Search Icon
Nav Arrow

सिर्फ पानी में भी घर पर उगा सकते हैं पुदीना, जानिए कैसे

पानी में पुदीना उगाने के लिए आप किसी भी पुराने प्लास्टिक के डिब्बे का इस्तेमाल कर सकते हैं!

कुछ वक़्त पहले मैंने न्यूट्रीशनल डाइट पर एक सेशन में हिस्सा लिया था, जिसमें एक्सपर्ट ने बताया कि हमारे शरीर को कार्ब्स, विटामिन, प्रोटीन आदि के साथ-साथ कुछ माइक्रोन्यूट्रीएंट की भी जरूरत होती है, जैसे धनिया, पुदीना, करीपत्ता आदि। अगर ये सब हमारे खान-पान में नियमित तौर पर रहें तो शरीर को इनसे काफी पोषण मिलता है।

अक्सर सब्जी खरीदते समय हम 5-10 रुपये का धनिया-पुदीना लाना वैसे भी नहीं भूलते हैं। लेकिन यह ज्यादा से ज्यादा दो दिन तक ताज़ा रहता है और तीसरे दिन एकदम खराब हो जाता है। अगर आप इसे सूती कपड़े में लपेटकर रखें, तब भी मुश्किल से 3-4 दिन ही चल पाता है। यह मेरा अपना निजी अनुभव है। ऐसे में, बहुत बार होता कि जब कभी हमें इनकी ज़रूरत होती है तो किचन में ये छोटी-सी चीज़ मौजूद नहीं होती है।

इसलिए सबसे अच्छा उपाय है कि आप इन हर्ब्स को अपने घर में ही उगा लें। सबसे अच्छी बात यह है कि आपको धनिया या पुदीना उगाने के लिए बाहर से कोई बीज लाने की ज़रूरत नहीं है बल्कि आप सब्जियों के साथ जो लाते हैं उसी से घर पर उगा सकते हैं।

घर पर पुदीना उगाने के दो बहुत ही आसान तरीके अंकित बाजपेई आज हमें बता रहे हैं। वह कहते हैं कि घर पर पुदीना लगाने से आपको हमेशा ताज़ा पुदीना मिलेगा और साथ ही, यह ऐसा पौधा है जो बहुत जल्दी ग्रो करता है और आप एक बार लगाने के बाद इससे कई उपज ले सकते हैं।

1. मिट्टी में उगाएं पुदीना:

  • सबसे पहले आप बाज़ार से लाया हुआ या फिर किसी और के गार्डन से लाया हुआ पुदीना लें और इसे पानी में भिगों दें। लगभग 10 घंटे तक पानी में भिगोने के बाद आप इन्हें लगाएं।
  • पुदीना के लिए पॉटिंग मिक्स तैयार करना बहुत ही आसान है। आप कहीं भी गार्डन से मिट्टी ले सकते हैं, जिसे हम लाल मिट्टी कहते हैं और इसमें रेत, गोबर की खाद या फिर वर्मीकंपोस्ट मिला लें।
Take Mint Cuttings and prepare soil mix
  • गमले का चुनाव आप अपनी ज़रूरत के हिसाब से करें। आपको जितना ज्यादा पुदीना चाहिए, उतना बड़ा गमला लें।
  • ध्यान रहे कि आप जो भी गमला लें, उसमें ड्रेनेज अच्छे से हो मतलब की गमले के तले में छेद सही से हों।
  • अब आप पुदीना को पानी से निकालें और आप देखेंगे कि कुछ ऐसी कटिंग हैं जिनमें नीचे हल्की-हल्की जड़ें निकली हुई हैं। आप इन कटिंग्स को अलग कर लें और बिना जड़ वाली कटिंग्स को अलग।
take those cuttings with roots and make holes in the soil to plant these

“जड़ वाली कटिंग्स से बहुत जल्दी पुदीना उगेगा और वहीं बिना जड़ वाली कटिंग्स को लगाने से पहले आप रूटिंग होर्मोन पाउडर का इस्तेमाल कर सकते हैं। रूटिंग हॉर्मोन पाउडर की मदद से कटिंग में जल्दी जड़ें बनती हैं और पौधा उगने के चांस बढ़ जाते हैं। आप यह ऑनलाइन ऑर्डर करके मंगवा सकते हैं,” अंकित ने कहा।

