ऑफर सिर्फ पाठकों के लिए: पाएं रू. 200 की अतिरिक्त छूट ' द बेटर होम ' पावरफुल नेचुरल क्लीनर्स पे।अभी खरीदें
X
माँ के नुस्खे को बनाया देसी स्किन-हेयर केयर ब्रांड, 8 हज़ार के निवेश से पहुँचाया 80 हज़ार तक

माँ के नुस्खे को बनाया देसी स्किन-हेयर केयर ब्रांड, 8 हज़ार के निवेश से पहुँचाया 80 हज़ार तक

चेन्नई की ऐश्वर्या शंकर अय्यर और रमा शंकर नामक माँ-बेटी की जोड़ी ने घरेलू नुस्खों से बने स्किन और हेयर केयर प्रोडक्ट्स से Aavaram ब्रांड की शुरुआत की।

जून 2019 में, चेन्नई की 23 वर्षीया ऐश्वर्या शंकर अय्यर ने एक इंस्टाग्राम पेज लॉन्च कर, ‘ऐवरम ब्रांड’ की शुरुआत की। जो शुरुआत केवल त्वचा के हर्बल पाउडर के साथ हुई थी, वह धीरे-धीरे बाल झड़ने की परेशानी से जूझ रहे लोगों के लिए वरदान साबित होने लगा। पाउडर के साथ-साथ यह ब्रांड तेल भी बनाने लगा। 8,000 रुपये के शुरुआती निवेश से शुरू हुआ यह ब्रांड आज लगभग 80,000 रुपये महीने की आय कर रहा है।

शुरुआती दिनों में यह उत्पाद जहाँ केवल 20 लोगों तक ही पहुँच रहा था, अब यह हर महीने 200 से अधिक लोगों तक पहुँच रहा है।

Skin Care
उत्पाद में प्रयोग होने वाली सामग्रियां

अपने इस ब्रांड के बारे में ऐश्वर्या ने द बेटर इंडिया को बताया, “मुझे याद है जब बचपन में दादी हर रविवार को मेरे बालों की, तेल से चम्पी किया करती थी। दादी बालों को अपने हाथों से कूटे हुए एक पाउडर से धोती थीं। इन घरेलू पाउडरों में औसतन कम से कम छह सामग्रियां होती थी, जिसके परिणाम स्वरूप बाल हमेशा सुंदर, घने और सुलझे रहते थे।”

ऐश्वर्या आगे बतातीं हैं, “जैसे-जैसे मैं बड़ी हुई, मैं घर के बने पाउडरों से दूर होती चली गई और मैंने रेडीमेड उत्पादों को खरीदना शुरू कर दिया। जिसके कारण मेरे बाल भी काफी झड़ने लगे। आज भी हर बार जब मैं, अपनी दादी से मिलती हूँ तो सबसे पहले वह मेरे बालों को देखतीं है तो कहतीं हैं कि अब तुम्हारे बाल कितने हल्के और रूखे से लगते हैं।”


ऐश्वर्या ने बताया, “यह सब अम्मा (रमा शंकर) के साथ शुरू हुआ था, जिन्होंने मुझे 30 से अधिक हर्बल सामग्री के साथ तैयार एक ‘बाथ पाउडर’ बना कर दिया था। मैंने बहन और अपने लिए काफी कुछ बनाया था, क्योंकि हम मुंहासों और टैनिंग की समस्या से काफी परेशान थे। बाजार में उपलब्ध, बहुत सारे क्रीम तथा लोशन उपयोग करने के बाद, हम इन घरेलू उपचारों को आजमाने के लिए तैयार थे।”

वह कहती हैं, “इस पाउडर ने न सिर्फ मेरी मुंहासे वाली त्वचा पर अद्भुत असर दिखाया, बल्कि मेरी बहन को भी ‘स्किन टैनिंग’ से उबरने में मदद की।”

लगभग एक महीने तक इस पाउडर का उपयोग करने के बाद, उन्होंने अपनी कुछ दोस्तों तथा क्लासमेट्स को भी यह पाउडर उपयोग के लिए दिया, जिसकी प्रतिक्रिया सकारात्मक रही।

Skin Care
ऐवरम की महिला शक्ति

ऐश्वर्या कहती हैं, “दो महीने के उपयोग के बाद, हमने इन घरेलू उत्पादों को पूरी तरह से अपनाने का फैसला किया। हमने बाजार से बॉडी वॉश, फेस वॉश और यहाँ तक कि हेयर ऑयल खरीदना भी बंद कर दिया था। सच कहूँ तो हमारा विचार कोई ब्रांड शुरू करना नहीं था और पहले हम केवल दोस्तों को ही, इन उत्पादों के नमूने सौंप रहे थे। सबकी सकारात्मक प्रतिक्रिया ने हमें, बड़े पैमाने पर ऐसा करने के लिए प्रेरित किया।”

उन्होंने बताया, “अलग-अलग लोगों की त्वचा को देखते हुए मैं पहले काफी आशंकित थी कि मेरे उत्पादों का इन पर कैसा असर होगा। हालांकि, ग्राहकों के फीडबैक से हम काफी खुश हैं।”

