रसगुल्ला : मिठास, विवाद, इतिहास और कुछ रोचक बातें!

कोलकाता की गलियाँ हो, या पूरी का मंदिर या फिर राष्ट्रपति भवन के गलियारे, रसगुल्ला भारत के सबसे अधिक लोकप्रिय मिष्ठानो में से एक रहा है। एक ओर जहाँ बंगाली इसे अपनी धरोहर मानते हैं, वहीँ दूसरी ओर उड़िया इसे अपना आविष्कार! रोसोगोल्ला बोलें, या रोशोगोल्ला या फिर रसबरी, अन्य देशो में भी इस मिठाई ने अपने झंडे गाड़े हैं।

एक जांबाज जासूस का रहस्यमयी जीवन : राॅ के प्रसिध्द मुख्य-संस्थापक आर. एन. काव की याद में!

रामेश्वर नाथ काव भारत की खुफिया एजेंसी राॅ के मुख्य-संस्थापक एवं एक महान स्पायमास्टर थे। निजी जीवन में शांत और व्यक्तिगत, काव एक कुटिल रणनीतिज्ञ और मजबूत संपर्क-सूत्र बनाने में कुशल थे। उन्होने भारत को आधुनिक गुप्तचरी सिखाई, लेकिन भारतीयों के लिए अभी तक वे एक लोकप्रिय नाम नहीं है।

इन पांच आसान तरीकों से देश में मिट सकती है निरक्षरता!

देश में साक्षरता बढ़ाने के तमाम प्रयासों के बाबजूद साक्षरता दर वैश्विक औसत की तुलना में लगातार गिर रही है। रेणु शर्मा ने इस समस्या के विभिन्न पहलुओं की पड़ताल करते हुए देश की साक्षरता दर में बढ़ोतरी के सुझाव दिए हैं, जिससे हम अपनी साक्षरता दर वैश्विक राज्यों की साक्षरता के स्तर पर पहुंचा सकें।

2016 में हुई 6 घटनाएं जिन पर हर भारतीय को सदा गर्व रहेगा!

2016 ने हमे ऐसे कई ऐतेहासिक क्षण दिए जिनकी वजह से भारत के हर नागरिक को भारतीय कहलाने पर गर्व महसूस हुआ। आईये फिर एक बार याद करते है उन्ही सुखद क्षणों को!

अपनी दरियादिली के कारण जयललिता बन गयी लाखो लोगो की चहेती ‘अम्मा’!

ऐसा क्या था जो जयललिता को और राजनेताओं से अलग करता था? लोग इस कदर इनके दीवाने क्यूँ थे? कारण था उनका गरीबो के लिए उदार भाव।

सीसी टीवी के ज़माने में यहाँ चलती है ऐसी दुकाने जहाँ दुकानदार नहीं बैठते!

सी सी टीवी के युग में, मिजोरम में मिसाल पेश करती यह दुकानें खुद में एक प्रेरणा है। एक ऐसी प्रेरणा जो हमें सिखाती हैं कि विश्वास और इमानदारी एक दुसरे की पूरक है। एक के बिना दुसरे का होना असंभव है और जहाँ ये दोनों साथ है वहां एक बेहतर समाज की तरफ कदम बढ़ाना और भी आसान है।

ओलंपिक में क्वालिफाई करने वाली पहली भारतीय जिम्नास्ट दीपा करमाकर ने जगायी पदक की उम्मीद !

भारत की बेटी दीपा करमाकर ने एक बार फिर इतिहास कायम करते हुए ओलंपिक फाइनल में क्वालीफाई करने वाली भारत की पहली महिला जिम्नास्ट का दर्जा हासिल किया।

जानिए भारतीय महिलाओं द्वारा निर्मित 9 ऐतिहासिक इमारतो के बारे में !

