in

31 दिसंबर से देश का पहला कैशलेस राज्य बन जाएगा गोवा !

नोटबंदी लागू होने के बाद से पूरे देश में नकद-रहित अर्थव्यवस्था को लेकर चर्चा चल रही है। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोगों से मोबाइल को ही अपना बैंक बना लेने की अपील कर चुके हैं। इस कड़ी में गोवा सरकार पूरी कोशिश में है कि 31 दिसंबर के बाद गोवा में सभी लेनदेन नकद-रहित (कैशलेस) हो।

रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने शुक्रवार को पणजी के सांक्वेलिम में एक चुनावी रैली में कहा कि, “नकद रहित समाज का समय आ गया है। सबसे पहले गोवा में नकदरहित समाज होगा। हम इस संदर्भ में प्रधानमंत्री के आग्रह को पूरा करेंगे।”

गोवा में 26,000 पंजीकृत व्यापारियों के साथ ही 10,000 पंजीकृत शराब विक्रेताओं पर खास ध्यान दिया जा रहा है। इसके अलावा संभावना है कि 31 दिसंबर के बाद गोवा के लोग मछली, सब्जियां और दूसरी रोजमर्रा की जरूरत की चीजें अपने मोबाइल का एक बटन दबा कर खरीद पाएंगे।

नकद-रहित राज्य बनने की योजना पर फिलहाल काम चल रहा है, इसलिए अभी नकद से खरीदारी को पुरी तरह बंद नहीं किया जाएगा।

goa1-use

मुख्य सचिव आर के श्रीवास्तव ने कहा, ‘खरीदारी करने पर पैसा सीधे ग्राहक के बैंक अकाउंट से कट जाएगा।’ उन्होंने बताया कि वेंडर्स, छोटे दुकानदारों और ग्राहकों को इसके लिए जागरूक और शिक्षित करने की मुहिम सोमवार से शुरू कर दी जाएगी। श्रीवास्तव ने बताया कि बैंक में रजिस्ट्रेशन कराने वाले हर वेंडर को एक एमआई कोड दिया जाएगा।

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ बांटना चाहते हो तो हमें contact@thebetterindia.com पर लिखे, या Facebook और Twitter (@thebetterindia) पर संपर्क करे।

शेयर करे

Written by मानबी कटोच

मानबी बच्चर कटोच एक पूर्व अभियंता है तथा विप्रो और फ्रांकफिंन जैसी कंपनियो के साथ काम कर चुकी है. मानबी को बचपन से ही लिखने का शौक था और अब ये शौक ही उनका जीवन बन गया है. मानबी के निजी ब्लॉग्स पढ़ने के लिए उन्हे ट्विटर पर फॉलो करे @manabi5

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

नोटबंदी का अनोखा असर : मेहमानों को केवल चाय पिलाकर 500 रूपये में की शादी!

इंग्लैंड में अपनी ऐशो-आराम की ज़िन्दगी छोड़, भारत के गाँवों को बदल रहे है ये युवा दंपत्ति!