ऑफर सिर्फ पाठकों के लिए: पाएं रू. 200 की अतिरिक्त छूट ' द बेटर होम ' पावरफुल नेचुरल क्लीनर्स पे।अभी खरीदें
X
एक हेल्दी स्नैक ने बदली सोच; बच्चों के लिए खड़ी कर दी ‘हेल्दी फ़ूड’ की पूरी रेंज!

एक हेल्दी स्नैक ने बदली सोच; बच्चों के लिए खड़ी कर दी ‘हेल्दी फ़ूड’ की पूरी रेंज!

बीटरूट पिंक दोसा से लेकर ओट्स से बनें पैनकेक तक, सारे हेल्दी और टेस्टी ऑप्शंस हैं इन मम्मीयों के पिटारे में!

जकल कम उम्र में ही लोगों को हो रही बड़ी-बड़ी बिमारियों के बारे में सुनकर, अक्सर घर के बुजूर्ग कहते हैं कि अब पहले जैसा पौष्टिक और सेहतमंद खाना नहीं रहा। जंक फ़ूड खाने से अगर बच्चों को रोक भी ले, फिर भी घर के राशन में आने वाली चीज़ें भी तो बहुत रिफाइन और प्रोसेस्ड होकर हम तक पहुँचती हैं।

एक तरह हम तकनीकों की तरफ बढ़ते जा रहे हैं तो दूसरी तरफ हमारी मूलभुत ज़रूरतें जैसे कि खाना, पानी आदि की गुणवत्ता गिरती जा रही है। आज के समय में जहाँ माता और पिता, दोनों ही कामकाजी होते हैं, ऐसे में उनकी सबसे बड़ी चिंता यही है कि कैसे वे अपने काम के साथ-साथ अपने बच्चे के लिए एक सेहतमंद ज़िंदगी सुनिश्चित करें।

इसी तनाव और सोच ने दो माँओं को न सिर्फ़ अपने बच्चों के लिए बल्कि सभी बच्चों के लिए स्वस्थ, पौष्टिक और सेहतमंद खाने के विकल्प बनाने के लिए प्रेरित किया। शौरवी मलिक और मेघना नारायण ने साल 2016 में ‘स्लर्प फार्म’ (Slurrp Farm) की शुरूआत की।

स्लर्प फार्म के प्रोडक्ट्स देखने और खरीदने के लिए यहाँ पर क्लिक करें!

उनके मुताबिक, “हमने महसूस किया कि माता-पिता के तौर पर हमारे पास बहुत ही कम विकल्प हैं अपने बच्चों को खिलाने के लिए। हमें लगा कि स्थिति को कुछ बेहतर बनाने के लिए हमें कुछ करना होगा।” मेघना और शौरवी ने जब इस बारे में बात करना शुरू किया तो उन्हें समझ आया कि उनकी इन सभी समस्याओं का हल शायद दादियों की रसोई में मिले।

Shauravi Malik (Left) and Meghna Narayan (Right), Credits: Slurrp Farm

उन्होंने उन सभी अनाज, दालों पर रिसर्च किया जिन्हें बचपन में खाने में वे खुद आनाकानी करती थीं। और इसी दौरान उन्हें उनकी एक बेकर दोस्त के बनाये रागी और चॉकलेट के कूकीज खाने का मौका मिला। बस फिर उन्हें समझ में आ गया कि उन्हें बस इन पौष्टिक खानों को आज का ट्रेंडी स्वाद देना है और उनका काम हो जायेगा।

इसके बाद उन्होंने अपना स्टार्टअप शुरू किया और देखते ही देखते उनके किचन से शुरू हुआ एक एक्सपेरिमेंट बच्चों का पसंदीदा फ़ूड ब्रांड बन गया।

मेघना और शौरवी के बनाये प्रोडक्ट्स आप कार्निवल से ऑनलाइन खरीद सकते हैं। यहाँ क्लिक करें!