ग्राहकों की प्रतिक्रिया

चेन्नई से ‘ऐवरम ब्रांड’ की ग्राहक, वैष्णवी ने बताया, “मैंने जब इसे सिर्फ एक बार उपयोग किया तो बहुत बड़ा बदलाव महसूस किया। मैं यह देख कर हैरान थी कि, मेरे बाल झड़ने, वास्तव में बंद हो गए हैं। मैं बार-बार अपने बालों को खींचकर देख रही थी कि, क्या यह मेरे ही बाल हैं? मैं यह नहीं कहती कि, बालों को धोते वक्त बाल नहीं झड़े पर, धोने के बाद बालों का झड़ना काफी कम हो गया। आगे से मैं इसका हफ्ते में दो से तीन बार उपयोग करुँगी।”

रमा शंकर कहतीं हैं, “हमारे उत्पादों को उपयोग करने वालों में महिला तथा पुरुषों के साथ ही, बच्चे भी हैं। दरअसल मैं कुछ ऐसा बनाना चाहती थी जो सस्ता हो। क्योंकि इसके पहले मैंने अपनी बेटी को चेहरे की क्रीम पर बहुत पैसे खर्च करते हुए देखा था।”

ऐश्वर्या बताती हैं, “अम्मा ने खुदरा बिक्री तो शुरू कर दी, लेकिन उन्हें ज्यादा भरोसा नहीं था। दरअसल उन्होंने इन पाउडरों को कभी भी, किसी व्यावसायिक मानसिकता से नहीं बनाया था। उनका इरादा पूरी तरह से हमारी मदद करने का था। अगर अपने बारे में कहूँ तो मैं शुरू में हेयर पाउडर की प्रशंसक नहीं थी। शैम्पू से दूर जाने का विचार कुछ ऐसा था, जिससे मैं सहज नहीं थी। हालाँकि, दो बार बालों को धोने के बाद, मेरे बालों में स्पष्ट रूप से बदलाव दिखाई दे रहे थे। बालों में बेहतरीन चमक थी और काफी रेशमी भी लग रहे थे।”

Skin Care
ऐवरम के उत्पाद: एक परिदृश्य

ऐश्वर्या कहती हैं, “हम स्थानीय विक्रेता से जड़ी-बूटियाँ लेते हैं, जबकि तुलसी, नीम, और पुदीने की पत्तियों को घर पर ही उगाते हैं, फिर उन्हें धूप में सुखाते हैं। इन उत्पादों को बनाने में समय लगता है और यह मौसम की स्थिति पर भी निर्भर करता है।”

यह एक पूरी तरह से देसी ब्रांड है, जहाँ सामग्री के स्रोत से लेकर उत्पादों के मिश्रण और पैकेजिंग तक सब कुछ ऐश्वर्या, उनकी मां और छोटी बहन द्वारा किया जाता है। बालों का तेल 100 मिलीलीटर या 200 मिलीलीटर में खरीदा जा सकता है तथा इसकी कीमत 240 रुपये से अधिक है। ‘बाथ पाउडर’ 100, 200, 400 और 500 ग्राम के पैक में आते हैं, जिनकी कीमत 200 रूपये से अधिक है।
ऐश्वर्या अंत में बतातीं हैं, “हमारे पास कई नए ग्राहक हैं जो ‘बाथ पाउडर’ का उपयोग करने के सही तरीके से वाकिफ नहीं हैं। उनके लिए, उत्पादों को उपयोग करने के तरीके बताते हुए, मैं एक नोट भेजती हूँ। यदि कोई ग्राहक उत्पाद के बारे में बात करना चाहते हैं, तो वह मुझसे बात कर सकते है।”

यदि आप ‘ऐवरम ब्रांड’ के उत्पादों के लिए ऑर्डर करना चाहते हैं, तो आप उनके इंस्टाग्राम पेज को यहाँ देख सकते हैं।

संपादन – जी एन झा
मूल लेखविद्या राजा

यह भी पढ़ें – माँ-बेटी की जोड़ी ने शुरू किया मसालों का बिज़नेस, सैकड़ों महिलाओं को बनाया आत्मनिर्भर

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें।

skin care, skin care, skin care, skin care

प्रीति महावर

प्रीति महावर को संपादन, रिपोर्टिंग, साक्षात्कार, रचनात्मक लेखन और फोटोग्राफी में लगभग 5+ वर्षों का अनुभव है। प्रीति ने स्नातकोत्तर की उपाधि ‘जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन’ विषय में प्राप्त की है। इन्हें मीडिया के तीनो स्तम्भ प्रिंट मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया तथा न्यू मीडिया का अनुभव है और इन्होंने सी.एन.बी.सी. आवाज़, दैनिक भास्कर जैसे प्रमुख मीडिया हाउसेस के साथ कार्य किया है।
Let’s be friends :)
सब्सक्राइब करिए और पाइए ये मुफ्त उपहार
  • देश भर से जुड़ी अच्छी ख़बरें सीधे आपके ईमेल में
  • देश में हो रहे अच्छे बदलावों की खबर सबसे पहले आप तक पहुंचेगी
  • जुड़िए उन हज़ारों भारतीयों से, जो रख रहे हैं बदलाव की नींव