in

जानिए कैसे निम्बू और संतरे के छिलकों से बना सकते हैं होम क्लीनर्स, स्क्रब और कंपोस्ट

घर पर ही निम्बू और संतरे के छिलकों से बनाएं होम-क्लीनर्स और करें एक सस्टेनेबल लाइफस्टाइल की शुरुआत!

आपके घर में निम्बू और संतरे के छिलकों का क्या किया जाता है? संतरे के छिलके तो फिर भी लोग सुखाकर फेसपैक के लिए रख लेते हैं लेकिन निम्बू के छिलके? ज़्यादातर घरों में निम्बू और संतरे के छिलके फेंके ही जाते हैं। लेकिन आज हम आपको बता रहे हैं कि कैसे आप निम्बू और संतरे के छिलके का इस्तेमाल कर सकते हैं। इन छिलकों से आप अपने घर के लिए इको-फ्रेंडली और सस्टेनेबल क्लीनर, कंपोस्ट और फेसपैक जैसी चीज़ें बना सकते हैं।

पिछले दो सालों से सस्टेनेबल लाइफस्टाइल प्रैक्टिस कर रही कौस्तुभा शर्मा बतातीं हैं कि बहुत से पर्यावरण के प्रति संवेदनशील लोगों की तरह, वह भी पहले निम्बू और संतरे के छिलकों को कंपोस्ट बिन में डालती थीं लेकिन फिर उन्हें पता चला कि इनसे हम अपने घर की साफ़-सफाई के लिए क्लीनर्स बना सकते हैं। ऐसा करने से आप अपने घर के वेस्ट को अच्छे से मैनेज कर सकते हैं और साथ ही, आपको अपने घर में केमिकल से भरे क्लीनर्स को भी कम करने का मौका मिलता है।

कौस्तुभा ने द बेटर इंडिया को बताया, “निम्बू या संतरे को इस्तेमाल करने के बाद सभी छिलकों को आप एक डिब्बे में इकट्ठा कर सकते हैं और फिर इन्हें फ्रिज में स्टोर कर सकते हैं। कुछ घंटे बाद डिब्बे को निकालें और इसमें सफ़ेद विनेगर मिलाएं। अब इसे और दो हफ्तों के लिए फ्रिज में रख दें।”

Reuse Lemon Orange Peels
Rep Image

जब यह मिक्सचर थोड़ा पुराना हो जाए तो आप इसे एक स्प्रे बोतल में भरकर खिड़की आदि की सफाई कर सकते हैं। यह आपकी रसोई से भी गहरे और चिकने दाग-धब्बों को हटाने में काफी कारगर होते हैं। इसी क्लीनर को आप बाथरूम और वॉश बेसिन साफ़ करने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

“यह बाज़ार में उपलब्ध केमिकल युक्त हानिकारक क्लीनर्स का इको-फ्रेंडली और केमिकल-फ्री विकल्प है। आप घर पर ही ये क्लीनर्स बना सकते हैं और आपको केमिकल अपने घर में लाने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी,” उन्होंने आगे कहा।

पर्यावरण के अनुकूल होने के साथ-साथ यह तरीका किफायती भी है। इन छिलकों को आप बर्तन साफ़ करने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं। खासकर कि चिकनाई वाले बर्तनों के लिए ये काफी अच्छे स्क्रब का काम करते हैं।

अगर कभी आपके पास विनेगर न भी हो तो आप बिना इसके भी प्रभावी क्लीनर्स बना सकते हैं। इसके लिए आपको छिलकों के अलावा गुड़ की ज़रूरत होती है। इन छिलकों से क्लीनर बनाने की प्रक्रिया बहुत ही आसान है:

  • सबसे पहले पानी को उबालें और इसमें गुड़ के छोटे-छोटे टुकड़े करके डालें।
  • जब यह गुड़ पूरी तरह से घुल जाए तब आप इस सॉल्युशन को ठंडा होने के लिए रखें।
  • छिलकों को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट कर एक प्लास्टिक की बोतल में भर लें।
  • सॉल्युशन को इस बोतल में भरें और इस बोतल का ढक्कन अच्छे से बंद करें।
  • अब कम से कम एक महीने तक आपको इस बोतल को किसी कम तापमान और अंधेरे वाली जगह में रखना होगा।

