ग्रीन ग्रुप से महिलाओं को सशक्त बनाकर गाँवो में उम्मीद रोपते ‘होप’ समूह के छात्र

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के छात्रों ने होप नाम की एक संस्था बनाई है, जिसमें बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के साथ काशी विद्यापीठ, दिल्ली विश्वविद्यालय और जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्र और प्रोफेसर जुडकर सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं. ये छात्र गांवों में जाकर वहाँ की समस्याओं को अपने बेहतर आइडिया से समाधान में बदल रहे हैं.

बंगलुरु में शुरू हुआ एशिया का पहला फूड ट्रक, जिसमें सभी सदस्य हैं महिलाएँ।

'सेवेन्थ सिन' फूड ट्रक की खासियत ये है, कि यह एशिया का पहला ऐसा फ़ूड ट्रक है,जिसकी सभी सदस्य महिलाएँ हैं।

परंपरा की बली चढ़ती लड़कियों की मदद कर रही है ‘संवेदना’!

मध्य प्रदेश का बेदिया समुदाय हर लड़की के जन्म पर उत्सव मनाता है –पर यहाँ वजह कुछ और ही है। एक संस्था- 'संवेदना' ने पहल की है और बीड़ा उठाया है इस समुदाय को शिक्षा एवं जीविका के दूसरे विकल्प प्रदान करने का। आईये देखे कैसे -