Search Icon
Nav Arrow

Handmade Soap Business: घर से शुरू करें केमिकल-फ्री साबुन बनाने का बिज़नेस

घर से हैंडमेड, केमिकल-फ्री और प्राकृतिक साबुन का बिज़नेस करने के लिए सबसे ज्यादा ज़रूरी है कि आपको अच्छी तरह से साबुन बनाना आता हो!

हमारी रोज़मर्रा की ज़िंदगी में इस्तेमाल होने वाले बहुत से उत्पाद केमिकल से भरे हुए हैं। हमारे टूथपेस्ट से लेकर नहाने के साबुन, शैम्पू और अन्य कोस्मटिक प्रोडक्ट्स तक, लगभग सभी में कोई न कोई ऐसा तत्व होता है जो न केवल हमारे शरीर के लिए बल्कि पर्यावरण के लिए भी नुकसानदायक है। इसलिए आजकल काफी ऐसे लोग हैं जो एक सस्टेनेबल लाइफस्टाइल की तरफ कदम बढ़ा रहे हैं। इसके लिए या तो वह केमिकल फ्री और प्राकृतिक उत्पाद खरीदते हैं या फिर खुद अपने उत्पाद बनाते हैं।

जी हाँ, आप खुद अपने लिए जैविक चीजों का इस्तेमाल करके साबुन, शैम्पू, हेयर मास्क, क्रीम, फेस वॉश आदि बना सकते हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि आजकल लोग न सिर्फ ये चीजें अपने इस्तेमाल के लिए बना रहे हैं बल्कि अपने आस-पास के लोगों के लिए भी बनाकर छोटे स्तर पर अपना बिज़नेस कर रहे हैं। इन सबमें घर पर हैंडमेड, केमिकल फ्री और प्राकृतिक साबुन बनाना बहुत ही आसान है। बस आपको सही प्रक्रिया आनी चाहिए।

अगर आपको त्वचा के अनुसार प्राकृतिक सामग्री को मिलाकर साबुन बनाना आता है तो आप अपने घर से ही यह बिज़नेस शुरू कर सकते हैं। जैसा कि बेंगलुरु में रहने वाली अनुराधा ने किया। अनु पिछले 4 सालों से केमिकल फ्री और प्राकृतिक साबुन (Handmade Soap Business) घर पर बनाकर बेच रही हैं। वह एक कंप्यूटर ग्रैजुएट हैं और अपना एक गार्डन स्टोर, ‘नित्य जैविक’ चलाती हैं। अनु खुद गार्डनिंग करतीं और गार्डनिंग से संबंधित चीजें जैसे पौधे, खाद, फ़र्टिलाइज़र आदि बनाती हैं।

Start Handmade Soap Business
Handmade, Chemical-free Soap

हमेशा से सस्टेनेबल लाइफस्टाइल के प्रति जागरूक रहीं अनु ने लगभग 5 साल पहले खुद साबुन बनाना भी सीखा। शुरूआत में यह सिर्फ उनकी हॉबी थी लेकिन फिर धीरे-धीरे यह पैशन बनता चला गया। अलग-अलग स्किन टाइप के आधार पर वह अलग-अलग प्राकृतिक चीजों से साबुन बनातीं हैं। उनके इन साबुनों को जब उनके एक-दो जानकर ने इस्तेमाल किया तो उन्हें ऑर्डर्स भी मिलने लगे।

“नित्य जैविक के अंतर्गत ही मैं अपने साबुन बेचती हूँ। मैं सीधा ग्राहकों को बेचने के साथ-साथ होलसेल और रिटेल पर भी साबुन देती हूँ। हालांकि, अभी बहुत ज्यादा कमर्शियल लेवल पर मेरा बिज़नेस नहीं है। लेकिन जो भी है उसमें मुझे बहुत ख़ुशी मिलती है। खुद साबुन बनाने के साथ-साथ मैं अब तक लगभग 80 लोगों को साबुन बनाना भी सिखा चुकी हूँ,” उन्होंने आगे कहा।

आज द बेटर इंडिया के साथ, अनु बता रही हैं कि कैसे कोई भी घर से अपना हैंडमेड, केमिकल फ्री और प्राकृतिक साबुन का बिज़नेस शुरू कर सकता है!

1. अपना बिज़नेस शुरू करने से पहले किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

अनु: सबसे पहली और सबसे ज़रूरी बात है कि आपको साबुन बनाना आना चाहिए। अगर आपको अभी साबुन बनाना नहीं आता लेकिन आप सीखना चाहते हैं तो बिल्कुल सीख सकते हैं। सीखने की कोई उम्र नहीं होती है और इसलिए आप किसी ऑनलाइन वर्कशॉप में या फिर अपने आस-पास किसी से यह सीख सकते हैं। ट्रेनिंग या वर्कशॉप करने के बाद आप घर पर साबुन बनाने की प्रैक्टिस करें। पहले खुद बनाएं और इस्तेमाल करके देखें और फिर दूसरों से भी फीडबैक लें।

जानिए कैसे बना सकते हैं घर पर केमिकल-फ्री साबुन!

जब आपको लगे कि आप इसमें अच्छे हो गए हैं तो आप अपने बिज़नेस के बारे में सोचें। इसके लिए आपको शुरूआत में ही बहुत ज्यादा खर्च करने की ज़रूरत नहीं है। आप बहुत कम इन्वेस्टमेंट से भी अपना काम शुरू कर सकते हैं।

2. किन-किन चीजों की होती है ज़रूरत?

