Search Icon
Nav Arrow

पश्चिम बंगाल में ऑक्सीजन सिलिंडर के लिए इन नबरों पर संपर्क करें

पश्चिम बंगाल के कुछ इलाकों में ऑक्सीजन सिलिंडर या ऑक्सीजन रिफिल की जानकारी के लिए पढ़ें यह लेख।

Advertisement

देश में एक तरफ कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है और दूसरी तरफ स्वास्थ्य सुविधाओं में कमी हो रही है। लगभग सभी बड़े शहरों के अस्पताल बेड, दवाइयों और ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे हैं। ऐसे में, बहुत से संगठन और आम नागरिक भी अपने स्तर पर लोगों की मदद करने में जुटे हैं। पिछले दो-तीन दिनों में ऑक्सीजन की कमी को लेकर पूरे देश में परेशानी बढ़ी हुई है।

ऑक्सीजन की बढ़ती खपत और सप्लाई की कमी के कारण बहुत से मरीजों और उनके परिजनों को परेशानी से गुजरना पड़ रहा है। इसलिए द बेटर इंडिया एक छोटी -सी कोशिश कर रहा है जरूरतमंदों को सही संसाधनों और लोगों से जोड़ने की। हम ने पश्चिम बंगाल में ऑक्सीजन के लिए कुछ संगठनों के नंबरों को वेरीफाई किया है, जहाँ पर कोविड-19 के मरीज और उनके परिजन संपर्क कर सकते हैं। 

अगर आपको पश्चिम बंगाल में ऑक्सीजन की जरूरत है तो आप इनसे संपर्क कर सकते हैं:

1. ऑक्सीजन फैसिलिटी: 9051832211, 9002534659- ऑक्सीजन सिलिंडर के लिए इन्हें संपर्क कर सकते हैं।

2. राजू ऑक्सीजन, मुर्शिदाबाद: 094341 01716- ऑक्सीजन सिलिंडर के लिए इन्हें संपर्क कर सकते हैं।

3. माँ वैष्णवी एसिटिलीन गैस, दुर्गापुर: 081452 62626- ऑक्सीजन रिफिल के लिए इन्हें संपर्क कर सकते हैं। 

4.  अग्रवाल ट्रेडर्स, आसनसोल: 094345 77037- ऑक्सीजन रिफिल के लिए इन्हें संपर्क कर सकते हैं।

5. आर्यन ऑक्सीजन सर्विसेज, कोलकाता: 090074 27926- ऑक्सीजन सिलिंडर के लिए व्हाट्सएप पर संपर्क कर सकते हैं। 

Advertisement

6. कल्याणी ऑक्सीटेक, दुर्गापुर: 9832293999- ऑक्सीजन रिफिल के लिए इन्हें संपर्क कर सकते हैं। 

7. बंगाल ऑक्सीजन, रूपनारायणपुर, पश्चिम बर्धमान: 7031566712- ऑक्सीजन रिफिल के लिए संपर्क कर सकते हैं। 

इन सभी नंबरों को हमने वेरीफाई किया है। लेकिन फिर भी अगर किसी कारणवश ये आपका फोन न उठा पाएं तो घबराएं नहीं। आप इन्हें व्हाट्सएप मैसेज कर सकते हैं। यदि इनके अलावा, आपको पश्चिम बंगाल में और किसी संगठन के बारे में पता है, तो उनके नाम और नंबर द बेटर इंडिया के साथ साझा करें। 

संपादन- जी एन झा

यह भी पढ़ें: पुणे: Covid-19 मरीज़ों के लिए, प्लाज़्मा डोनर व ब्लड बैंक के फोन नंबर

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें।

Advertisement
close-icon
_tbi-social-media__share-icon