अपने ही चैनल पर दिखाई खबर पर आलोचना करके तमिल नाडू के पी टी चैनल ने खड़ी की पत्रकारिता की नयी मिसाल !

हम आये दिन खबरों में सनसनी फैलाने के मकसद से छोटी सी खबर का तिल का ताड बनते हुए देखते है। न्यूज़ चैनलो और अखबारों को इस बात की बिल्कुल परवाह नहीं होती की इन सब से समाज पर क्या असर हो रहा है। निंदा किये जाने पर भी ये न्यूज़ चैनल और अखबार अपनी गलती सुधारना तो दूर, मानना भी गंवारा नहीं करते। पर तमिल नाडू के एक न्यूज़ चैनल ने एक छोटा सा कदम उठाकर पत्रकारिता की मिसाल कायम की है।