अनाथालयो की बच्चियों को ‘दंगल’ दिखाने के लिए पूरा सिनेमाघर बुक किया इंदौर के डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर ने!

हमारे देश में एक तपका ऐसा भी है जिन्हें न खबरे देखने की फुर्सत है और न फिल्मे देखने की सहूलियत। फिर इन लड़कियों को कुछ बनने की प्रेरणा कैसे मिलती? इसका एक सरल सा उपाय ढूंड निकाला इंदौर के डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर पी नरहरी ने। उन्होंने 250 ऐसी लड़कियों को 'दंगल' फिल्म दिखाई, जो काफी गरीब घर से थी।

हिन्दी दिवस पर जानिये इस दिन से जुड़े कुछ तथ्य, तत्व और मुख्य आयोजन!

हिन्दी को भारत की राजभाषा के रूप में 14 सितम्बर 1949 को स्वीकार किया गया। इसकी स्मृति को ताजा रखने के लिये 14 सितम्बर का दिन प्रतिवर्ष हिन्दी दिवस के रूप में मनाया जाता है।