1. इंस्टेंट ब्रेकफास्ट दोसा मिक्स:

5 तरह के सुपरग्रेन- रागी, लाल चावल, ओट, उड़द दाल और सूजी से बना यह दोसा मिक्स हेल्दी भी है और टेस्टी भी। इसमें इन पांच सुपरग्रेन्स के अलावा प्रोटीन के लिए चना, तूर और मूंग की दाल भी मिलायी जाती है। यह दोसा मिक्स, दो फ्लेवर- चकुंदर और पालक में उपलब्ध है।

साथ ही, बनाने की विधि भी बहुत ही आसान है तो आप सुबह जल्दी से झटपट नाश्ते में अपने बच्चों के लिए तैयार कर सकते हैं।

सबसे अच्छी बात यह है कि इस मिक्स में किसी भी तरह के प्रेज़रवेटिव, आर्टिफीसियल फ्लेवर, रंग आदि का इस्तेमाल नहीं किया गया है। पारंपरिक रेसिपी को ध्यान में रखकर बनाया गया यह मिक्स पूरी तरह से प्राकृतिक चीज़ों से बना है।

इस दोसा मिक्स के दो पैक आप 178 रुपये में खरीद सकते हैं और तीन पैक का कॉम्बो मात्र 267 रुपये में ले सकते हैं। आज ही ऑनलाइन आर्डर करने के लिए यहां क्लिक करें!

2. इंस्टेंट ब्रेकफास्ट मिलेट पैनकेक मिक्स:

पैनकेक खाना किसे नहीं पसंद। बच्चों से लेकर बड़े सब इसके दीवाने हैं। लेकिन अब आपके पैनकेक स्वादिष्ट होने के साथ-साथ पौष्टिक भी हो सकते हैं। बाजरा, ओट्स, ज्वार जैसे सुपरग्रेन्स में चॉकलेट चिप्स व केले का पाउडर मिलकर तैयार किये गए इस मिक्स से पैनकेक्स बनाना बहुत ही आसान है।

ओट्स में जहां प्रोटीन और फाइबर पर्यापत मात्रा में होते हैं तो वहीं रागी में गेंहूं और चावल से 10 गुना ज़्यादा कैल्शियम होता है। इसलिए यह बढ़ती उम्र में बच्चों की हड्डियों के लिए काफी अच्छा है।

दोसा मिक्स की ही तरह इसमें भी किसी तरह के प्रेज़रवेटिव, आर्टिफीसियल फ्लेवर, रंग आदि का इस्तेमाल नहीं किया गया है।

मात्र 298 रुपये में आपको इस मिक्स के दो पैक कार्निवल पर मिल जायेंगे। अभी खरीदने के लिए यहां क्लिक करें!

3. बच्चों की छोटी भूख के लिए हेल्दी कूकीज और पफ:

ओट्स, केले, शहद और आटे से बने ये कूकीज अक्सर बच्चों को हर दो-तीन घंटे में लगने वाली भूख का सही इलाज हैं। इनमें न ही कोई फैट है और शुगर की मात्रा भी बहुत कम है। इसी तरह स्लर्प फार्म के क्रंची और टेस्टी पफ बच्चों के लिए परफेक्ट स्नैक्स हैं।

इन्हें बनाने में मैदे या फिर आर्टिफीसियल कलर आदि का इस्तेमाल नहीं हुआ। इसलिए ये बच्चों के साथ-साथ बड़ों और बुजुर्गों के लिए भी हेल्दी हैं। आज ही खरीदने के लिए यहां पर क्लिक करें!

आज ही ऑर्डर करें ये हेल्दी प्रोडक्ट्स और अपने बच्चों के टिफ़िन बॉक्स को बनायें मजेदार। ताकि वे पूरे मन से खाना खाएं और उनका टिफ़िन हर रोज़ खाली हो!

संपादन – मानबी कटोच


यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है, या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हो, तो हमें hindi@thebetterindia.com पर लिखें, या Facebook और Twitter पर संपर्क करें। आप हमें किसी भी प्रेरणात्मक ख़बर का वीडियो 7337854222 पर व्हाट्सएप कर सकते हैं।

निशा डागर

बातें करने और लिखने की शौक़ीन निशा डागर हरियाणा से ताल्लुक रखती हैं. निशा ने दिल्ली विश्वविद्यालय से अपनी ग्रेजुएशन और हैदराबाद विश्वविद्यालय से मास्टर्स की है. लेखन के अलावा निशा को 'डेवलपमेंट कम्युनिकेशन' और रिसर्च के क्षेत्र में दिलचस्पी है.
Let’s be friends :)
सब्सक्राइब करिए और पाइए ये मुफ्त उपहार
  • देश भर से जुड़ी अच्छी ख़बरें सीधे आपके ईमेल में
  • देश में हो रहे अच्छे बदलावों की खबर सबसे पहले आप तक पहुंचेगी
  • जुड़िए उन हज़ारों भारतीयों से, जो रख रहे हैं बदलाव की नींव