विदेशी लेखकों, एक्टरों और राजनयिकों को आसान और मजेदार तरीकों से हिंदी सिखा रहीं पल्लवी सिंह

भाषा मानवीयता का पुल है, हमें जोड़ती है। वैश्वीकरण के इस दौर में हम दुनियां भर में आवास-प्रवास करते रहते हैं, हमारे देश में भी लाखों विदेशी आते हैं और उनकी मुहब्बत कहिए या कौतुहल कि उनमें से अधिकतर यहीं बस जाते हैं। ऐसे लोग हमेशा भाषा का अवरोध झेलते हुए देश में रहने के बाद भी अलग-थलग से नज़र आते हैं। इन्हें हमसे जोड़ने के लिए संवाद अनिवार्य है और संवाद के लिए समान भाषा जरूरी होती है।

दिल्ली के अखाड़े से लेकर ‘दंगल’ तक – महावीर सिंह फोगाट की कहानी!

इस साल की सबसे प्रतीक्षित फिल्म 'दंगल' के कुछ अंश देखकर ही दर्शको में खासा उत्साह है। और हो भी क्यूँ ना? हाल ही में साक्षी मलिक के रिओ ओलंपिक्स में फ्रीस्टाइल कुश्ती में पहला पदक जीतने के बाद, इस खेल में सभी की दिलचस्पी बढ़ गयी है। और जब कुश्ती की बात आती है तो हर भारतीय को उन छह बहनों की याद ज़रूर आती है जिन्होंने देश का नाम हमेशा उंचा किया है। ये छह बहने है गीता फोगाट, बबिता फोगाट, विनेश फोगाट, प्रियंका फोगाट, ऋतू फोगाट और संगीता फोगाट।

अगर आप पुरानी बॉलीवुड फिल्मो के दीवाने है तो ये विंटेज पोस्टर्स आपको खुश कर देंगे !

डिजिटल दुनिया की क्रांति से पहले शहरों और छोटे गावों में रंगीन, भड़कीले और हाथ से पेंट किये गये बॉलीवुड सिनेमा के पोस्टर्स हर जगह दिखाई देते थे। उस ज़माने में पोस्टर्स ही किफायती और कुशल विज्ञापन थे जिसे देखकर दर्शक सिनेमाघरों में खिचे चले आते थे।

शोषण से स्टंट तक का सफर – मिलिए दीपिका पादुकोण की बॉडी डबल से !

गीता बॉलीवुड की सफल स्टंट वुमेन है। कई फिल्मों में बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्रियों के डबिंग किरदार भी निभाए हैं, जिनमे करीना कपूर, बिपाशा बासु और दीपिका पादुकोण भी शामिल हैं। गीता दो बच्चों की बहादुर माँ है। टीवी के कई जोखिम भरे रियलिटी शोज में काम कर चुकी हैं. लेकिन इस सफल गीता की कहानी इतनी आसान नहीं रही है।

७ अप्रत्याशित चीज़ें जिनमे भारत दुनिया में सबसे आगे है।

हर दिन महिलाओं पर होते अत्याचार की ख़बरें , जाति और धर्म के नाम पर होते झगड़ों की खबरें , ये सब देख कर तो यही लगता है कि देश में काफी सुधार की जरुरत है। लेकिन इस नफरत और नकारात्मकता के बीच , घोटालों और दंगों के बीच, हमारे इस देश में कुछ अनोखी और अच्छी चीज़ें भी हो रही हैं। क्या आप उनसे अवगत है?