BITS पिलानी के इस छात्र ने अपनी तनख्वाह का एक हिस्सा वृद्धाश्रम को दान कर, की एक खूबसूरत बदलाव की पहल!

आज की पीढ़ी इन परंपराओं को बनाये रखने के साथ साथ इनमे कुछ ऐसे बदलाव भी कर रही है जिससे समाज का भला हो। BITS, पिलानी में पढ़ रहे नमन मुनॉट ने भी ऐसे ही एक बदलाव की पहल की है। उन्होंने अपनी पहली तनख्वाह का 20 फीसदी हिस्सा वृद्धाश्रम को दान में दे दिया।

बुज़ुर्गों को अकेलेपन से दूर करने के लिए नाटूभाई चला रहे हैं मैरेज ब्यूरो!

नाटूभाई का मानना है प्यार किसी भी उम्र में हो सकता है। इसलिए समाज की परवाह न करते हुए वृद्ध लोगों को शादी कर लेनी चाहिए। नाटूभाई 50 वर्ष से ज्यादा की उम्र के लोगों को जीवनसाथी ढूँढने में मदद कर रहे हैं।

सेल्फी लेने से लेकर घर जाकर मिलने तक – जानिये क्या क्या कर रही है दिल्ली और पुणे पुलिस, हमारे बुजुर्गो के लिए !

पुणे एवं दिल्ली की पुलिस वरिष्ट नागरिकों की सुरक्षा के लिए कई कदम उठा रही है और उन्हें अपनी परिशानियों और समस्यायों को बताने का मौका दे रही है। पुलिस न केवल उनकी समस्याओं को सुन रही है बल्कि जहाँ तक सम्भव हो उन्हें सुलझाने की भी कोशिश कर रही है।