अनु: साबुन बनाने के लिए आपको शुरूआत में Lye, नारियल या अरंडी का तेल जैसे फैट, एसेंशियल तेल, रंग के लिए प्राकृतिक तत्व जैसे हल्दी, पुदीना, गुलाब और कुछ अन्य चीजें जैसे सोप मोड्यूल, ब्लेंडर और कलछी की ज़रूरत होती है। आप अपनी ज़रूरत के अनुसार 2 से 3 हज़ार की लागत तक यह काम शुरू कर सकते हैं।

Soap Business
Things Required

सर्टिफिकेशन के बारे में अनु कहतीं हैं कि अगर आपका बिज़नेस छोटे स्तर पर है और आप अपने सर्किल में ही काम कर रहे हैं तो आपको लाइसेंस की ज़रूरत नहीं पड़ती है। पर अगर आप बड़े स्तर पर अपनी यूनिट सेट-अप करना चाहते हैं और कमर्शियल लवले पर बिज़नेस करना चाहते हैं तो आपको कई सर्टिफिकेशन लेने पड़ते हैं जैसे FDA एप्रोवल, ट्रेड लाइसेंस, ऑर्गनिक सर्टिफिकेट और शॉप लाइसेंस आदि। इन चीजों के बारे में पहले आपको अच्छी तरह से रिसर्च करनी होगी और फिर आप प्रोसेस कर सकते हैं।

3. कैसे करें पैकेजिंग और मार्केटिंग?

अनु: पैकेजिंग के लिए अच्छा होगा कि आप इको-फ्रेंडली विकल्प रखें। जैसे आप बटर पेपर में इन्हें पैक कर सकते हैं या फिर पेपर बॉक्स में भी। जहाँ तक बात मार्केटिंग कि है तो बहुत से तरीके हो सकते हैं मार्केटिंग के। लेकिन बिना किसी ख़ास लागत के सबसे अच्छा तरीका है कि आप सोशल मीडिया के ज़रिए मार्केटिंग करें।

Soap Business From Home
Packaging

फेसबुक और इंस्टाग्राम पर आप अपना अकाउंट बना सकते हैं। इस पर अपने केमिकल फ्री और प्राकृतिक साबुनों की पोस्ट डालें और अलग-अलग ग्रुप्स में शेयर करें। सबसे पहले अपने इलाके के लोगों को टारगेट करें और अपने शहर के फेसबुक ग्रुप्स को ज्वाइन करके अपनी मार्केटिंग करें। आप व्हाट्सएप का भी इसके लिए उपयोग कर सकते हैं।

दूसरा, ग्राहकों के ज़रिए भी आप अपनी मार्केटिंग कर सकते हैं। अपने ग्राहकों से अच्छा रिश्ता बनाए क्योंकि वह जो आपको मार्केटिंग कर सकते हैं, वैसा कोई नहीं कर सकता है।

4. कैसे तय करें मूल्य?

अनु: किसी भी साबुन का मूल्य तय करने से पहले आप उसे बनाने में इस्तेमाल हुई सभी सामग्री की कॉस्ट निकालें और इसमें पैकेजिंग की कॉस्ट भी जोड़ लें। इसके साथ आप अपनी लेबर कॉस्ट भी जोड़ें। सभी कुछ जोड़-घटाने के बाद जो मूल्य आए उसमें अब आप अपना प्रॉफिट मार्जिन जोड़ सकते हैं। शुरू में ज्यादा मार्जिन न रखें लेकिन ऐसा भी न हो कि आप बिल्कुल भी मार्जिन न रखे क्योंकि ऐसे आपको प्रॉफिट नहीं मिलेगा।

मूल्य तय करते समय याद रखें कि अगर आप क्वालिटी के प्रोडक्ट दे रहे हैं तो ग्राहक आपको बाज़ार से दस-बीस रुपये ज्यादा देने में नहीं हिचकेंगे। इसलिए हमेशा अपनी क्वालिटी मेन्टेन रखें।

5. ग्राहकों का विश्वास बनाए रखने के लिए टिप्स:

  • कभी भी क्वालिटी को लेकर समझौता न करें। हमेशा अपने ग्राहकों को वही उत्पाद दें जो आप खुद इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • शुरूआत में आप भले ही एक-दो किस्म के ही साबुन बनाएं लेकिन ऐसा बनाएं कि ग्राहकों को आपसे बेहतर कहीं न मिले।
  • हमेशा अपने ग्राहकों से फीडबैक लें। फीडबैक लेने से आपको पता चलेगा कि आप क्या-क्या सुधार कर सकते हैं।
  • अगर आप ग्राहकों के सुझावों को ध्यान में रखते हुए काम करेंगे तो आपका एक ग्राहकों आपको और चार लोगों से जोड़ेंगे।
  • खुद से और अपने ग्राहकों से सच्चे रहें क्योंकि सच्चाई आपको हमेशा आगे बढ़ने की राह देती है।

तो देर किस बात की, आज ही करें इस पर विचार। अगर आप पहले से ही साबुन बनाते हैं तो बढ़ाएं एक कदम और शुरू करें अपना बिज़नेस। अगर आपको साबुन बनाने की ट्रेनिंग लेनी है तो आप अपने आसपास वर्कशॉप का पता कर सकते हैं या फिर ऑनलाइन भी जानकारी हासिल कर सकते हैं!

यह भी पढ़ें: जानिए कैसे निम्बू और संतरे के छिलकों से बना सकते हैं होम क्लीनर्स, स्क्रब और कंपोस्ट
संपादन – जी. एन झा


यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें। आप हमें किसी भी प्रेरणात्मक ख़बर का वीडियो 7337854222 पर व्हाट्सएप कर सकते हैं।

_tbi-social-media__share-icon