in ,

[विडियो]: कैसे होते हैं हिन्दुस्तानी मुस्लमान? आईये जानते है!

15 अगस्त 1947 को आजादी मिलने के साथ-साथ देश का विभाजन भी हुआ। बरसो से भाई-भाई की तरह हिन्दुस्तान में रह रहे हिन्दू और मुसलमानों के दो टुकड़े करने की साजिश रची गयी और हिन्दुस्तान, भारत और पकिस्तान में बाँट दिया गया। पर भारत पर इस साजिश का असर नहीं पड़ा और आज भी हम सर्वधर्म समभाव की भावना लेकर भाईचारे के साथ जीते है।

फिर भी अक्सर ये सवाल उठता है कि एक हिन्दुस्तानी मुसलमान कितना हिन्दुस्तानी है? क्या वो पहले मुसलमान है या पहले हिन्दुस्तानी? इसी सवाल का जवाब कोम्युन के मंच पर हुसैन हैदरी ने दिया है।

आईये सुनते है हुसैन हैदरी का ये रौंगटे खड़े कर देने वाला जवाब –

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ बांटना चाहते हो तो हमें contact@thebetterindia.com पर लिखे, या Facebook और Twitter (@thebetterindia) पर संपर्क करे।

शेयर करे

Written by मानबी कटोच

मानबी बच्चर कटोच एक पूर्व अभियंता है तथा विप्रो और फ्रांकफिंन जैसी कंपनियो के साथ काम कर चुकी है. मानबी को बचपन से ही लिखने का शौक था और अब ये शौक ही उनका जीवन बन गया है. मानबी के निजी ब्लॉग्स पढ़ने के लिए उन्हे ट्विटर पर फॉलो करे @manabi5

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

अपने बेटे की मृत्यु के बाद, पुणे की इस महिला ने अपने दिल और घर के दरवाजे जख्मी पशुओं के लिए खोल दिए!

परिस्थिति के आगे घुटने न टेक, संपन्न और शिक्षित उर्वशी ने खोला छोले कुलचे का ठेला!