इस हवलदार ने नशे में धुत ड्राईवर को रोकने के बाद खुद एम्बुलेंस चलाकर बच्चे को अस्पताल पहुँचाया!

बंगलुरु ट्रैफिक पुलिस के हवलदार रवि एस एन ने नशे में धुत ड्राईवर को रोकने के बाद खुद एम्बुलेंस चलाकर बच्चे को अस्पताल पहुँचाया!

नवजात शिशुओ को अब सिर्फ एक छोटा सा ब्रेसलेट पहना कर बचाया जा सकता हैं!

भारत में हर साल हाइपोथरमिया से कई बच्चों की मौत होती है। यह ब्रेसलेट रेगुलर टेम्परेचर मॉनिटरिंग सिस्टम से बच्चों के शरीर के तापमान पर नजर रखेगा। इससे समय रहते बच्चों को हाइपोथरमिया से बचाया जा सकेगा।