Search Icon
Nav Arrow
Apply now for AAI recruitment 2021

AAI Recruitment 2021: एयरपोर्ट अथॉरिटी ने निकाली वैकेंसी, 1 लाख रुपये/माह तक वेतन

एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने AAI Recruitment 2021 के तहत इंजीनियरिंग, डिप्लोमा और बीकॉम ग्रेजुएट्स के लिए वैकेंसी निकाली है। जानें, कैसे करें आवेदन व योग्यता।

Advertisement

भारतीय एयरपोर्ट अथॉरिटी ने, वरिष्ठ सहायक पद के लिए 29 रिक्तियों पर आवेदन (AAI Recruitment 2021) आमंत्रित किए हैं। आवेदन करने से पहले, इच्छुक उम्मीदवार आधिकारिक विज्ञापन ध्यान से पढ़ लें।

जानने योग्य बातें:

  • वरिष्ठ सहायक (संचालन) पद के लिए 14 रिक्तियां उपलब्ध हैं।
  • वरिष्ठ सहायक (वित्त) पद के लिए 6 रिक्तियां उपलब्ध हैं।
  • सीनियर असिस्टेंट (इलेक्ट्रॉनिक्स) के पद के लिए 9 रिक्तियां हैं।
  • जाति के आधार पर आरक्षित पदों के लिए आधिकारिक अधिसूचना देखें।
  • आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 अगस्त 2021 है।

योग्यता

  • वरिष्ठ सहायक (संचालन) पद के लिए, उम्मीदवारों को एलएमवी लाइसेंस के साथ इंजीनियरिंग स्नातक होना आवश्यक है, या मैनेजमेंट में डिप्लोमा को प्राथमिकता दी जाएगी।
  • वरिष्ठ सहायक (वित्त) पद के लिए कंप्यूटर प्रशिक्षण के साथ बी.कॉम में स्नातक होना आवश्यक है।
  • सीनियर असिस्टेंट (इलेक्ट्रॉनिक्स) पद के लिए टेलीकम्युनिकेशन/इलेक्ट्रॉनिक्स/रेडियो इंजीनियरिंग में डिप्लोमा होना जरूरी है।
  • तीनों पदों के लिए, संबंधित क्षेत्र में दो साल का अनुभव अनिवार्य है।

आयु सीमा

  • सभी पदों पर आवेदन के लिए, उम्मीदवार की आयु सीमा 50 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • चयनित उम्मीदवारों को 36,000 से 1,10,000 रुपये प्रति माह का वेतन दिया जाएगा।

कैसे करें आवेदन?

  • आवेदन पत्र की हार्ड कॉपी स्पीड पोस्ट के माध्यम से जमा करनी होगी और सॉफ्ट कॉपी को dpcrhqer@aai.aero पर मेल द्वारा भेजना होगा।
  • आवेदन पत्र आधिकारिक अधिसूचना के अंत में दिया गया है। स्पीड पोस्ट के लिए पता भी आधिकारिक अधिसूचना में संलग्न है।
  • भरे हुए आवेदन पत्र के साथ, उम्मीदवारों को शैक्षिक, पेशेवर और जाति प्रमाण-पत्रों की स्व-सत्यापित प्रतियों को भी संलग्न करना होगा।
  • भर्ती से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं या विज्ञापन पढ़ें।

मूल लेखः रौशनी मुथुकुमार

Advertisement

यह भी पढ़ेंः विटामिन-ए का भंडार है पूर्वोत्तर का खीरा, जानें क्यों शोधकर्ताओं ने माना इसे खास

Advertisement
close-icon
_tbi-social-media__share-icon