उज्जैन कुम्भ में मस्जिदें बनीं हिन्दू भक्तो के लिए धर्मशाला!

आपने हिन्दू मुश्लिम भाईचारे के अनगिनत उदाहरण देखे और सुने होंगे। त्योहारों पर एक दूसरे से गले मिलने से लेकर मुसीबत में एक दूसरे की सहायता तक। लेकिन ये कहानी हमें धर्म शब्द के वास्तविक अर्थ तक ले जाती है। धार्मिक सद्भावना का ये अनूठा उदहारण है।