in ,

महिला क्रिकेट: पाकिस्तान को हराकर भारत बना एशिया कप विजेता!

भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने रविवार को बैंकॉक के एशियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी ग्राउंड पर खेले गए फाइनल मुकाबले में पाकिस्तान को 17 रनों से हराकर लगातार दूसरी बार एशियाई क्रिकेट परिषद (एसीसी) महिला टी-20 एशिया कप खिताब हासिल किया। इससे पहले, भारत ने 2012 में चीन के ग्वांगझू में हुए इस टूर्नामेंट के बीते संस्करण के फाइनल में पाकिस्तान को ही 19 रनों से मात देकर ये खिताब जीता था।

पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने निर्धारित 20 ओवरों में पांच विकेट खोकर 121 रन बनाए। जवाब में पाकिस्तानी टीम 20 ओवरों में छह विकेट खोकर 104 रन ही बना पाई।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने मिताली राज (नाबाद 73) की शानदार अर्धशतकीय पारी की बदौलत पाकिस्तान के सामने 122 रनों का लक्ष्य रखा। अपनी शानदार बल्लेबाजी के लिए मिताली राज को मैच और टूर्नामेंट की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी घोषित किया गया।

भारत के लिए एकता बिष्ट ने सबसे अधिक दो विकेट लिए जबकि अनुजा पाटिल, झूलन, शिखा पांडे और प्रीति बोस को एक-एक सफलता हासिल हुई।

2004 से शुरू हुए इस टूर्नामेंट पर भारत ने ही हर बार खिताबी जीत हासिल की है। 2004, 2005, 2006, 2008 में टीम ने श्रीलंका को मात देकर यह खिताब जीता था।

यह टूर्नामेंट 2004 से 2008 तक 50 ओवरों के फॉरमेट में खेला गया था लेकिन 2012 के बाद इसे टी-20 फॉरमेट में परिवर्तित कर दिया गया।

इस जीत के लिए सभी भारतियों को द बेटर इंडिया की ओर से बधाई!

 

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ बांटना चाहते हो तो हमें contact@thebetterindia.com पर लिखे, या Facebook और Twitter (@thebetterindia) पर संपर्क करे।

शेयर करे

Written by मानबी कटोच

मानबी बच्चर कटोच एक पूर्व अभियंता है तथा विप्रो और फ्रांकफिंन जैसी कंपनियो के साथ काम कर चुकी है. मानबी को बचपन से ही लिखने का शौक था और अब ये शौक ही उनका जीवन बन गया है. मानबी के निजी ब्लॉग्स पढ़ने के लिए उन्हे ट्विटर पर फॉलो करे @manabi5

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

यशपाल की कहानी : ‘अखबार में नाम’!

अब भुबनेश्वर की झुग्गियों में मिलेगा साफ़ पानी; वो भी एटीएम से!