केरल सरकार ने वेस्ट मैनेजमेंट की ओर सकारात्मक कदम उठाते हुए एक बेहतरीन पहल की है।
प्लास्टिक से बने पदार्थों के बढ़ते प्रयोग के बाद होने वाले कूड़े के लिये केरल सरकार की क्लीन केरला कंपनी ने इस पहल को ईजाद किया है।

केरल सरकार ने लोगों से अपील की है कि वे प्लास्टिक कूड़ा अलग रखें केरल सरकार उसे उचित पैसे देकर उनसे खरीदेगी।

1200px-lixaocatadores20080220marcellocasaljragenciabrasil

Source:By Marcello Casal Jr./Agência Brasil [CC BY 2.5 br], via Wikimedia Commons

एक रिपोर्ट के मुताबिक, क्लीन केरला कंपनी के मैनेजिंग डरेक्टर कबीर बी हारून ने कहा है कि, “‘क्लीन केरला कम्पनी’ लोगों तथा नगरपालिकाओं से उनके एरिया में जाकर वेस्ट प्लास्टिक 15 रूपये प्रति किलो की दर से खरीदेगी।”

क्लीन केरला कंपनी राज्य सरकार के अंतर्गत स्थापित है, जो राज्य के वेस्ट मैनेजमेंट पर काम करती है। राज्य में प्लास्टिक वेस्ट से, सी एन जी बनाने से लेकर लोगों से प्लास्टिक इकठ्ठा करने के अभियानों तक क्लीन केरला कंपनी राज्य में वेस्ट कंट्रोल का कार्य करती है।

हमारे रोजमर्रा के प्रयोग में आने वाले थर्मोसेटिंग प्लास्टिक से बने पदार्थ अत्यधिक हानिकारक हैं, ये पदार्थ प्रयोग के बाद फेंक दिए जाने पर न तो नष्ट होते हैं और अगर हम फेंकने की बजाय जला भी दें तो जलाए जाने पर हानिकारक गैस छोड़ते हैं।

क्लीन केरला कंपनी की वेबसाइट  के अनुसार, “राज्य में स्वच्छता प्रबंधन के उद्देश्य हेतु वैज्ञानिक पद्धति के नए इनोवेशन और टेक्नोलॉजी की मदद ली जा रही है। इस अभियान में जन सहयोग की अपेक्षा है।

श्री कबीर ने मनोरमा न्यूज को बताया है कि ‘क्लीन केरला कंपनी’ राज्य में तीन रिसाइकिल पार्क खोलने पर विचार कर रही है, जो कोझिकोड, एर्णाकुलम और तिरुवनंत पुरम में होंगे।”

CKC के बारे में अधिक जानकारी के लिए उनकी वेबसाइट पर जाए।

यदि आपको इस कहानी से प्रेरणा मिली है या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ बांटना चाहते हो तो हमें [email protected] पर लिखे, या Facebook और Twitter (@thebetterindia) पर संपर्क करे।

शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published.