ऑफर सिर्फ पाठकों के लिए: पाएं रू. 200 की अतिरिक्त छूट ' द बेटर होम ' पावरफुल नेचुरल क्लीनर्स पे।अभी खरीदें
X
इसरो घर बैठे करा रहा है एक हफ्ते का ऑनलाइन कोर्स, ऐसे करें आवेदन!

इसरो घर बैठे करा रहा है एक हफ्ते का ऑनलाइन कोर्स, ऐसे करें आवेदन!

इस ऑनलाइन कोर्स में हिस्सा लेने वाले लोगों को लेक्चर स्लाइड, वीडियो लेक्चर, ओपन-सोर्स सॉफ्टवेयर, हैंडआउट्स आदि IIRS द्वारा शेयर लिंक के जरिए एक्सेस करना होगा। 


अगर आप भी भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) से जुड़कर कोई कोर्स करना चाहते थे तो अब आपका यह सपना जल्द पूरा हो सकता है। इसरो ने अपने केंद्र, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ रिमोट सेंसिंग (IIRS) के माध्यम से सैटेलाइट फोटोग्रामेट्री और इसके एप्लीकेशन पर एक मुफ्त ऑनलाइन कोर्स के लिए आवेदन पत्र आमंत्रित किये हैं।

क्या है ‘सैटेलाइट फोटोग्रामेट्री’?

इस पाठ्यक्रम का उद्देश्य अंतरिक्ष-जनित सेंसर से मिलने वाले स्टीरियो डेटा व उसके विश्लेषण से संबंधित सिद्धांतों और तकनीकों पर फोकस करना है। इस तकनीक के संभावित उपयोगकर्ता प्रशासक, डिसीजन-मेकर्स, इंजीनियर, सिटी-प्लानर्स और प्राकृतिक संसाधन वैज्ञानिक हैं।

यह कोर्स 29 जून से शुरू होगा और 03 जुलाई 2020 को समाप्त होगा। 

आप क्या सीखेंगे?

पाठ्यक्रम में निम्न विषयों को शामिल किया गया है : 

  • फोटोग्रामेट्रिक कॉन्सेप्ट
  • सैटेलाइट फोटोग्रामेट्री
  • जीपीएस की मूल बातें
  • DEM और इसके डेरिवेटिव
  • ऑर्थोइमेज जनरेशन

फ्री ऑनलाइन कोर्स के बारे में अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें।

ध्यान दें: प्रतिभागियों को सभी उपयुक्त पाठ्यक्रम अध्ययन सामग्री जैसे लेक्चर स्लाइड, वीडियो लेक्चर, ओपन-सोर्स सॉफ्टवेयर, हैंडआउट्स आदि IIRS द्वारा शेयर लिंक के जरिए एक्सेस करना होगा। इसके अलावा सभी वीडियो लेक्चर यूट्यूब चैनल पर भी अपलोड किए जाएँगे।

महत्वपूर्ण तारीख

पाठ्यक्रम 29 जून 2020 से शुरू होगा और 3 जुलाई 2020 तक चलेगा।

जानने योग्य बातें:

ISRO online course
source
  • इस प्रोग्राम के लिए कोई शुल्क नहीं देना है, यह पूरी तरह निशुल्क है।
  • यह पाठ्यक्रम केंद्रीय या राज्य सरकारों, निजी संगठनों, गैर सरकारी संगठनों में काम करने वाले लोगों के साथ-साथ आपदा प्रबंधन से जुड़ी गतिविधियों में लगे छात्रों और शोधकर्ताओं के लिए तैयार किया गया है।
  • पाठ्यक्रम के प्रतिभागियों को उनके विश्वविद्यालय या संस्थान द्वारा विधिवत प्रायोजित किया जाना चाहिए और उन संस्थाओं या सेंटर के कोऑर्डिनेटर द्वारा ही प्रतिभागियों के आदेवन भेजे जाने चाहिए।
  • कोर्स समाप्त होने के बाद प्रतिभागियों को निम्न आधार पर सर्टिफिकेट प्रदान किया जाएगा
  1. नौकरी करने वाले लोगों के लिए न्यूनतम 70 प्रतिशत उपस्थिति अनिवार्य होगी और सभी असाइनमेंट समय पर जमा करने होंगे।
  2. छात्रों के लिए 70 प्रतिशत न्यूनतम उपस्थिति और ऑनलाइन परीक्षा में भाग लेना और उसे पास करना।
  • लेक्चर के शेड्यूल के बारे में जानने के लिए यहां क्लिक करें।
  • पाठ्यक्रम से जुड़े सभी विवरण आधिकारिक वेबसाइट पर यहां अपलोड किए जाएंगे।

आप अपने सवाल – edusat@iirs.gov.in/edusat2004@gmail.com पर ईमेल कर सकते हैं।

मूल लेख-

फेसबुक और फ़ीचर इमेज सोर्स: ISRO / Twitter

यह भी पढ़ें- IISC की पूर्व छात्रा ने अपार्टमेंट में बनाया बगीचा, यूट्यूब पर हैं 6.5 लाख फैन!

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें। आप हमें किसी भी प्रेरणात्मक ख़बर का वीडियो 7337854222 पर व्हाट्सएप कर सकते हैं।

अनूप कुमार सिंह

अनूप कुमार सिंह पिछले 6 वर्षों से लेखन और अनुवाद के क्षेत्र से जुड़े हैं. स्वास्थ्य एवं लाइफस्टाइल से जुड़े मुद्दों पर ये नियमित रूप से लिखते रहें हैं. अनूप ने कानपुर विश्वविद्यालय से हिंदी साहित्य विषय में स्नातक किया है. लेखन के अलावा घूमने फिरने एवं टेक्नोलॉजी से जुड़ी नई जानकारियां हासिल करने में इन्हें दिलचस्पी है. आप इनसे anoopdreams@gmail.com पर संपर्क कर सकते हैं.
Let’s be friends :)
सब्सक्राइब करिए और पाइए ये मुफ्त उपहार
  • देश भर से जुड़ी अच्छी ख़बरें सीधे आपके ईमेल में
  • देश में हो रहे अच्छे बदलावों की खबर सबसे पहले आप तक पहुंचेगी
  • जुड़िए उन हज़ारों भारतीयों से, जो रख रहे हैं बदलाव की नींव