  • कटिंग को लगाते समय ध्यान रहे कि आप सिर्फ ऊपर में दो-चार पत्ते छोड़ें, बाकी नीचे से सभी पत्ते निकाल दें।
  • अब गमले में पॉटिंग मिक्स भरें और इसमें पानी डालें। पानी सोखने के बाद आप किसी लकड़ी की मदद से मिट्टी में छोटे-छोटे छेद कर दें।
Plant these cuttings and sprinkle water
  • इन छेदों में आप पुदीना की अलग-अलग कटिंग्स को लगाएं। अगर आप जड़ वाली कटिंग को लगा रहे हैं तो सीधा लगा दें, लेकिन अगर कटिंग में जड़ नहीं है तो आप सबसे पहले इसे रूटिंग हॉर्मोन पाउडर में डालें और फिर लगाएं।
You can dip these cuttings in rooting hormone powder
  • कटिंग लगाने के बाद एक बार फिर इनमें पानी दें। इन गमलों को आप ऐसी जगह पर रखें, जहां सीधी धूप न पड़ती हो लेकिन एकदम अंधेरा भी न हो।
  • नियमित तौर पर इन पर पानी स्प्रे करते रहें और एक हफ्ते बाद आप देखेंगे कि ये कटिंग्स पौधों में बदलने लगी हैं।
  • लगभग 25 दिन में ये पौधे बढ़ने लगेंगे और फिर आपका पुदीना हार्वेस्टिंग के लिए तैयार भी होगा।
Your fresh mint is ready

अंकित कहते हैं कि किसी भी पौधे को लगाते समय सबसे ज्यादा ध्यान मौसम का रखना होता है। पुदीना के लिए 30-32 डिग्री तापमान सही रहता है। इसलिए आप फरवरी-मार्च के बाद लगाना शुरू कर सकते हैं और सर्दी शुरू होने से पहले तक लगा सकते हैं। बहुत ज्यादा पानी न दें लेकिन गमले की मिट्टी में नमी बने रहे।

पूरी वीडियो यहाँ देखें: 

2. सिर्फ पानी में उगाएं पुदीना:

अंकित पुदीना उगाने का एक और तरीका बता रहे हैं, जिसे लोग सर्दियों में भी अपना सकते हैं और वह है सिर्फ पानी में पुदीना उगाना। जी हाँ, पुदीना ऐसे पौधों में से है जिसे आसानी से बिना मिट्टी के पानी में उगाया जा सकता है। यह तरीका बहुत ही आसान है।

इसके किए आपको प्लास्टिक का कोई डिब्बा या फिर टोकरी आदि चाहिए। आप इसके लिए ट्रांसपेरेंट प्लास्टिक का जार ले सकते हैं।

  • सबसे पहले, इस डिब्बे के ढक्कन में किसी नुकीली चीज़ की मदद कई सारे छेद कर लीजिये।
  • अब पुदीना की कटिंग लें और ध्यान रहें कि आप जो कटिंग ले रहे हैं, उनके तने एकदम हरे न हों। तनों का रंग थोड़ा भूरा-भूरा होना चाहिए।
Take a plastic container and make some holes in the lid
  • अब इन कटिंग को पानी में धो लें और नीचे की तरफ से सभी पत्तों को हटा दें, ऊपर सिर्फ चार पत्ते रहने चाहिए।
  • आप चाहें तो इन कटिंग्स को भी रूटिंग हॉर्मोन पाउडर में डालकर, फिर लगा सकते हैं।
  • अब अलग-अलग कटिंग्स को ढक्कन में किए छेद में लगाएं।
How To Grow Mint
Put the mint cuttings in the holes
  • जार को पानी से भर लें, ऊपर से थोड़ा खाली रहना चाहिए।
  • अब आप कटिंग्स सहित ढक्कन को जार पर लगा दें।

हर तीन से चार दिन में आपको जार का पानी बदलना है और साथ ही, इस जार को ऐसी जगह रखें, जहाँ छांव हो और सीधी धूप न पड़ती हो।

How To Grow Mint
Put the lid on the container filled with water
  • लगभग 10 दिनों में आपकी कटिंग्स बढ़ने लगेंगी और नीचे से उनकी जड़ें भी निकलने लगेंगी।
  • 10 दिन में आपको दो बार पानी बदलना है और फिर दसवें दिन आप पानी में एक चुटकी भर NPK मिला सकते हैं।
  • इससे आपका पुदीना अच्छे से बढ़ेगा।

How To Grow Mint

नोट: अगर आप पानी में पुदीना उगा रहे हैं तो ध्यान रहे कि आपके यहाँ का तापमान 30 डिग्री से कम हो क्योंकि अगर इससे ज्यादा तापमान होता है तो कटिंग्स खराब होने लगतीं हैं।

फिर देर किस बात की है, आज ही अपनी सब्जियों से पुदीना की कटिंग्स लीजिए और खुद उगाइए अपना स्वस्थ और ताजा पुदीना।

पूरी वीडियो यहाँ देखें:

यह भी पढ़ें: Glass Gem Corn: ये रंग-बिरंगे कॉर्न अब आप अपनी छत या आँगन में भी उगा सकते हैं, जानिए कैसे

तस्वीर साभार: अंकित बाजपेई


यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें। आप हमें किसी भी प्रेरणात्मक ख़बर का वीडियो 7337854222 पर व्हाट्सएप कर सकते हैं।

close-icon
_tbi-social-media__share-icon