Search Icon
Nav Arrow
DRDO Vacancy 2021: Apply for ITI Apprentice, August 29 is the last date

DRDO Vacancy 2021: ITI अपरेंटिस के लिए करें आवेदन, 29 अगस्त है अंतिम तिथि

रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन ने DRDO Vacancy 2021के तहत, 38 आईटीआई अप्रेंटिस पदों पर आवेदन आमंत्रित किए हैं।

Advertisement

रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO Recruitment 2021) ने एक वर्ष के लिए, 38 आईटीआई अप्रेंटिस पदों पर आवेदन आमंत्रित किए हैं। इच्छुक उम्मीदवार, सभी पदों पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

DRDO भर्ती विवरण

  • यह भर्ती 38 रिक्त पदों के लिए है।
  • इसमें 3 रिक्तियां मशीन मोटर वाहन (एमएमवी) के पद के लिए, 4 ड्रॉट्समैन (सिविल) के लिए और 5 रिक्तियां इलेक्ट्रॉनिक मशीन के लिए हैं।
  • इंस्ट्रूमेंट मशीन मैकेट्रॉनिक में 6, लैब असिसटेंट (केमिकल प्लांट) में 6, और कंप्यूटर ऑपरेटिंग व प्रोग्रामिंग असिटेंट की 14 रिक्तियां हैं।

आयु सीमा

  • आवेदन के लिए, न्यूनतम आयु 18 वर्ष होनी चाहिए। सामान्य उम्मीदवारों के लिए अधिकतम आयु सीमा 27 वर्ष है।
  • ओबीसी व एससी/एसटी के लिए अधिकतम आयु सीमा 30 वर्ष और PWD (Person with Disabilities) के लिए 37 वर्ष है।
Apply for 38 vacancies in DRDO
Apply Now!

योग्यता

  • केवल भारत के मूल निवासी ही इन पदों पर आवेदन कर सकते हैं।
  • कंप्यूटर ऑपरेटिंग व प्रोग्रामिंग असिटेंट (COPA) के अलावा, अन्य सभी पदों पर आवेदन के लिए उम्मीदवार, एनसीवीटी से संबंधित ट्रेडों में आईटीआई पास होने चाहिए।

जानने योग्य बातें

  • इन पदों पर आवेदन के लिए, उम्मीदवारों से कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा।
  • चयनित होने वाले COPA उम्मीदवारों को प्रतिमाह 7,700 रुपये और अन्य उम्मीदवारों को 8,050 रुपये दिए जाएंगे।
  • आवेदन की अंतिम तिथि 29 अगस्त 2021 है।

चयन प्रक्रिया

  • सभी पदों पर चयन के लिए, उम्मीदवारों को मेरिट के आधार पर शॉर्ट लिस्ट किया जाएगा।
  • शॉर्ट लिस्ट किए गए उम्मीदवारों को स्क्रिनिंग टेस्ट/इंटरव्यू या फिर दोनों के लिए आमंत्रित किया जाएगा और इसके परिणाम के आधार पर ही चयन होगा।

कैसे आवेदन करें?

  • इच्छुक व योग्य उम्मीदवार आवेदन से पहले आधिकारिक अधिसूचना को ध्यान से पढ़ लें।
  • इन पदों पर आवेदन करने के लिए यहां क्लिक करें।

आवेदन से संबधित अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।

यह भी पढ़ेंः Women Freedom Fighters: धरने दिए, जेल गयीं, देश के लिए प्रताड़ना सहकर भी नहीं हटीं पीछे

Advertisement

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें।

Advertisement
close-icon
_tbi-social-media__share-icon