in ,

‘बैक टू ट्रेडिशन’: केमिकल से भरे कॉस्मेटिक्स से इको फ्रेंडली और नेचुरल प्रोडक्ट्स तक!

नेचुरल प्रोडक्ट्स सिर्फ खाने के लिए ही नहीं, बल्कि हमारी त्वचा और बालों के लिए भी बहुत ज़रूरी हैं। आज हमारे साथ जानिए कुछ सस्टेनेबल पर्सनल केयर ट्रेंड्स के बारे में!

धीरे-धीरे ही सही लेकिन हम लोग अपनी ज़िन्दगी में इस्तेमाल होने वाली छोटी-बड़ी चीजों को लेकर जागरूक हो रहे हैं। खरीददारी करते समय, अब हम ऑर्गेनिक प्रोडक्ट्स तलाशते हैं। जितना ज्यादा हो सके प्राकृतिक चीजें इस्तेमाल करना चाहते हैं।

किचन हो या फिर घरेलु इस्तेमाल के प्रोडक्ट्स, हम हर एक चीज़ बहुत देख-परख कर लेते हैं। और यही सावधानी हमें अपने पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स खरीदते समय भी बरतनी चाहिए। आज हम आपको ऐसे कुछ पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स ट्रेंड्स के बारे में बता रहे हैं जो कि इसी साल शुरू हुए हैं!

1. इनोवेशन:

पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स में इनोवेशन? लेकिन कैसे?

जी हाँ, बिल्कुल पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स में इनोवेशन हो सकता है और इसका सबसे अच्छा उदाहरण है शैम्पू बार। साल 2019 से शैम्पू बार का ट्रेंड काफी बढ़ गया है। इनके चलते शैम्पू की प्लास्टिक बोतलों की ज़रूरत नहीं होती है। साथ ही, बोतल से लेने पर बहुत बार शैम्पू बर्बाद जाता है, खासकर बच्चे अगर खुद इस्तेमाल कर रहे हैं तो। ऐसे में, शैम्पू बार बहुत ही अच्छा विकल्प है।

यहाँ पर इको-फ्रेंडली शैम्पू बार्स के विकल्प आप देख सकते हैं!

 

2. समस्या की जड़ तक जाइये:

 

मदर कॉस्मेटिक्स के मुताबिक, इस साल एक और ट्रेंड शुरू हुआ है कि अब हम अपनी त्वचा से संबंधित परेशानियों का ऊपर-ऊपर से इलाज नहीं करते बल्कि अपनी बॉडी की इम्युनिटी को बढ़ाने पर काम कर रहे हैं। उम्मीद है कि यह ट्रेंड आगे भी यूँ ही चले।

इसलिए केमिकल युक्त कॉस्मेटिक्स को छोड़कर खरीदिये बिल्कुल प्राकृतिक प्रोडक्ट्स- यहाँ पर!

यह भी पढ़ें: 6 पॉकेट वाले इस सूती बैग के साथ करें प्लास्टिक-फ्री शॉपिंग, कीमत सिर्फ़ 165 रुपये!

3. घर में ही ढूंढे रेमेडी

 

अक्सर बचपन में जब भी दादी या मम्मी किसी भी त्वचा या फिर बालों की परेशानी को दूर करने के लिए घरेलू नुस्खें बताती थीं तो मैंने कभी उन पर ध्यान ही नहीं दिया। लेकिन अब समझ में आता है कि हमारे किचन में ही न जाने कितने पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स मौजूद हैं। जैसे हल्दी से डैंड्रफ जाता है, मेथी काले घेरों को हटाने के लिए उपयोगी है और नारियल के तेल से क्यूटिकल हील होते हैं।

4. महिलाओं के साथ-साथ पुरुषों के पर्सनल केयर ट्रेंड

अच्छा लगता है जब सिर्फ महिलाएं ही नहीं बल्कि पुरुष भी अपने पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स पर खुलकर बात करते हैं। यह सिर्फ महिलाओं के लिए ज़रूरी नहीं है कि वे अपने शरीर का ध्यान रखें। पुरुषों को भी अपनी ज़रूरत के हिसाब से प्रोडक्ट्स लेने चाहिए।

अच्छा है कि अब उनके लिए भी बियर्ड ऑइल, बाम और अन्य कई तरह के स्किन व हेयर प्रोडक्ट्स के ट्रेंड्स बन रहे हैं।

आप यहाँ पर खास पुरुषों के लिए बनाये गए बैम्बू ग्रूमिंग किट  खरीद सकते हैं!

