तमिल नाडु के सूखाग्रस्त गांव में हरियाली ले आए पंजाब के ये दो किसान।

रामनाथपुरम, जिसे रामनद भी कहा जाता है,दक्षिणी तमिलनाडु के सबसे अधिक सूखे जिलों में से एक है। इस जिले के धूल से भरे,धूप से झुलसे अन्दरुनी भाग में एक हिस्सा ऐसा है जो आम, अमरूद, आँवले और तरबूज़ के बगीचों से हरा-भरा है, लेकिन ये हमेशा से ऐसा नहीं था।

एक घर जो एकत्रित करता है वर्षा का जल और उत्पादित करता है सौर ऊर्जा, आर्गेनिक भोजन और बायोगैस।!

चेन्नई के किलपाक इलाके में 17 वासु स्ट्रीट पर एक पूर्ण नियोजित घर स्थित है। सौर ऊर्जा से भरपूर इस घर में अपनी बायोगैस इकाई, जल-संचयन इकाई और खुद का किचन गार्डन है। इस घर की प्रसिद्धि इन अनूठे तरीकों को विकसित करने वाले इसके मालिक के कारण है।

सूखी झील को पुनर्जीवित कर उत्तरी कर्नाटक के किसानों ने हल की सूखे की समस्या।

उत्तरी कर्नाटक के हालियाल और मुण्डोगोड जिले के किसान लगभग दो सालों से पानी की कमी से जूझ रहे थे। पीने के पानी और खेती के लिए उनके पास काफी कम मात्रा में पानी बचा था।इस कमी को पूरा करने के लिए उन्होंने एक सूखी हुयी झील को पुनर्जीवित करने का कार्य किया।

आपके पसंदीदा कलाकार पढ़ रहे है आपकी पसंदीदा हिंदी कवितायें ‘हिंदी कविता’ नामक युट्यूब चैनल पर!

मनीष गुप्ता की हिन्दी कविताओं के प्रति ऐसी दीवानगी है कि उन्होने हिन्दी कविता को ही अपना काम बना लिया और लोगों तक यह संदेश पहुचाँने के लिए प्रयासरत है कि हिन्दी कविता कितनी शानदार होती है।

बंगलुरु में शुरू हुआ एशिया का पहला फूड ट्रक, जिसमें सभी सदस्य हैं महिलाएँ।

'सेवेन्थ सिन' फूड ट्रक की खासियत ये है, कि यह एशिया का पहला ऐसा फ़ूड ट्रक है,जिसकी सभी सदस्य महिलाएँ हैं।

स्कूल बैग के बोझ से परेशान दो छात्रों ने प्रेस कांफ्रेस में बतायी अपनी तकलीफ।

विद्या निकेतन स्कूल के 12 वर्षीय दो छात्रों ने भारी बस्ते से होने वाली परेशानी को बताने के लिए संवाददाता सम्मेलन करने की इच्छा जाहिर की।

भारत में गोल्फ को नयी पहचान देती ‘अदिति अशोक’।

भले ही अदिति अशोक भारत के लिए मेडल न ला पायीं हो, लेकिन उनकी उपलब्धि किसी मायने में कम नहीं है। अदिति फाइनल में पहुचँने वाली पहली भारतीय गोल्फर हैं। महिला गोल्फ के दूसरे दौर में अदिति ने सातवें स्थान के साथ फाइनल्स में जगह बनाई, हालाकिं फइनल में वह अपना प्रदर्शन जारी नहीं रख पाईं, लेकिन इसके बाद भी उनका नाम इतिहास में खुबसूरत अक्षरों में लिखा जायेगा।

ओलंपिक में क्वालिफाई करने वाली पहली भारतीय जिम्नास्ट दीपा करमाकर ने जगायी पदक की उम्मीद !

भारत की बेटी दीपा करमाकर ने एक बार फिर इतिहास कायम करते हुए ओलंपिक फाइनल में क्वालीफाई करने वाली भारत की पहली महिला जिम्नास्ट का दर्जा हासिल किया।

जानिए भारतीय महिलाओं द्वारा निर्मित 9 ऐतिहासिक इमारतो के बारे में !

भारत में कई दशको से धार्मिक, आर्थिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक और सामाजिक जीवन पर पुरुषों की सत्ता कायम रही है। इसके बावजूद महिलाओं ने अपना योगदान इतिहास में हमेशा दर्ज कराया है। भारत का सबसे प्रसिद्ध स्मारक ताजमहल भले ही एक पुरुष द्वारा निर्मित कराया गया, परन्तु इसे एक महिला के लिए ही बनवाया गया था। शायद बहुत कम लोग ये जानते होंगे कि मात्र ताजमहल ही किसी महिला से संबंधित नहीं है, बल्कि भारत में बहुत से ऐसे स्मारक और इमारतें है जो महिलाओं द्वारा निर्मित है।

अब स्थानीय भाषाओं में भी बन सकेगा ईमेल एड्रेस; हिन्दी से होगी शुरुआत।

भारत सरकार के इलेक्ट्रानिक और आईटी मंत्रालय द्वारा ईमेल एड्रेस को स्थानीय भाषाओं में बना पाने (जिसकी शुरूआत हिन्दी से होगी) के सन्दर्भ में एक बैठक आयोजित की गई, जिसमें आधुनिक टेक्नोलॉजी की दिग्गज कंपनियों में शुमार माइक्रोसॅाफ्ट , गूगल, रैडिफ के सदस्यों ने मिलकर इस सम्बन्ध में सकारात्मक निर्णय लिया।

शहीदों की याद में एक साल में एक लाख दस हज़ार पौधे लगा चुकी है ये गृहणी; आर्मी ने दिया साथ!

दिल्ली में रहने वाली 52 वर्षीय गृहिणी राधिका एक साल में अब तक एक लाख दस हजार फलो के पेड़ लगा चुकी हैं। इनमें आम, इमली, जामुन और कटहल के पेड़ शामिल हैं, जो उत्तर भारत, राजस्थान और महाराष्ट्र के आर्मी क्षेत्रों में लगाए गए हैं। इस कार्य को पूरा करने के लिए राधिका ने कुछ अपनी पूंजी और कुछ अपने मित्रों से आर्थिक सहायता प्राप्त की है और अब आर्मी भी उनके साथ है।

एक श्रृंखला डॅा. अब्दुल कलाम से जुड़े कुछ रोचक तथ्यों की !

डॅा एपीजे अब्दुल कलाम ने एक राष्ट्रपति, एक वैज्ञानिक और एक व्यक्ति के रूप में उच्चकोटि का आदर्श स्थापित किया। उनकी यादें हमें सम्बल और उनकी सीख हमें प्रेरणा देने का कार्य करती हैं।

ज़ंजीर: एक बहादुर कुत्ता, जिसने 1993 मुंबई बम धमाकों में हजारों लोगों की जान बचाई !

बम निरोधक दस्ते के साथ काम करते हुए 'जंजीर' ने लगभग 3329 किलोग्राम से ज्यादा आरडीएक्स विस्फोटक, 600 डेटोनेटर, 249 हैण्ड ग्रेनेड और 6000 राउण्ड्स से ज्यादा कारतूस ढूँढ निकाला। जंजीर की बहादुरी के कारण ही मुंबई में सीरियल बम धमाकों में से तीन बम धमाके टल गए और अनगिनत लोगों की जान बच गई।