in

सरकार को नोटबंदी का सुझाव देने वाले बोकिल अब कर रहे हैं टैक्स बंदी का दावा!

प्रधानमत्री नरेन्द्र मोदी ने 8 नवम्बर 2016 को 500 और 1000 के पुराने नोटों को बंद करवा कर सभी देशवासियों को अचम्भे में डाल दिया था। प्रधानमंत्री द्वारा काले धन के खिलाफ उठाये गए इस कठोर कदम का सुझाव दरअसल पुणे के अर्थक्रांती प्रतिष्ठान के सीए, अनिल बोकिल द्वारा दिया गया था।

अनिल बोकिल ने अब दावा किया है कि सरकार जल्द ही उनके दुसरे सुझाव को भी अपनाएगी और बाकी सभी करो को खारिज कर केवल बैंकिंग ट्रांजेक्षण टैक्स (बीटीटी) यानी की बैंक में किये आदान प्रदान पर कर जारी करेगी।

Image for representation. Photo source

इस कर की ख़ास बात ये होगी कि इसके अंतर्गत सभी कर पूरी तरह खारिज कर दिए जायेंगे, जिसमे की कस्टम ड्यूटी और आयकर (इनकम टैक्स) भी शामिल होंगे। इसके बदले सरकार बैंक में किये आदान प्रदान (ट्रांजेक्षण) के आधार पर कर लागू करेगी। इसमें क्रेडिट और डेबिट कार्ड से किये गए आदान प्रदान भी शामिल होंगे।

Promotion

CNN IBN को दिए एक साक्षात्कार के दौरान बोकिल ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश में भारी बहुमत से मिली जीत के बाद सरकार अब इस ठोस कदम को उठाने के लिए बिलकुल तैयार है। बोकिल के मुताबिक़ बीटीटी लागू करने से कर व्यवस्था में अधिक पारदर्शिता आयेगी।

बोकिल की टीम ने इस मॉडल का सुझाव सबसे पहले बीजेपी को 1999 में दिया था। इस मॉडल से जमा किये गए कर को सभी राज्य तथा केन्द्रीय सरकारों में बांटा जायेगा।

हालाँकि ये सब अभी भी सिर्फ एक आंकलन ही है, बोकिल मानते है कि ऐसा करने से काले धन पर निश्चित ही रोक लगाया जा सकेगा।

उम्मीद है कि सरकार हर कदम, देश के हित में ही उठाएगी!


यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ बांटना चाहते हो तो हमें contact@thebetterindia.com पर लिखे, या Facebook और Twitter (@thebetterindia) पर संपर्क करे।

Promotion

देश में हो रही हर अच्छी ख़बर को द बेटर इंडिया आप तक पहुँचाना चाहता है। सकारात्मक पत्रकारिता के ज़रिए हम भारत को बेहतर बनाना चाहते हैं, जो आपके साथ के बिना मुमकिन नहीं है। यदि आप द बेटर इंडिया पर छपी इन अच्छी ख़बरों को पढ़ते हैं, पसंद करते हैं और इन्हें पढ़कर अपने देश पर गर्व महसूस करते हैं, तो इस मुहिम को आगे बढ़ाने में हमारा साथ दें। नीचे दिए बटन पर क्लिक करें -

₹   999 ₹   2999

Written by मानबी कटोच

मानबी बच्चर कटोच एक पूर्व अभियंता है तथा विप्रो और फ्रांकफिंन जैसी कंपनियो के साथ काम कर चुकी है. मानबी को बचपन से ही लिखने का शौक था और अब ये शौक ही उनका जीवन बन गया है. मानबी के निजी ब्लॉग्स पढ़ने के लिए उन्हे ट्विटर पर फॉलो करे @manabi5

बिना मिट्टी के खेती की इस अनोखी तकनीक से संकट से उबर सकते है किसान!

जानिये कैसे आईआईटी के प्रोफ़ेसरो की मदद से 5 मिनट से भी कम समय में बन रहा है रेल्वे का टाइमटेबल!