Search Icon
Nav Arrow

कैश की है ज़रूरत, लेकिन बैंक नहीं जा सकते? घबराएं नहीं, बैंक दे रहें हैं होम डिलिवरी सेवा

वर्तमान में, पूरे देश में लॉकडाउन है और ऐसे में अगर पैसे निकालना या जमा करना आपके लिए एक चुनौती बन रही है, तो आप इस होम-डिलीवरी सेवा का विकल्प चुन सकते हैं।

Advertisement

भारत में 21 दिनों के लॉकडाउन के बावजूद, बैंक काम करना जारी रखेंगे क्योंकि बैंकिंग सेवा आवश्यक सेवाओं के अंतर्गत आता है। इसके अलावा, HDFC, SBI, कोटक महिंद्रा और एक्सिस बैंक जैसे प्रमुख बैंक अब अपने ग्राहकों को कैश डिलीवरी की सुविधा दे रहें हैं। हालांकि, यह सेवा शुरू में केवल वरिष्ठ नागरिकों को दी जा रही थी, लेकिन हालिया अपडेट से पता चलता है कि कोई भी 100 से 200 रुपये तक का भुगतान करके इस सुविधा का लाभ उठा सकता है।

विभिन्न बैंकों के लिए यह सेवा कैसे काम करेगी, इसकी कुछ जानकारी हम आपको इस लेख के जरिए बता रहें हैं –

For representational purposes only. (Source: Facebook)

HDFC बैंक

चेक और कैश पिकअप सेवा प्रदान करने के अलावा एचडीएफसी, अपने ग्राहकों को कैश डिलीवरी की सुविधा भी दे रहा है। सुरक्षा पहलू को खास ध्यान में रखते हुए, बैंक ने सत्यापन और पहचान की सख्त प्रक्रिया रखी है।

कोई भी लेनदेन करने से पहले, ग्राहक कैश लेने आने वाले व्यक्ति की फोटो आईडी की जांच और सत्यापन कर सकते हैं। जो ग्राहक इस सुविधा का लाभ उठाना चाहते हैं, उन्हें 100-200 रुपये का शुल्क चुकाना पड़ेगा। इन लेन-देन की सुरक्षा के लिए बीमा पैकेज भी है। इस सेवा का लाभ उठाने या अधिक जानने के लिए, यहां क्लिक करें और अपनी नज़दीकी शाखा से संपर्क करें।

एक्सिस बैंक

एक्सिस बैंक द्वारा दरवाज़े तक बैंकिंग सुविधा के लिए आप फोन बैंकिंग अधिकारी को कॉल कर सकते हैं और इस सेवा के लिए अनुरोध कर सकते हैं। वर्तमान में दी जा रही सेवाओं में कैश पिकअप, इंस्ट्रूमेंट पिकअप और कैश और डिमांड ड्राफ्ट की डिलीवरी शामिल हैं। इस सेवा का लाभ उठाने के लिए, ग्राहकों से अपने डेबिट कार्ड नंबर और डेबिट कार्ड पिन का इस्तेमाल करने का अनुरोध किया जाता है।

ध्यान दें कि यह सेवा सभी सेविंग अकाउंट के लिए उपलब्ध है। जिस पते पर आप कैश डिलीवरी या पिक-अप की इच्छा रखते हैं वह बैंक के साथ पंजीकृत होना चाहिए। आप प्रति दिन एक डोरस्टेप डिलीवरी/पिकअप के लिए अनुरोध कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए, आप यहां क्लिक कर सकते हैं।

भारतीय स्टेट बैंक (SBI)

शुरूआत में 70 साल से अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिकों और दिव्यांग ग्राहकों के लिए एसबीआई की शुरू की गई कैश होम डिलीवरी और कैश/चेक कलेक्शन सेवा का लाभ अब वे सारे अकाउंट धारक उठा सकते हैं जो पूरी तरह से केवाईसी के अनुरूप हैं, जिनका मोबाइल नंबर बैंक के साथ पंजीकृत है और जो अपनी होम ब्रांच से 5 किमी के दायरे में रहते हैं। प्रति लेनदेन पर 100 रुपये के मामूली शुल्क के साथ ग्राहक इस सेवा का लाभ ले सकते हैं। ध्यान दें कि यह सेवा ज्वाइंट अकाउंट, माइनर अकाउंट और गैर-व्यक्तिगत प्रकार के अकाउंट के लिए उपलब्ध नहीं होगी। अधिक जानकारी के लिए, आप यहां क्लिक कर सकते हैं।

Advertisement


ATM के अंदर जाने से पहले ये बातें ध्यान में रखें

1. अगर पहले से ही कोई व्यक्ति एटीएम बूथ के भीतर है तो अंदर न जाएं।
2. एटीएम बूथ में चीज़ों को छूने से बचें।
3. अगर आप अस्वस्थ हैं तो एटीएम के इस्तेमाल से बचें।
4. छींकते या खांसते समय अपने मुंह और नाक को अपनी कोहनी या रूमाल से ढकें।
5. एटीएम लॉबी के अंदर इस्तेमाल किए गए टिश्यू पेपर और मास्क को डिस्पोज करने से बचें।

COVID-19 का कहर जारी है और इससे लोगों की चिंता बढ़ रही है। यह लेख आपको यह समझने में मदद करेगा कि आप अपने घर, फोन और अन्य व्यक्तिगत सामान को कैसे साफ और स्वच्छ रख सकते हैं।

बैंकों से पैसे की निकासी 16 महीने के उच्च स्तर पर पहुंच गई है। रिपोर्ट के अनुसार, 13 मार्च को लोगों ने बैंकों से 53,000 करोड़ रुपये निकाले थे। हालांकि, बैंकों द्वारा दिए गए कैश और डिलीवरी सेवाओं को ग्राहकों की मदद के लिए शुरू किया जा रहा है, लेकिन फिर भी पूरी तरह से नकदी लेनदेन से बचने और ज़्यादा से ज़्यादा डिजिटल भुगतान करने की सलाह दी जा रही है।

मूल लेख: विद्या राजा

संपादन – अर्चना गुप्ता

Advertisement
_tbi-social-media__share-icon