भारत में कई दशको से धार्मिक, आर्थिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक और सामाजिक जीवन पर पुरुषों की सत्ता कायम रही है। इसके बावजूद महिलाओं ने अपना योगदान इतिहास में हमेशा दर्ज कराया है। भारत का सबसे प्रसिद्ध स्मारक ताजमहल भले ही एक पुरुष द्वारा निर्मित कराया गया, परन्तु इसे एक महिला के लिए ही बनवाया गया था। शायद बहुत कम लोग ये जानते होंगे कि मात्र ताजमहल ही किसी महिला से संबंधित नहीं है, बल्कि भारत में बहुत से ऐसे स्मारक और इमारतें है जो महिलाओं द्वारा निर्मित है।

जानिये भारत में पायी जाने वाली प्रमुख चाय के प्रकार और उनके फायदे!

सावन का महीना हो.. और चाय की बात न हो तो बात अधूरी ही रह जायेगी। चाय हमारे जीवन का एक अभिन्न अंग है। सुबह की पहली चुस्की हो, दोस्तों के साथ एक बैठकी का बहाना हो, बारिश का आनंद उठाना.. या किसी दुःख को दूर भागना हो- चाय हर मर्ज़ की दवा बन जाता है। पर क्या हमने कभी सोचा है कि यह रिश्ता कितना पुराना है या किन स्थानों से यह चाय हम तक पहुँच रही है? आइये हम बताते है!

रोहित खंडेलवाल बनें मिस्टर वर्ल्ड का खिताब जीतने वाले पहले भारतीय!

19 जुलाई को यह प्रतियोगिता UK के साउथपोर्ट में आयोजित की गयी। 26 साल के रोहित ने 46 अन्य प्रतियोगियों को हराकर ये खिताब हासिल किया।

ऑपरेशन संकटमोचन: अब तक 149 भारतीयों को हिंसाग्रस्त दक्षिण सूडान से लाने में कामयाब !

हिंसाग्रस्त दक्षिण सूडान में फंसे हुए भारतीयों को स्वदेश लाने के लिए वायुसेना ने 2 एयरक्राफ्ट, जूबा भेजे हैं। वायुसेना के दो C-17 एयरक्राफ्ट से सूडान में फँसे लगभग 600 भारतीयों को वापस लाया जाएगा।

अमरनाथ यात्रियों की बस दुर्घटनाग्रस्त हुई तो कर्फ्यू तोड़ कर बचाने पहुंचे कश्मीरी मुसलमान !

स्थानीय मुसलमानों ने जब अमरनाथ यात्रियों की चीखें सुनी तो उनकी मदद के लिए भागे। वहीं उन्हें पानी और फर्स्ट-एड उपलब्ध कराया गया। हिंसाग्रस्त क्षेत्र में कर्फ्यू को तोड़ते हुए अपने निजी वाहनों में वे घायलों को अस्पताल ले गए।

तीन दशको बाद भारतीय वायुसेना में शामिल हुआ देश में निर्मित ‘तेजस’ !

'तेजस' स्वदेश-निर्मित लड़ाकू विमान है। दुनिया के कुछ ही देश हैं जो खुद लड़ाकू विमान बनाते हैं। इसका निर्माण एयरोलॉटिकल डेवलपमेंट एजेंसी (ADA) और हिन्दुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) ने मिलकर किया है।

भारत बना MTCR का सदस्य; अब आसानी से मिल सकेगी मिसाइल तकनीक!

भारत ने सोमवार को औपचारिक रूप से मिसाईल टेक्नोलॉजी कंट्रोल रेजिम (MTCR) की सदस्यता ग्रहण कर ली। विदेश सचिव एस.जयशंकर ने कागजी औपचारिकताएँ पूरी कर के भारत को MTCR में शामिल किया।

भारतीय वायुसेना में शामिल हुई पहली ३ महिला फाइटर पायलट से मिले!

१८ जून वैसे तो झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई का बलिदान दिवस है। लेकिन १८ जून 2016 को देश को ऐसी ही तीन “वीरांगनाओं” का तोहफा मिला। आज की सुबह अपने साथ अत्यंत गौरवशाली किरणें लेकर आई। ये किरणें भारत की उन बेटियों के नाम रहीं जो आने वाले समय में आसमान की ‘जांबाज’ बनने वाली हैं।