे दुसरे बच्चों को आतंकवादियों से बचा सके। नैना के लिए आप सबके प्यार और आशीर्वाद के लिए शुक्रिया!”

संपादन – मानबी कटोच


यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ बांटना चाहते हो तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखे, या Facebook और Twitter पर संपर्क करे। आप हमें किसी भी प्रेरणात्मक ख़बर का वीडियो 7337854222 पर भेज सकते हैं।

शेयर करे

Written by निशा डागर

बातें करने और लिखने की शौक़ीन निशा डागर हरियाणा से ताल्लुक रखती हैं. निशा ने दिल्ली विश्वविद्यालय से अपनी ग्रेजुएशन और हैदराबाद विश्वविद्यालय से मास्टर्स की है. लेखन के अलावा निशा को 'डेवलपमेंट कम्युनिकेशन' और रिसर्च के क्षेत्र में दिलचस्पी है. निशा की कविताएँ आप https://kahakasha.blogspot.com/ पर पढ़ सकते हैं!

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

1 नवम्बर: भारत के छह राज्यों का एक ऐतिहासिक दिन!

प्रभा खेतान की कहानी – छिन्नमस्ता!