पियूष पाण्डेय : चाय चखने से लेकर विज्ञापन की दुनिया के बेताज बादशाह बनने तक का सफ़र!

पियूष पाण्डेय का नाम भारतीय विज्ञापन जगत में मशहूर है और इनकी कहानी इस बात का प्रमाण है कि रचनात्मकता असीमित होती है। अपने अलग तरह के विज्ञापनों के कारण, पियूष ने अनगिनत पुरस्कार जीते हैं और असीमित प्रशंसा बटोरी है।

कौन बनेगा करोड़पति के एक एपिसोड को देख कर मिली प्रेरणा; अब कर रहे है हज़ारो किसानों की मदद!

कौन बनेगा करोड़पति शो में आयी एक प्रतिभागी की संघर्ष की कहानी सुनी तो अभिजीत फाल्के ने विदर्भ के किसानो की मदद करने की ठानी। उन्हे कार्यशालाओं के माध्यम से न सिर्फ जैविक खेती के आधुनिक तरीके सिखाये, साथ ही बिचौलियों को समाप्त कर उन्हे सीधा ग्राहकों से जोड़ा, उनका खोया आत्मविश्वास लौटाया और आज ये किसान विदेशों में भी अपना उत्पाद बेच रहे हैं।

अगर आप पुरानी बॉलीवुड फिल्मो के दीवाने है तो ये विंटेज पोस्टर्स आपको खुश कर देंगे !

डिजिटल दुनिया की क्रांति से पहले शहरों और छोटे गावों में रंगीन, भड़कीले और हाथ से पेंट किये गये बॉलीवुड सिनेमा के पोस्टर्स हर जगह दिखाई देते थे। उस ज़माने में पोस्टर्स ही किफायती और कुशल विज्ञापन थे जिसे देखकर दर्शक सिनेमाघरों में खिचे चले आते थे।

एक इंजिनियर जिसने टैक्सी ड्राईवर बनकर लोगो को जीवन दान दिया !

पेशे से मैकेनिकल इंजिनियर, विजय ठाकुर ने अपना पहला बच्चा महज इसलिए खो दिया क्यूंकि रात के समय कोई टैक्सी वाला उन्हें अस्पताल तक ले जाने के लिए तैयार नहीं था। वे चाहते थे कि जो हादसा उनके साथ हुआ, वो किसी और के साथ न हो और इसलिए वे अपनी नौकरी छोड़कर टैक्सी ड्राईवर बन गए।