यह भी पढ़ें: स्वास्थ्य मंत्रालय: ‘नो बिस्कुट, नो कूकीज’ होंगी अब मीटिंग्स; यहाँ खरीदें हेल्दी विकल्प!

 

5. मेक-अप के लिए जानवरों या फिर पर्यावरण से छेड़छाड़ नहीं

अब क्रुएलिटी-फ्री मेक-अप और स्किनकेयर प्रोडक्ट्स खरीदना बहुत ही आसान है। बाकी अच्छा यह है कि अब लोगों को समझ में आ रहा है कि उनके लिए क्या सही है और क्या गलत है। और वे बिना किसी को नुकसान पहुंचाए भी अपने लिए अच्छे प्रोडक्ट्स ले सकते हैं!

 

6. ट्रीट योरसेल्फ…

…. और वो भी घर में रहते हुए ही! जी हाँ, धीरे-धीरे ही सही लेकिन अब ज़्यादातर लोग बाहर जाने की बजाय अपने घर में ही स्पा सेशन लेना पसंद करते हैं। इसलिए पिछले कुछ समय से होम स्पा ट्रीटमेंट पैकेज ट्रेंड में हैं।

 

7. बायोडिग्रेडेबल विकल्प

बायोडिग्रेडेबल और इको-फ्रेंडली प्रोडक्ट्स को लेकर लोगों में काफी सजगता बढ़ी है। लोग प्राकृतिक और ऑर्गेनिक प्रोडक्ट्स तो खरीद ही रहे हैं, साथ ही अब वे इस बात को लेकर भी सजग हैं कि इन प्रोडक्ट्स की पैकेजिंग बायोडिग्रेडेबल हो। ताकि पर्यावरण को कोई नुकसान न पहुंचे।

यह भी पढ़ें: इन तरीकों से बचा सकते हैं फल और सब्ज़ियाँ ख़राब होने से!

तो ये थे कुछ ट्रेंड्स, जो साल 2019 में शुरू हुए और हम चाहेंगे कि आने वाले समय में भी यह बरकरार रहे। क्या आप अपने पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स को लेकर इतने सजग हैं? अगर नहीं, तो बिल्कुल हो जाइये क्योंकि सस्टेनेबिलिटी कभी भी आउट ऑफ़ ट्रेंड नहीं जाती।

मूल लेख: तन्वी पटेल

संपादन – मानबी कटोच 

Summary: Our collective consciousness is undeniably getting better. We’re scanning ingredient lists, scouring for organic alternatives, and prioritising sustainable packaging more than ever before. But, does this apply to personal care? Well, let’s find out. In this year-ender, we discuss personal care trends in 2019⁠—what changed, what people were searching for, and the products that fit into these categories.


यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें। आप हमें किसी भी प्रेरणात्मक ख़बर का वीडियो 7337854222 पर व्हाट्सएप कर सकते हैं।

Written by निशा डागर

बातें करने और लिखने की शौक़ीन निशा डागर हरियाणा से ताल्लुक रखती हैं. निशा ने दिल्ली विश्वविद्यालय से अपनी ग्रेजुएशन और हैदराबाद विश्वविद्यालय से मास्टर्स की है. लेखन के अलावा निशा को 'डेवलपमेंट कम्युनिकेशन' और रिसर्च के क्षेत्र में दिलचस्पी है.

DIY: सिर्फ 5 मिनट में बनाये पुराने अख़बारों से सुंदर पेपर बैग!

सिर पर लाल टोपी रूसी, फिर भी दिल है हिंदुस्तानी: क्यों हुए राज कपूर रूस में मशहूर!