लगभग एक महीने बाद आपके क्लीनर्स तैयार होंगे। क्लीनर्स का पहला बैच तैयार करने में आपको ज़्यादा वक़्त लगेगा। इसके बाद, आप अगले बैच में पुराने क्लीनर की कुछ बूँद मिला देंगे तो यह प्रक्रिया तेज हो जाएगी।

Promotion
Banner

Reuse Lemon Orange Peels

एक अच्छा तरीका यह भी है कि आप कुछ छिलकों को उबालकर, इनका पेस्ट बनाकर रख लें। इस पेस्ट में से थोड़ा-सा हिस्सा लेकर आप फर्श की सफाई के लिए प्रयोग किए जाने वाले पानी में मिला सकते हैं। आप इसका इस्तेमाल डिशवॉश लिक्विड की जगह भी कर सकते हैं।

कुछ अन्य तरीके:

  • आप निम्बू और संतरे के छिलकों को एक कटोरी में रखकर माइक्रोवेव में रखें। कुछ देर के लिए माइक्रोवेव चला दें। इसके बाद कटोरी को निकाल लें और कुछ देर बाद, माइक्रोवेव को एक साफ़ कपड़े से पोंछ दें। इस तरीके से माइक्रोवेव के अंदर से किसी भी तरह का गंध हट जाता है और चिकनाई भी निकल जाती है।
  • निम्बू और संतरे के छिलकों से आप घर पर ही चेहरे के लिए स्क्रब और पैक बना सकते हैं। इसके लिए आपको छिलकों को पहले सुखाना है और फिर इन्हें ग्राइंड करना है।
  • निम्बू और संतरे के छिलकों को पानी में कुछ दिन भिगोकर रखें और फिर इस पानी को आप पेड़-पौधों के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं!

तो इस बार जब भी घर पर निम्बू या संतरे आएं तो याद रखें कि आपको छिलके फेंकने नहीं है बल्कि इनका घर के लिए इस्तेमाल करना है।

यह भी पढ़ें: #DIY Soap: घर पर बनाइए अपना ऑर्गनिक साबुन, आपकी स्किन और पर्यावरण दोनों के लिए सुरक्षित

स्त्रोत
संपादन – जी. एन झा


यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें। आप हमें किसी भी प्रेरणात्मक ख़बर का वीडियो 7337854222 पर व्हाट्सएप कर सकते हैं।

Promotion
Banner

देश में हो रही हर अच्छी ख़बर को द बेटर इंडिया आप तक पहुँचाना चाहता है। सकारात्मक पत्रकारिता के ज़रिए हम भारत को बेहतर बनाना चाहते हैं, जो आपके साथ के बिना मुमकिन नहीं है। यदि आप द बेटर इंडिया पर छपी इन अच्छी ख़बरों को पढ़ते हैं, पसंद करते हैं और इन्हें पढ़कर अपने देश पर गर्व महसूस करते हैं, तो इस मुहिम को आगे बढ़ाने में हमारा साथ दें। नीचे दिए बटन पर क्लिक करें -

₹   999 ₹   2999

Written by निशा डागर

बातें करने और लिखने की शौक़ीन निशा डागर हरियाणा से ताल्लुक रखती हैं. निशा ने दिल्ली विश्वविद्यालय से अपनी ग्रेजुएशन और हैदराबाद विश्वविद्यालय से मास्टर्स की है. लेखन के अलावा निशा को 'डेवलपमेंट कम्युनिकेशन' और रिसर्च के क्षेत्र में दिलचस्पी है.

Grow Lotus

Grow Lotus: जानें गमले में कैसे उगा सकते हैं कमल

terrace gardening in delhi

आम से लेकर इलायची तक, घर में 300 से अधिक पौधों की बागवानी करता है दिल्ली का यह युवा